शाह बोले - राहुल बाबा दूरबीन लेकर ढूंढ़ोगे तो भी कांग्रेस की जीत नहीं दिखेगी

शाह बोले - राहुल बाबा दूरबीन लेकर ढूंढ़ोगे तो भी कांग्रेस की जीत नहीं दिखेगी

KRISHNAKANT SHUKLA | Publish: May, 05 2018 08:21:36 AM (IST) Bhopal, Madhya Pradesh, India

शाह - राहुल जीत को लेकर शेखचिल्ली जैसे सपने देख रहे

भोपाल. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने शुक्रवार को राहुल गांधी को चुनौती दी कि वे दूरबीन लेकर ढूंढेंग़े तो भी कांग्रेस की विजय कहीं नहीं दिखेगी। वे सत्ता में आने के लिए शेखचिल्ली जैसे सपने देख रहे हैं। केंद्र में जब से मोदी सरकार आई है, तब से अब तक 14 राज्यों में भाजपा ने सरकार बनाई है।

कर्नाटक 15वां राज्य होगा। उन्होंने दवा किया कि मध्यप्रदेश में उनकी पार्टी की सरकार बनेगी। भाजपा को हराने का दम कांग्रेस में नहीं है। भाजपा के जिला, मंडल अध्यक्ष, विधायक और सांसदों को चुनाव में जीत का मंत्र देने आए शाह ने कहा, कांग्रेस देश में विभाजन की राजनीति कर जातियों को बांटने का काम कर रही है।

प्रधानमंत्री पिछड़े वर्ग के लिए बिल लेकर आए थे, लेकिन राज्यसभा में दिग्विजय सिंह और कांग्रेस के दूसरे नेताओं ने अड़ंगा लगा कर उसे रुकवा दिया। कांग्रेस पिछड़ा वर्ग का भला नहीं चाहती है। शाह ने कहा, दुनिया भर में हिन्दू धर्म को बदनाम करने का काम कांग्रेस ने किया है।

कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद का आरोप लगाकर कुछ लोगों को जेल में डाल दिया, लेकिन हैदराबाद की कोर्ट से सच बाहर आया और सभी बरी हुए। शाह ने कहा कि कांग्रेस चुनाव आयोग, सुप्रीम कोर्ट और उपराष्ट्रपति जैसी संवैधानिक शक्तियों पर झूठे आरोप लगाने और उनको नीचा दिखाने का काम कर रही है। पूर्व सीएम बाबूलाल गौर को शाह के पहुंचने के दो मिनट पहले मंच पर कोने की कुर्सी दी गई। बाद में यह कुर्सी केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान को दे दी गई।

शाह बोले....
कांग्रेस पिछड़ा वर्ग का भला नहीं चाहती है। शाह ने कहा, दुनिया भर में हिन्दू धर्म को बदनाम करने का काम कांग्रेस ने किया है। कांग्रेस ने हिन्दू आतंकवाद का आरोप लगाकर कुछ लोगों को जेल में डाल दिया, लेकिन हैदराबाद की कोर्ट से सच बाहर आया और सभी बरी हुए। शाह ने कहा कि कांग्रेस चुनाव आयोग, सुप्रीम कोर्ट और उपराष्ट्रपति जैसी संवैधानिक शक्तियों पर झूठे आरोप लगाने और उनको नीचा दिखाने का काम कर रही है।

गौर के लिए तय नहीं था स्थान : पूर्व सीएम बाबूलाल गौर को शाह के पहुंचने के दो मिनट पहले मंच पर कोने की कुर्सी दी गई। केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान पहुंचे तो उन्हें पीछे कर प्रधान को उनकी सीट दे दी गई।

शाह के निर्देश पर देर शाम चुनाव प्लान पर चर्चा
भाषण खत्म होने के बाद शाह ने कोर ग्रुप के सदस्यों से कहा कि वे कांग्रेस के स्थानीय नेताओं को कोसने की बजाय अपनी लाइन बड़ी करें। उनके निर्देश पर चुनाव प्रबंधन समिति और कोर गु्रप ने रात को सीएम हाउस में चुनाव प्लान पर चर्चा की। इससे पहले कार्यसमिति बैठक में रामलाल ने ५0त्न वोट हासिल करने का लक्ष्य रखा।

सीएम बोले, कांग्रेस फैला रही भ्रम
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा, कांग्रेस लाशों पर राजनीति करना जानती है। मृतक किसानों के घर कलश लेकर जा रही है। ये भ्रम फैलाना चाहते हैं। जो सोने की चम्मच लेकर पैदा हुए, गरीबी देखी नहीं वो गरीबों की क्या चिंता करेंगे।

कमलनाथ कॉरपोरेट घराने के प्रियपात्र
शाह ने कमलनाथ पर तंज कसते हुए कहा, कांगे्रस ने कॉरपोरेट घराने के प्रिय पात्र को अध्यक्ष बनाया है। अब कॉरपोरेट और किसान के बीच लड़ाई है। वे राजा-महाराजाओं को लेकर उतरे हैं। यहां पार्टी अंगद के पांव की तरह है। एंटीइनकमबैंसी का डर उसे होता है, जो सत्ता का सुख भोगते हैं। हमें कोई डर नहीं है। शाह पिछले साल दो सौ पार का नारा देकर गए थे, जो इस बार भाषण से गायब रहा। उन्होंने लोकसभा में सभी २९ सीटें जीतने की बात कही, पर विधानसभा के लिए कहा, मार्जिन इतना बड़ा होना चाहिए कि दुश्मनों के दिल हिल जाएं।

दिखाए काले झंडे
शाह के स्टेट हैंगर लौटते समय चेतक ब्रिज के पास शिवसेना कार्यकर्ताओं ने काले झंडे दिखाए। वे नरेश अग्रवाल को भाजपा में आने का विरोध कर रहे थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned