script नकदी इतनी कि, गिनती से मशीनों में आई खराबी | There was so much cash that machines malfunctioned while counting. | Patrika News

नकदी इतनी कि, गिनती से मशीनों में आई खराबी

locationभुवनेश्वरPublished: Dec 09, 2023 04:05:53 pm

Submitted by:

Rabindra Rai

ओडिशा और झारखंड में शराब बनाने वाली कंपनियों के एक समूह के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई से पूरे देश में तहलका मच गया है। जब्त किए गए नकदी की गिनती संबलपुर और बोलांगीर स्थित दो एसबीआई शाखाओं में की जा रही थी। नकदी की गिनती कठिन काम बन गई है। अधिक संख्या में नोटों की गिनती के कारण मशीनों में खराबी आ गई है। प्रक्रिया के सुचारू संचालन के लिए विभिन्न बैंकों से नोट गिनने की मशीन लाई गई हैं।

नकदी इतनी कि, गिनती से मशीनों में आई खराबी
नकदी इतनी कि, गिनती से मशीनों में आई खराबी
ओडिशा, झारखंड में आयकर विभाग की कार्रवाई से पूरे देश में तहलका
ओडिशा और झारखंड में शराब बनाने वाली कंपनियों के एक समूह के खिलाफ आयकर विभाग की कार्रवाई से पूरे देश में तहलका मच गया है। जब्त किए गए नकदी की गिनती संबलपुर और बोलांगीर स्थित दो एसबीआई शाखाओं में की जा रही थी। नकदी की गिनती कठिन काम बन गई है। अधिक संख्या में नोटों की गिनती के कारण मशीनों में खराबी आ गई है। प्रक्रिया के सुचारू संचालन के लिए विभिन्न बैंकों से नोट गिनने की मशीन लाई गई हैं। आयकर विभाग ने छापेमारी के दौरान विभिन्न स्थानों से बरामद डिजिटल दस्तावेजों के सत्यापन के काम में हैदराबाद के 20 अन्य अधिकारियों को भी लगाया है।
--
नकदी से भरे 20 बैग जब्त
समूह के खिलाफ कार्रवाई शनिवार को भी जारी रखी। आयकर अधिकारियों ने ओडिशा के बोलांगीर जिले के सुदापारा इलाके में देशी शराब निर्माता के घर से नकदी से भरे 20 बैग जब्त किए। बरामद धनराशि की गिनती की जा रही है। अनुमान है कि यह राशि 50 करोड़ रुपए से अधिक है। आयकर विभाग की तलाशी में अबतक 250 करोड़ रुपए से अधिक की बेहिसाब नकदी बरामद की गई है। आयकर विभाग के महानिदेशक संजय बहादुर पिछले तीन दिन से भुवनेश्वर में डेरा डाले हुए हैं। 150 अधिकारी शराब बनाने वाली कंपनियों के समूह के खिलाफ छापेमारी कर रहे हैं।
--
अब कार्यालयों और आवासों की तलाशी
सूत्रों के मुताबिक पश्चिमी ओडिशा में सबसे बड़े देशी शराब निर्माताओं में से एक बलदेव साहू एंड ग्रुप ऑफ कंपनीज से जुड़े हितधारकों की विनिर्माण इकाइयों और परिसरों पर छापेमारी के बाद एजेंसी अब इस समूह से जुड़े सभी व्यक्तियों के कार्यालयों और आवासों की तलाशी ले रही है। छापेमारी की शुरुआत बलदेव साहू इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड की सहायक कंपनी बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड (बीडीपीएल) से हुई। बौध डिस्टिलरी प्राइवेट लिमिटेड का झारखंड के एक कांग्रेस नेता एवं सांसद से कथित संबंध है। यह छापेमारी संबलपुर, राउरकेला, बोलांगीर, सुंदरगढ़ और भुवनेश्वर में की गई।
--
सांसद की हो गिरफ्तारी: मरांडी
इस बीच भाजपा झारखंड इकाई के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू के परिसर से बेहिसाब नकदी की बरामदगी को लेकर उनकी गिरफ्तारी की मांग की है।
--
500 करोड़ तक आश्चर्य नहीं: दुबे
भाजपा नेता निशिकांत दुबे ने कहा कि जो रेड पिछले 3 दिन से चल रही है उसमें 290 करोड़ रुपए की गिनती हो चुकी थी। 8 लॉकर खुलना बाकी हैं। 10 कमरे खुलने बाकी हैं। ये संख्या अगर 500 करोड़ तक चली जाए तो आश्चर्य नहीं होगा। संपत्ति भी हजारों करोड़ की होगी। ये पैसा एक आदमी का नहीं होगा। ये कांग्रेस का पैसा हो सकता है।

ट्रेंडिंग वीडियो