मानसिक रोग से पीडि़त वृद्धा ने केरोसिन छिड़क कर खुद को आग लगाई, मौत

मानसिक रोग से पीडि़त वृद्धा ने केरोसिन छिड़क कर खुद को आग लगाई, मौत

Atul Acharya | Updated: 23 Jul 2019, 06:06:06 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

bikaner crime news- करीब पांच साल से थी मानसिक रूप से बीमार, परिजन पीबीएम अस्पताल के चिकित्सकों से करवा रहे थे उपचार

बीकानेर. जिले के सैरुणा थाना क्षेत्र के माणकरासर गांव में रविवार रात को मानसिक रोग से पीडि़त एक 64 वर्षीय महिला ने स्वयं पर केरोसिन तेल छिड़कर आग लगा ली, जिससे वह गंभीर रूप से झुलस गई। परिजन उसे पीबीएम अस्पताल लेकर पहुंचे, जहां देर रात को इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। हादसे की सूचना मिलने पर सैरुणा थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव को पीबीएम अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। सैरुणा थाना के एएसआई उदयसिंह ने बताया कि माणकरासर निवासी जस्सूनाथ सिद्ध की पत्नी मूलीदेवी (64) करीब पांच साल से मानसिक रोग से पीडि़त थी, उसका बीकानेर के पीबीएम अस्पताल के मानसिक रोग विभाग के चिकित्सकों से इलाज चल रहा था।

 

रविवार रात को घरवाले सो गए तब मूलीदेवी ने खुद पर केरोसिन छिड़कर आग लगा ली, जिससे वह ९० प्रतिशत से अधिक झुलस गई। शोर मचाने पर घर वालों ने उस पर कंबल डालकर आग बुझाई। उसे गंभीर हालत में पीबीएम अस्पताल लेकर आए, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। परिजनों ने उसकी मौत के संबंध में कोई पुलिस कार्रवाई नहीं करवाई और शव बिना पोस्टमार्टम कराए ही ले गए।

 

पहले भी कर चुकी थी आत्महत्या का प्रयास

पुलिस को परिजनों ने बताया कि मूलीदेवी पूर्व में भी आत्महत्या की कोशिश कर चुकी थी। एक बार उसने घर के कमरे में फांसी का फंदा बनाकर झूल गई लेकिन तब परिजनों ने उसे किसी तरह बचा लिया। इसी प्रकार एक बार वृद्धा ने जहर पीने की कोशिश भी की थी तब भी परिजनों ने उसे बचा लिया। लेकिन रविवार रात को वृद्धा ने स्वयं पर केरोसिन डाल कर आग लगा ली जिससे उसकी मौ हो गई।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned