भारत से पंगा लेकर फंसा पाकिस्तान, 300 रुपये किलो बिक रहे टमाटर, MP के इन जिलों से होती है सप्लाई

Madhya pradesh: टमाटर के लिए तरस रहे पाकिस्तानी मध्यप्रदेश के टमाटर को खाकर थे लाल

By: Muneshwar Kumar

Updated: 10 Aug 2019, 06:47 PM IST

भोपाल. धारा-370 ( Article 370 ) के हटने के बाद पाकिस्तान ( Pakistan ) ने भारत से व्यापारिक रिश्ते खत्म कर लिए हैं। लेकिन व्यापारिक समझौते तोड़ने के बाद पाकिस्तान टमाटर के लिए तरसने लगे। मांग पूरी नहीं होने की वजह से कंगाल पाकिस्तान के बाजार में 300 रुपये किलो टमाटर ( Tomato price ) बिक रहे हैं। लेकिन बहुत कम लोगों को यह जानकारी होगी कि पाकिस्तान में मध्यप्रदेश से टमाटर की सप्लाई होती है। मध्यप्रदेश का टमाटर खाकर ही पाकिस्तान लाल होता है।

 

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाकिस्तान में 300 रुपये किलो टमाटर बिक रहे हैं। पाकिस्तान अब टमाटर के लिए तरस रहा है। पुलवामा हमले के दौरान भी पाकिस्तान को मध्यप्रदेश के किसानों ने सबक सिखाया था। मध्यप्रदेश के जिन जिलों में सबसे ज्यादा टमाटर का उत्पादन होता है, वहां के किसानों ने पाकिस्तान को टमाटर भेजने से इनकार कर दिया था।

tomato

 

उन किसानों के इस फैसले का स्वागत मध्यप्रदेश के सीएम कमलनाथ ने भी किया था। सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर कहा था कि पुलवामा हादसे व आतंकी घटनाओं के विरोध में झाबुआ जिले के पेटलावद तहसील के किसान भाइयों द्वारा अपने मुनाफ़े की परवाह ना कर पाकिस्तान टमाटर नहीं भेजने के निर्णय को सलाम करता हूं, देशभक्ति से भरे इस जज़्बे की प्रशंसा करता हूं।

tomato

 

इन जिलो में जाता है टमाटर
मध्यप्रदेश के कई जिलों टमाटर का खूब उत्पादन होता है। यहां की मंडियों से यह टमाटर दिल्ली और मुंबई जाता है। उसके बाद वहां से पाकिस्तान पहुंचता है। राज्य के रतलाम, झाबुआ, खरगोन, शाजापुर और धार जिले में टमाटर का उत्पादन सबसे ज्यादा होता है। इन्हीं जिलों का टमाटर पाकिस्तान पहुंचता है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार व्यापारिक संबंध टूटने के बाद भारत से टमाटर की सप्लाई पाकिस्तान में नहीं हो रही है। पहले हर दिन करीब पचास से सौ ट्रक टमाटर पाकिस्तान जाता था।

tomato

 

पाकिस्तानियों को पसंद है पेटलावद का टमाटर
पाकिस्तान के लोगों को मध्यप्रदेश के पेटलावाद का टमाटर सबसे ज्यादा पसंद है। यहां टमाटर की अच्छी उत्पादन होती है। यहां के टमाटर चटक लाल रंग के होते हैं। इन टमाटर के खट्टे-मीठे स्वाद की वजह से इसे पाकिस्तान में खूब पसंद किया जाता है। एक टमाटर का वजन 50 से 150 ग्राम का होता है। साथ ही दूसरे जगह के लिए यह अनुकूल होता है।

tomato

 

ऐसे पहुंचता है टमाटर
बताया जाता है कि मध्यप्रदेश के पेटलावाद से टमाटर पर दिल्ली मंडी पहुंचता है। यहां से पठानकोट के रास्ते ट्रक से पाकिस्तान भेजाता है। लेकिन अभी वहां हिंदुस्तान से टमाटर की सप्लाई नहीं हो रही है। अगर ज्यादा दिनों तक टमाटर वहां नहीं पहुंचा तो पाकिस्तान टमाटर खाने के लिए तरसेगा।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned