सीएम शिवराज से बिना मास्क लगाए मिले थे कई मंत्री, बड़े खतरे की आशंका

कई मौके तो ऐसे थे, जहां मंत्री बिना मास्क के सीएम के साथ देखे गए। स्वास्थ विषेशज्ञों की माने तो, इस दौरान होने वाली एक जरा सी चूक सीएम के बाद कई दिग्गजों पर भी भारी पड़ सकती है।

By: Faiz

Published: 26 Jul 2020, 04:40 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में तेजी से पैर पसार रहे कोरोना वायरस ने सूबे के मुखिया शिवराज सिंह चौहान भी अपनी चपेट में ले लिया है। फिलहाल, मुख्यमंत्री का इलाज राजधानी के चिरायु अस्पताल में चल रहा है, जहां उनकी हालत स्थिर है। हालांकि, बड़ी चिंता का विषयये है कि, इन दिनों कैंबिनेट मीटिंग, कोरोना समीक्षा बैठकें और उपचुनाव को लेकर सीएम काफी व्यस्थ रहे। इस दौरान वो मंत्रियों से सबसे ज्यादा संपर्क में आए। कई मौके तो ऐसे थे, जहां मंत्री बिना मास्क के सीएम के साथ देखे गए। स्वास्थ विषेशज्ञों की माने तो, इस दौरान होने वाली एक जरा सी चूक सीएम के बाद कई दिग्गजों पर भी भारी पड़ सकती है।

 

पढ़ें ये खास खबर- 10 दिनों में सैकड़ों लोगों के संपर्क में आए संक्रमण का शिकार शिवराज, शक के दायरे में कई दिग्गज


टंडन की अंत्येष्टि में गए थे लखनऊ

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान राज्यपाल लालजी टंडन के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए प्रदेश के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष विष्णु दत्त शर्मा और प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत के साथ 21 जुलाई को लखनऊ प्रवास पर गए थे। वहां से लौटने के बाद कैबिनेट मंत्री भदौरिया कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

 

पढ़ें ये खास खबर- RSS प्रांत सेवा प्रमुख योगेंद्र सिंह योगी का कोरोना वायरस से निधन, आज होगा अंतिम संस्कार


शुक्रवार शाम से चलनी शुरु हुई थी खांसी

चौहान के पारिवारिक सूत्रों की मानें तो उन्हें शुक्रवार शाम को मंत्रालय से लौटने के बाद मुख्यमंत्री को कुछ असहज देखा गया था। इसके बाद उन्हें हल्की खांसी भी शुरु हो गई, जिसके बाद उन्होंने डॉक्टर से परामर्श किया और कोरोना वायरस की जांच के लिए सैंपल दिया। शनिवार सुबह 11 बजे उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद चिरायु अस्पताल से जारी हेल्थ बुलेटिन में कोरोना की पुष्टि हुई साथ ही, उनका स्वास्थ स्थिर बताया गया।

 

पढ़ें ये खास खबर- MP Corona Update : 26210 पहुंचा मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, अब तक 791 ने गवाई जान


भदौरिया से संक्रमण की आशंका

मुख्यमंत्री के नजदीकी सूत्रों की मानें तो, शिवराज से पहले उन्हीं की कैबिनेट के सहकारिता मंत्री अरविंद भदौरिया के संपर्क में आने से मुख्यमंत्री कोरोना की चपेट में आए हैं। मध्य प्रदेश के सरकारी विमान से लखनऊ जाते समय शिवराज सिंह चौहान प्रदेशाध्यक्ष शर्मा दाहिनी ओर आमने-सामने बैठे थे। वहीं, बाईं ओर मंत्री भदौरिया और भाजपा के प्रदेश संगठन महामंत्री सुहास भगत आमने-सामने बैठे थे, लेकिन लखनऊ में जब मीडिया ने मुख्यमंत्री से संवाद किया तब उनके ठीक बाजू में भदौरिया ही खड़े थे। माना जा रहा है कि, भदौरिया के साथ ही सीएम का सबसे अधिक समय बीता है। फिलहा, मंत्री भदौरिया भी कोरोना पॉजिटिव होने के बाद चिरायु अस्पताल में स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- MPBSE MP board 12th result 2020 date : 27 जुलाई को आएगा 12वीं कक्षा का रिजल्ट, आदेश जारी


होनी थी जनप्रतिनिधियों से मुलाकात

मुख्यमंत्री चौहान ने शनिवार को भी जनप्रतिनिधियों से अपनी मुलाकात समेत अन्य कार्यक्रम तय थे। मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक दोपहर तीन बजे मुख्यमंत्री मंत्रालय में कई विधायकों समेत अन्य कई नेताओं से मुलाकात होनी थी। शाम चार बजे कोरोना की समीक्षा बैठक आयोजित थी। सवा पांच बजे से राज्य ग्रामीण सड़क कनेक्टिविटी योजना की निरंतरता को लेकर बैठक होनी थी। चौहान शाम सवा छह बजे मुख्यमंत्री कार्यालय के सारे अधिकारियों से चर्चा होनी थी।

 

पढ़ें ये खास खबर- शिवराज हुए कोरोना पॉजिटिव तो दिग्विजय ने कसा तंज, कहा- क्या पुलिस आप पर भी दर्ज करेगी केस?


कई मंत्रियों ने बिना मास्क की थी सीएम से मुलाकात

गुरुवार और शुक्रवार दो दिनों तक मुख्यमंत्री ने प्रदेश के मंत्रियों के साथ वन-टू-वन बात की। इस दौरान कई मंत्री ऐसे थे, जिन्होंने मास्क तो पहने थे, लेकिन मुलाकात के दौरान नीचे कर दिए थे। इस मुलाकात में मुख्यमंत्री ने भी अपना मास्क नीचे कर रखा था। सीएम से मुलाकात के वक्त कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा, विश्वास सारंग, बृजेंद्र प्रताप सिंह, तुलसीराम सिलावट, कमल पटेल, भारत सिंह कुशवाहा, इंदर सिंह परमार, दत्तीगांव ने मास्क की गाइडलाइन का पालन नहीं किया था। वहीं, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने बातचीत के दौरान मास्क लगाए हुए थे, लेकिन बातचीत के दौरान उन्होंने भी अपना मास्क नीचे कर दिया था। मंत्री हरदीप सिंह डंग और डॉ. मोहन यादव दो मंत्री ऐसे थे, जिन्होंने बातचीत के दौरान पूरे वक्त मास्क लगाए रखा था।

 

पढ़ें ये खास खबर- पेट के कीड़े मारने वाली ये दवा कर रही है कोरोना वायरस को 'किल', यहां तेजी से ठीक हो रहे मरीज


कई मंत्री और अधिकारियों ने खुद को किया क्वारंटाइन

मुख्यमंत्री के संक्रमित होने के बाद कई मंत्रियों, विधायकों, नेताओं सहित अधिकारियों ने खुद को क्वारंटाइन कर लिया है। मुख्यमंत्री से प्रमुख सचिव मनीष रस्तोगी ने शुक्रवार को देर शाम तक फाइलें मंजूर कराई थीं। लिहाजा, वे मंत्रालय से घर चले गए हैं और होम क्वारंटाइन हो गए हैं। इसी तरह मुख्यमंत्री के सचिव एम सेल्वेंद्रन, उप-सचिव मनीष पांडे भी होम क्वारंटाइन हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि, शिवराज सिंह चौहान संक्रमित होने वाले देश के पहले मुख्यमंत्री हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned