हनी ट्रैप रैकेट का मास्टर माइंड कोन/ खूबसूरती और मास्टर माइंड के पीछे छुपा था शातिर दिमाग, अश्लील वीडियो बनाकर बदल देती थीं शहर और ठिकाना

हनी ट्रैप रैकेट का मास्टर माइंड कोन/ खूबसूरती और मास्टर माइंड के पीछे छुपा था शातिर दिमाग, अश्लील वीडियो बनाकर बदल देती थीं शहर और ठिकाना
खूबसूरती के पीछे छुपा था शातिर दिमाग, अश्लील वीडियो बनाकर बदल देती थीं शहर और ठिकाना

Faiz Mubarak | Updated: 21 Sep 2019, 04:07:22 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

हनीट्रेप कैस में पकड़ी गई महिलाएं जितनी खूबसूरत थीं, उतनी ही शातिर दिमाग भी थीं। बड़े ही शातिराना ढंग से अपने काम को अंजाम देकर ये तुरंत अपना ठिकाना बदल देती थीं, ताकि इन्हें पकड़ा ना जा सके और ये अपने काम को निर्णायक रूप से अंजाम दे सकें।

 

 

 

भोपाल/ मध्य प्रदेश के बहुचर्चित हनीट्रैप मामले ने देशभर की राजनीति में भूचाल खड़ा कर दिया है। अब तक हुई छह महिलाओं की गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में रोज़ाना चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं। जैसे जैसे पुलिस जांच आगे बढ़ रही है, वैसे वैसे नए नए कांडों के खुलासे हो रहे हैं। पकड़ी गई महिलाओं से पूछताछ में सामने आया कि, ये महिलाएं जितनी खूबसूरत थीं, उतनी ही शातिर दिमाग भी थीं। बड़े ही शातिराना ढंग से अपने काम को अंजाम देकर ये तुरंत अपना ठिकाना बदल देती थीं, ताकि इन्हें पकड़ा ना जा सके और ये अपने काम को निर्णायक रूप से अंजाम दे सकें।

 

पढ़ें ये खास खबर- Depression के मामले में नंबर-1 है MP, आत्महत्या के आंकड़े जानकर हैरान जाएंगे आप


शिकार बनाकर बदल देतीं थीं ठिकाना

पुलिस की पूछताछ में इन महिलाओं ने कबूल किया कि, किसी भी व्यक्ति को अपना शिकार बनाने का इनका तरीका तो शातिराना था ही, अपने काम में सफल होने के बाद ये तुरंत ही अपना ठिकाना बदल देती थीं। कई बार तो इन्होंने शहर भी बदल दिया। ये शातिर महिलाएं ऐसा इसलिए करती थीं क्योंकि, इनके निशाने पर कई दिग्गज नाम थे, जो खुद का बचाव कराने के लिए कुछ भी करा सकते थे। कई लोगों के हाथों में सरकारी तंत्र भी, जिसके दम पर कोई भी रिएक्शन होना मुम्किन था। जैसे ही इनमें से किसी का मोटा हाथ पड़ता, तो तुरंत ही अपना घर या शहर बदल लेती थीं। हालांकि, फिर नया मकान पॉश इलाके में ही लेती थीं, ताकि इनका रसूख आसानी से किसी को भी दिख सके।

खूबसूरती के पीछे छुपा था शातिर दिमाग, अश्लील वीडियो बनाकर बदल देती थीं शहर और ठिकाना

बीजेपी विधायक के घर से हुई गिरफ्तार श्वेता

इन शातिर ब्लैकमेलर महिलाओं में से एक श्वेता जैन को पुलिस और इंटेलिजेंस की संयुक्त टीम ने भोपाल की सबसे पॉश कॉलोनी रिवेरा टाउन से ही गिरफ्तार किया है, उसने हाल ही में अपना मकान चेंज किया था। श्वेता ने इस बार किराये पर जो मकान लिया था, वो पूर्व मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह का था, जिसका किराया प्रतिमाह 35 हजार रुपये के हिसाब से तय किया गया था। विधायक बृजेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि, उन्होंने श्वेता को अपना मकान ब्रोकर के माध्यम से किराए पर दिया था। उन्होंने बताया कि, 'इससे पहले भी उस मकान में एक जैन परिवार रहता था, जिनका स्वभाव एक किरायदार के नाते काफी अच्छा था। यही कारण है कि, श्वेता जैन को मकान किराय पर देने से पहले मेने ज्यादा छानबीन नहीं की।'

 

पढ़ें ये खास खबर- फिर बड़े हनीट्रेप का खुलासा, सेना पहले ही कर चुकी है अलर्ट


कई लोगों को दूसरे शहर में बना चुकी है अपना शिकार

हनीट्रैप के जाल में फंसाने वाली इंदौर में पकड़ी गई एक और शातिर महिला आरती दयाल मूल रूप से प्रदेशके छतरपुर जिले की रहने वाली है। मिली जानकारी में सामने आया है कि, भले ही इसे पुलिस और इंटेलिजेंस की संयुक्त टीम ने इंदौर से गिरफ्तार किया है , लेकिन ये महिला छतरपुर में कई लोगों को हनीट्रैप के जाल में फंसा चुकी है। छतरपुर की कई नामी हस्तियों को अपना शिकार बनाने के बाद आरती ने भोपाल को अपना ठिकाना बनाया था, यहां इसने कई नेताओं, अफसरों और व्यापारियों को अपना शिकार बनाया। फिलहाल, पुलिस को उम्मीद है कि जांच आगे बढ़ने पर कई और खुलासे होंगे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned