MPBSE 12th Class result Date : गुरुवार को जारी होगा 12वीं का रिजल्ट, इन बातों का रखें ध्यान

माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश द्वारा कक्षा 12वीं का परिणाम 29 जुलाई गुरुवार की दोपहर 12 बजे घोषित किया जाएगा।

By: Faiz

Updated: 28 Jul 2021, 02:03 PM IST

भोपाल/ माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्य प्रदेश द्वारा कक्षा 12वीं का परिणाम 29 जुलाई गुरुवार की दोपहर 12 बजे घोषित किया जाएगा। एक बार 12वीं के परिणाम घोषित होने के बाद परीक्षार्थी एमपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट mpbse.nic.in या mpresults.nic.in पर अपने स्कोरकार्ड देख और डाउनलोड कर सकते हैं। आपको बता दें कि, मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग ने 12वीं कक्षा का रिजल्ट जारी करने की तारीखों की घोषणा ट्विटर पर की थी।


रिजल्ट जारी होने के बाद छात्र MPBSE की वेबसाइट पर कक्षा 12वीं के स्कोरकार्ड के लिए इन सरल स्टेप्स का पालन कर सकते हैं:

Step 1: आधिकारिक वेबसाइट mpresults.nic.in पर जाएं

Step 2: होमपेज पर उपलब्ध ‘MPBSE कक्षा 12 परिणाम 2021’ लिंक पर क्लिक करें

Step 3: नए पृष्ठ पर, आवश्यक विवरण जैसे रोल नंबर, पंजीकरण संख्या आदि दर्ज करें और लॉग इन करें

Step 4: आपका मध्य प्रदेश कक्षा 12 का परिणाम स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा। इसे जाँचे

Step 5: MPBSE स्कोरकार्ड डाउनलोड करें। यदि आवश्यक हो तो भविष्य में उपयोग के लिए एक प्रिंटआउट लें


उम्मीदवार अपना परिणाम इन वेबसाइटों पर देख सकते हैं:

mpresults.nic.in
mpbse.mponline.gov.in
mpbse.nic.in


ऐप पर भी देख सकते हैं रिजल्ट

छात्रों के पास MPBSE मोबाइल ऐप पर अपना परिणाम देखने का विकल्प भी है। इसे Google Playstore से डाउनलोड कर सकते हैं।


वैकल्पिक मूल्यांकन के आधार पर जारी किए जाएंगे स्कोरकार्ड

बता दें कि, कोरोना की दूसरी लहर के चलते कक्षा 12वीं की सामान्य परीक्षा व्यवस्था को बोर्ड द्वारा रद्द कर दिया गया था। ओपन बुक व्यवस्था से परीक्षा ली गई। साथ ही, वैकल्पिक मूल्यांकन के आधार पर स्कोरकार्ड जारी किए जाएंगे। मूल्यांकन मानदंड के अनुसार परिणाम की गणना कक्षा 10 के सर्वश्रेष्ठ पांच विषयों में छात्रों के प्रदर्शन के आधार पर की गई है। वहीं, जो छात्र अपने परिणामों से असंतुष्ट नहीं होंगे वो सितंबर के महीने में राज्य बोर्ड द्वारा आयोजित की जाने वाली ऑफलाइन परीक्षाओं में शामिल होकर अपने स्कोर में सुधार भी कर सकते हैं।


इस वजह से बदली व्यवस्था

पहले एमपी बोर्ड द्वारा कक्षा 12वीं की परीक्षाएं 30 अप्रैल से शुरू होनी थीं, लेकिन महामारी के कारण परीक्षाएं स्थगित कर दी गईं, जिसके बाद अधिकारियों ने जुलाई के महीने में ऑफलाइन मोड में परीक्षा आयोजित करने के तरीकों पर चर्चा की। हालांकि कोरोना की दूसरी लहर के कारण परीक्षाएं रद्द करनी पड़ीं। जबकि कोरोना की पहली लहर के दौरान एमपी बोर्ड द्वारा कक्षा 12वीं के छात्रों के लिए सभी परीक्षाएं आयोजित करने में कामयाब रहा और परीक्षाओं के आधार पर परिणाम तैयार किया था।

 

महिलाएं हाउस वाइफ से बन रही है बिजनेस वुमन - देखें Video

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned