दूध के नाम पर बाज़ार में बिक रहा है ज़हर, इस तरह असली और नकली की करें पहचान

दूध के नाम पर बाज़ार में बिक रहा है ज़हर, इस तरह असली और नकली की करें पहचान

Faiz Mubarak | Publish: Aug, 08 2019 11:34:57 AM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

-दूध से सेहत को फायदे और मिलावट के नुकसान
-इस तरह करें दूध में डिटर्जेंट टेस्ट
-इस तरह करें दूध में सिंथेटिक टेस्ट
-इस तरह करें दूध में स्‍टार्च टेस्ट
-इस तरह करें दूध में पानी का टेस्ट


भोपालः सीएम कमलनाथ ( CM kamalnath ) के आदेश के बाद अलर्ट मोड ( alert mode ) पर आए खाद्य मध्य प्रदेश के बड़े छोटे सभी शहरों में दूध में बने सभी डेरी प्रॉडक्ट की जांच करनी शुरु कर दी है। इस छापेमारी में लगभग हर शहर से मिलावटी दूध के सेंपल्स भी सामने आए। खाद्य विभाग ( food department ) की अब तक की कार्रवाई में सामने आया कि, प्रदेश में बड़े पैमाने पर नकली और सिंथेटिक दूध ( synthetic milk ) का कारोबार चल रहा है। इसी दूध से सभी डेरी प्रॉडक्ट और मिठाइयां ( sweet ) बनाई जा रही हैं, जिनका उपयोग लोगों की सेहत के लिए बेहद खतरनाक है।


दूध से सेहत को फायदे और मिलावट के नुकसान

दूध का सेवन स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद ( health benifit ) होता है। इससे शरीर को ताकत मिलती है, साथ ही इसमें मौजूद कैल्शियम हमारी हड्डियों की मज़बूती बढ़ाता है। ये बात तो हम जानते ही हैं कि, दूध में कैल्शियम के साथ साथ हर गुण पाया जाता है, जो हमें तंदुरुस्त रखने में महत्वपूर्ण स्थान रखते हैं। दूध में कैल्शियम के अलावा विटामिन , प्रोटीन , नियासिन , फास्फोरस और पोटेशियम भरपूर मात्रा में होता है। हालांकि, ऐसा नहीं कहा जा सकता कि, सरकार की इस कार्रवाई के बावजूद इन नकली दूध बनाने वालों पर पूरी तरह लगाम लग जाएगी। इसलिए अगर हम कुछ चीजों की जानकारी रखें तो असली और नकली दूध ( Fake milk ) की जांच अपने घर में ही कर सकते हैं और अपने परिवार को इस धीमे ज़हर से बचा सकते हैं।

 

पढ़ें ये खास खबर- Increase strength and stamina : शरीर की कमजोरी दूर करके ताकत बढ़ाते हैं ये दाने, इस तरह करें इस्तेमाल


-इस तरह करें दूध में डिटर्जेंट टेस्ट

आजकल एमपी में रोज़ाना मिलावटी दूध के भंडाफोड़ की खबरे देखने को मिल रही हैं। इसमें दूध में मिलावट के साथ साथ सिंथेटिक दूध भारी मात्रा में बाज़ार में बिक रहा है। जांच कर्ताओं के मुताबिक, सिंथेटिक दूध में डिटर्जेंट मिलाया जाता है, जिससे उसे लंबे समय तक संरक्षित रखा जा सके। लेकिन, डिटर्जेंट सेहत को भारी नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आपको भी अपने घर आने वाले कच्चे दूध में डिटर्जेंट की खुशबू आती है, तो इसे प्रमाणित करने के लिए आधे कप दूध में बराबर मात्रा में पानी मिलाएं। इसी किसी स्पून से अच्छे से फेट लें। अगर इसमें झाग बन्ने लगें तो समझ लें कि, दूध में डिटर्जेंट मिला हुआ है।


-इस तरह करें दूध में सिंथेटिक टेस्ट

अगर आपको घर आने वाले दूध की जांच करना है तो दूध को हथेली के बीच किसी हेंडवॉश के रूप में रगड़ें अगर इससे साबुन जैसी प्रवत्ति उभरने लगे तो यह सिंथेटिक दूध हो सकता है। इसके अलावा सिंथेटिक दूध गर्म करने पर हल्‍का पीला हो जाता है। इस प्रकार के दूध का सेवन नहीं करना चाहिए। यह सेहत को काफी नुकसान पहुंचा सकता है।

 

पढ़ें ये खास खबर- हर EMERGENCY में काम आता है ये एक हेल्पलाइन नंबर, हर शख्स अपने फोन में इसे कर ले SAVE

 

-इस तरह करें दूध में स्‍टार्च टेस्ट

खासतौर पर खुले दूध पर भरोसा करना आजकल थोड़ा मुश्किल है। आपूर्ति और ज्‍यादा पैसा कमाने के चक्‍कर में लोग दूध में तरह-तरह की चीजें मिलाते हैं। कई लोग दूध में स्‍टार्च मिलाकर भी बेचते हैं। अगर आपको लगता है कि दूध में स्‍टार्च की मिलावट है तो इसकी जांच की जा सकती है। इसके लिए दूध में कुछ बूदें आयोडीन टिंचर या आयोडीन सॉल्‍यूशन की डालें, अगर दूध का रंग नीला हो जाए तो इसका मतलब दूध मिलावटी है।


-इस तरह करें दूध में पानी का टेस्ट

दूध की कुछ बूंदें किसी सतह पर डालें, इसके बाद सतह को थोड़ा टेढ़ा करें अगर दूध की बूंद धीरे-धीरे ढलान की तरफ जाए और पीछे सफेद लकीर छोड़े तो इसका मतलब इसमें पानी का मिश्रण नहीं है और जब दूध बूंद तेजी से ढलान की तरफ जाए और निशान भी न छोड़े तो इसका मतलब है कि, इसमें पानी मिलाया गया है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned