उल्टी दिशा में दौड़ रहे वाहन, हादसे का डर

उल्टी दिशा में दौड़ रहे वाहन, हादसे का डर

Rohit Prasad Verma | Updated: 28 Apr 2019, 09:35:14 PM (IST) Bhopal, Bhopal, Madhya Pradesh, India

बीआरटीएस: मिसरोद के पास अधूरे सर्विस रोड के कारण लोग गलत साइड में चलाते हैं अपने वाहन

भोपाल/होशंगाबाद रोड. राजधानी भोपाल में होशंबाद रोड पर बने बीआरटीस कॉरिडोर के दोनों ओर आरआरएल तिराहे से मिसरोद तक सर्विस रोड बनाए जाने थे, लेकिन चार साल बाद भी सर्विस रोड का काम पूरा नहीं हो सका है। अधूरे सर्विस रोड के चलते वाहन चालकों को सड़क के एक ओर से दूसरी ओर जाने के लिए एक किलोमीटर से ज्यादा दूरी का चक्कर लगाना पड़ रहा है। वहीं कई वाहन चालक लम्बा चक्कर लगाने से बचने के लिए अपनी जान जोखिम में डालकर रॉग साइड में चलकर सड़क के एक ओर से दूसरी ओर जाते हैं, जिससे हमेशा दुर्घटनाओं का भय बना रहता है।

दरअसल मई 2016 में न्यायलय से बीआरटीएस के दोनों ओर सर्विस रोड में बाधा बन रहे सभी निर्माण कार्य हटाने का आदेश दिया गया था। इसके बाद नगर निगम बीआरटीएस के दोनों ओर आरआरएल से मिसरोद से पहले तक सर्विस रोड बना दिए, पर मिसरोद के आगे करीब एक किमी क्षेत्र में सर्विस रोड का काम लम्बे समय से अधर में है। स्थानीय लोगों का मानना है कि सर्विस रोड बनने से लोगों को अीआरटीएस कॉरिडोर क्रास करने के लिए रॉग साइड नहीं चलना पड़ेगा। इससे सड़क हादसों में भी कमी आएगी।

 

होशंगाबाद रोड स्थित बीआरटीएस पर मिसरोद से भोपाल की ओर जाने वाली सड़क पर पेट्रोल पंप के पास सर्विस रोड शुरू हुए है, वहीं भोपाल से मिसरोद की ओर आने वाली सड़क पर सर्विस रोड मॉल के पास आकर रुक गई है। इसके चलते पेट्रोल पंप की ओर से किसी को मॉल की ओर जाना हो तो उसे एक किमी से ज्यादा लम्बा चक्कर लगाते हुए शनि मंदिर के पास से घूमकर आना पड़ता है।

ज्यादातर लोग इससे बचने के लिए रॉग साइड चलते हुए मिसरोद थाने के सामने से सड़क को क्रास करते हैं, जिससे कई बार वाहन आमने सामने आ जाने के कारण गंभीर हादसे तक हो जाते हैं। इसके बाद भी इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा।

बीआरटीएस के एक तरफ हुआ रख-रखाव
नगर निगम द्वारा बारिश के बाद बीआरटीएस मेंटेनेस का काम तो शुरू किया थ। इसके तहत मिसरोद से वीर सावरकर सेतू और वहां से बागसेवनियां थाने तक बारिश के बाद सड़क पर बने गड्ढों को डामरीकरण कर भर दिया था। इसमें बागसेवनिया से मिसरोद का क्षेत्र मेंटेनेस में छूट गया। इसके चलते करीब 8 किमी की सड़क पर बड़े-बड़े गड्ढे बन गए हैं।

गड्ढों से पटी पड़ी है सड़क
होशंगाबाद रोड पर बीआरटीएस कॉरिडोर में बागसेवनिया थाने के सामने से मिसरोद तक बड़े एवं चौड़े गड्ढों से पट गया है। सड़क के बीचों-बीच कई जगह दो से तीन फीट चौड़े गड्ढे बन गए हैं। इन गड्ढों से गुजरने के दौरान कई बार दोपहिया वाहन अनियंत्रित होकर दुर्घटना ग्रस्त हो जाते हैं। बीते दिनों एक बाइक के सामने अचानक गड्डा आने से बाइक अनियंत्रित होकर डिवायडर से टकरा गई।

इस हादसे में बाइक सवार की पत्नी को सिर में गहरी चोट लग गई थी। ऐसे मामले यहां आए दिन घटित होते रहते हैं। प्रत्यक्षदर्शियों को कहना है कि अक्सर दोपहिया वाहन चालक गड्ढों को देख नहीं पाते, गड्ढे सामने आने पर अचानक ब्रेक लगा देते हैं, जिसके वाहन अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा जाते हैं या वाहन समेत गिर पड़ते हैं। ऐसे में पीछे से तेज रफ्तार से आने वाले चार पहिया वाहनों से हमेश हादसे का डर बना रहता है।

नगर निगम को बीआरटीएस के दोनों ओर के अधूरे सर्विस रोड को जल्द से जल्द पूरा करना चाहिए, खासकर मिसरोद बस्ती की ओर का सर्विस रोड, जिससे लोगों को आने-जाने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।
डॉ. आरके तिवारी, रहवासी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned