इंटरकास्ट मैरिज के नाम पर धोखा खाने वालों के लिए अच्छा है लव जिहाद कानूनः कंगना

एक्ट्रेस कंगना रनौत ने कहा प्यार में बहला-फुसलाकर धर्म परिवर्तन करने वालों के लिए है लव जिहाद कानून

By: Hitendra Sharma

Published: 09 Jan 2021, 05:44 PM IST

भोपाल. फिल्म धाकड़ की शूटिंग के लिए भोपाल आईं एक्ट्रैस कंगना रानौत की मध्य प्रदेश की पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर से मुलाकात हुई। मंत्री उषा ठाकुर अभिनेत्री कंगना रनौत को सम्मनित करने शौकत महल पहुंची थी। शौकत महल में फिल्म धाकड़ की शूटिंग चल रही थी।

पर्यटन मंत्री ने बताया बहादूर बेटी
पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने शनिवार को भोपाल में शौकत महल में फिल्म अभिनेत्री कंगना को सम्मानित किया। उन्होंने कंगना की जमकर तारीफ की। ठाकुर ने कहा कि पूरे देश को गर्व है कि हमारे यहां ऐसी बहादुर बेटियां हैं और हर फील्ड में हैं। मैं आपका अभिनंदन करती हूं। ऐसी बहादुर बिटियां को मध्यप्रदेश सैल्यूट करता है। वे हमीद मंजिल में कंगना की फिल्म धाकड़ की शूटिंग के शुभारंभ के मौके पर पहुंची थीं।

गैंगरेप जैसे मामलों में एग्जाम सेट करना होंगे
बच्चियों-महिलाओं के साथ होने वाले अपराध पर कंगना ने कहा कि इसे लेकर मेरे स्ट्रॉन्ग विचार हैं। कई बार मेरे इन विचारों से लोग समहत नहीं होते। कंट्रोवर्सी हो जाती है। हमारे कानून दकियानूसी और पुरानी व्यवस्था पर आधारित है, जिसमें चीजें फाइलों में कैद होकर रह जाती है। केस पूरा होने में सालों लग जाते हैं। पुलिस और कानून विक्टिम का सबसे ज्यादा शोषण करती है। क्योंकि बर्डन ऑफ प्रूफ महिलाओं पर होता है। उसने बताना पड़ता है कि अपराध के समय आरोपी का हाथ उसके शरीर पर कहा था। लोग पुलिस में जाने से बचते हैं। अधिकांश केस में अपराधी छूट जाते हैं। मुझे लगता है कि हमारे देश में भी सऊदी अरब की तरह सख्त कानून होना चाहिए। वहां महिलाओं पर अत्याचार करने वालों को चौराहे पर लटका दिया जाता है। हमें खासकर गैंगरेप जैसे मामलों में पांच-छह एग्जाम सेट करने होंगे। अभी एक तरफा प्रेम प्रसंग जैसे मामलों में भी लोग खुन्नस निकालने के लिए भी ऐसी हरकते करते हैं।

राजनीति में जाने का इरादा नहीं
राजनीति में आने के कंगना ने मंत्री ऊषा ठाकुर की तरफ इशारा करते हुए कहा कि इस फील्ड में आगे आने के लिए संघर्ष किया है। इसलिए ये यहां तक पहुंची हैं। मैंने भी अपनी फील्ड में यहां तक पहुंचने के लिए संघर्ष किया है। अभी मुझे यहां की बहुत ऊंचाइयों तक पहुंचना है। लॉकडाउन के बाद ओटीटी प्लेटफॉर्म के बढ़ते रूझान पर उन्होंने कहा कि हमारा थिएटर १६वीं शताब्दी के बाद बहुत ही बदल गया है और ये लगातार अपग्रेड होता जा रहा है। सिनेमाघरों की बात करूं तो ये थ्री-डी, एक्शन और रियल एक्सीपीरियंस वाली फिल्मों के लिए होगा। लोग पिकनीक मनाने की तरह विजुअल एक्सपीरियंस लेने आते रहेंगे। ओटीटी ने नए कलाकारों को एक्सप्लोर होने का मौका दिया है। इस पर कॉन्सेप्ट बेस्ड काम हो रहा है। फिल्म पंगा की शूटिंग के करीब दो साल भोपाल आईं कंगना ने कहा कि ये शहर पेट्रेयोटिक नहीं वेल मैनेज्ड शहर है। ऐसा लगता ही नहीं कि ये शहर नौ माह तक बंद था। इस शहर ने जल्द ही रिकवर किया है।

photo_2021-01-09_17-39-51.jpg

भोपाल शूट के लिए फ्रेंडली जगह
कंगना ने भोपाल की तारीफ़ करते हुए कहा दो साल पहले फिल्म पंगा की शूटिंग के लिए वो भोपाल आई थीं। कोरोना के बाद शूटिंग एक अलग चैलेंज है और उन्होंने मध्यप्रदेश में भी पहले कईं फ़िल्में शूट की है। मुझे लगता है यह जगह सबसे शूटिंग फ्रेंडली है। जैसा की भोपाल के बारे में कहा जाता है की यह सिटी ऑफ लेक्स है मुझे वापस आकर लगा ही नहीं की यह शहर कभी बंद हुआ था। कोरोना को ध्यान में रखते हुए बहुत सारी चीजें खुल भी गई है जो अच्छी बात है।

Show More
Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned