गूंजे जयकारे, पालने में झूले भगवान महावीर

पर्युषण पर्व में मनाया भगवान महावीर का जन्मोत्सव

By: Rohit verma

Published: 08 Sep 2021, 01:28 AM IST

भोपाल. राजधानी के श्वेताम्बर जैन मंदिरों में इन दिनों पर्युषण आराधना चल रही है। पर्युषण पर्व में मंगलवार को भगवान महावीर स्वामी का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। आदिनाथ जैन मंदिर तुलसी नगर में भगवान आदिनाथ की रजतमयी प्रतिमा का अभिषेक कर विधि विधान से धार्मिक अनुष्ठान हुए। अध्यक्ष वीरेन्द्र कोठारी ने बताया कि भगवान को चांदी की पालकी पर विराजमान कर श्रद्धालुओं ने झूला झुलावन की क्रियाएं की। इसी प्रकार मूर्तिपूजक संघ ट्रस्ट की ओर से श्वेताम्बर जैन मंदिर मारवाड़ी रोड में जन्मोत्सव पर खुशियां मनाई गई। अध्यक्ष राजेश तातेड़ ने बताया कि भगवान महावीर की भक्ति में भजन गाते हुए श्रद्धालुओं ने भक्ति नृत्य किए।

सेवा कार्य करने वालों का किया सम्मान
पर्युषण पर्व के मौके पर चन्द्रप्रभु जिनालय पिपलानी में सेवा कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं का सम्मान किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा, विधायक रामेश्वर शर्मा ने भगवान महावीर के चित्र के समक्ष दीप प्रज्जवलित कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इस दौरान आशापुरा दरबार के ललित तातेड़, राहुल कोठारी, डॉ नितिन नाहर, डॉ शैलेष लुनावत, रितेश भंडारी, कपिल झावक आदि को सम्मानित किया गया।

बच्चों ने किया मुनिसंघ का पाद प्रक्षालन
राजधानी के चौक जैन मंदिर में मुनि संभव सागर का चातुर्मास हो रहा है। इसी के तहत सुपाŸवनाथ जैन मंदिर समिति की ओर से चल रही पाठशाला के बच्चों द्वारा मुनिसंघ के दर्शन कर पाद प्रक्षालन किया। मंदिर समिति के अध्यक्ष सुनील जैनाविन ने बताया कि पाठशाला प्रभारी ज्योति जैन के नेतृत्व में बच्चों ने मंगलाचरण कर पूजा अर्चना की और मुनि संघ का आशीर्वाद लिया। इस मौके पर संस्कार जैन, संस्कृति जैन, शुभ जैनाविन सहित अन्य उपस्थित थे।

251 दीपों से की महाआरती, 51 किलो बूंदी का लगाया भोग
मंगलवार शाम राजधानी के होशंगाबाद रोड स्थित संकट मोचन हनुमान मंदिर में निरंतर 51वें मंगलवार को 51 किलो बूंदी का भोग लगाकर कोरोना के खात्मे के लिए विशेष पूजा-अर्चना कर महाप्रसादी का वितरण किया गया। मंदिर के पुजारी पंडित रत्नेश शास्त्री ने बताया कि लॉकडाउन के बाद से ही निरंतर मन्दिर में प्रति मंगलवार कोरोना के खात्मे के लिए विशेष पूजा-अर्चना और बूंदी का भोग लगाया जा रहा है।

51वें मंगलवार के श्रद्धालुओं ने 251 दीपों से महाआरती कर पंचमुखी हनुमान को बूंदी का भोग लगाया गया। पंडित शास्त्री ने आगे बताया कि कहा कि विश्व में आई कोरोना जैसी महामारी के खात्मे के लिए मंदिर में लगातार पूजा अर्चना और विशेष अनुष्ठानों का आयोजन भी समय-समय पर किया जा रहा है।

Rohit verma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned