scriptOdisha politics revolved around Pandian in 2023 | 2023 में ओडिशा की राजनीति पांडियन के इर्द-गिर्द रही | Patrika News

2023 में ओडिशा की राजनीति पांडियन के इर्द-गिर्द रही

locationभुवनेश्वरPublished: Dec 28, 2023 04:25:46 pm

Submitted by:

Rabindra Rai

वर्ष 2023 में ओडिशा की राजनीति भारतीय प्रशासनिक सेवा (आइएएस) के अधिकारी वीके पांडियन के इर्द-गिर्द रही। पांडियन राज्य के इतिहास में सबसे विवादास्पद नौकरशाहों में से एक बन गए। पांडियन पर सरकार और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजेडी) दोनों पर नियंत्रण हासिल करने का आरोप लगाया गया।

2023 में ओडिशा की राजनीति पांडियन के इर्द-गिर्द रही
2023 में ओडिशा की राजनीति पांडियन के इर्द-गिर्द रही
पांडियन पर सरकार और पार्टी पर नियंत्रण का लगा आरोप
वर्ष 2023 में ओडिशा की राजनीति भारतीय प्रशासनिक सेवा (आइएएस) के अधिकारी वीके पांडियन के इर्द-गिर्द रही। पांडियन राज्य के इतिहास में सबसे विवादास्पद नौकरशाहों में से एक बन गए। पांडियन पर सरकार और मुख्यमंत्री नवीन पटनायक के नेतृत्व वाली सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजेडी) दोनों पर नियंत्रण हासिल करने का आरोप लगाया गया। बीजेडी विधायक और ओडिशा के प्रमुख दैनिक अखबार के संपादक सौम्य रंजन पटनायक को पांडियन का विरोध करने की भारी कीमत चुकानी पड़ी। उन्हें पार्टी से निष्कासित कर दिया गया तथा उनका मीडिया संगठन आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) की जांच के दायरे में आ गया। अंत में सौम्य रंजन पटनायक को दैनिक के संस्थापक संपादक के पद से इस्तीफा देना पड़ा। इसके बाद मामला शांत हुआ।
--
पांडियन को मिला कैबिनेट मंत्री का दर्जा
पांडियन ने 23 अक्टूबर को सिविल सेवाओं से स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति का विकल्प चुना। इसके बाद, उन्हें राज्य की 5टी (परिवर्तनकारी पहल) और नबीन ओडिशा योजना के अध्यक्ष के रूप में नियुक्त किया गया। यह नियुक्ति उनकी सेवानिवृत्ति के कुछ ही घंटों के भीतर की गई, जिससे उन्हें कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिल गया। पांडियन ने 27 नवंबर को बीजेडी का दामन थामा।
--
सोशल मीडिया इन्फ्लुयेंसर को सुविधा देने का आरोप
पांडियन पर 12वीं शताब्दी के श्री जगन्नाथ मंदिर में सोशल मीडिया इन्फ्लुयेंसर कामिया जानी के प्रवेश की सुविधा प्रदान करने के आरोपों को लेकर विवाद में फंस गए। जानी पर गोमांस खाने वाला और गोमांस की खपत को बढ़ावा देने वाला होने का आरोप लगाया गया। हालांकि जानी ने दावा किया है कि वे एक हिंदू हैं और उन्होंने अपने जीवन में कभी न तो गोमांस खाया है और न ही इस बढ़ावा दिया है, लेकिन विपक्षी भाजपा और कांग्रेस ने उन्हें अनुमति देने के लिए पांडियन पर निशाना साधा और लोगों की धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया।
--
जहाज से 220 करोड़ की कोकीन जब्त
इस वर्ष सत्तारूढ़ बीजद और विपक्षी भाजपा के बीच सौहार्द देखने को भी मिला, क्योंकि मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मोदी सरकार के कामकाज को सराहा और उन्हें दस में से आठ अंक दिए। इस वर्ष ओडिशा ने प्रमिला मलिक को विधानसभा की पहली महिला अध्यक्ष बनते देखा। वहीं ओडिशा को रघुबर दास के रूप में नया राज्यपाल भी मिला। ओडिशा में जन्मी राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने भी इस साल अपने गृह राज्य में कम से कम तीन दौरे किए। इस साल राज्य एक बार फिर तब सुर्खियों में आया जब पारादीप बंदरगाह पर एक जहाज से 220 करोड़ रुपए की कोकीन जब्त की गई।
--
रेल हादसा और मंत्री की हत्या सुर्खियों में
वर्ष 2023 को ओडिशा में हुए दुनिया के सबसे घातक ट्रिपल रेल हादसे के लिए याद किया जाएगा। इस साल बालासोर जिले के बहनागा बाजार रेलवे स्टेशन के पास हुए ट्रिपल रेल हादसे में 300 लोगों की जान चली गई और 1,200 से अधिक लोग घायल हो गए। यह घटना दो जून को हुई थी, लेकिन इसके छह महीने बीत जाने के बाद भी इस हादसे का खैफनाक मंजर कोलकाता-चेन्नई मार्ग पर यात्रा करने वाले लोगों के जेहन में अब भी है। इस वर्ष 29 जनवरी को एक पुलिसकर्मी ने कैबिनेट मंत्री नब किशोर दास की हत्या कर दी। हत्या के आरोपी सहायक उप-निरीक्षक (एएसआई) गोपाल दास को गिरफ्तार किया गया और उसपर मुकदमा चल रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो