फीस व पुस्तकों में कमीशन का खेल, कमेटी कर रही जांच

फीस व पुस्तकों में कमीशन का खेल, कमेटी कर रही जांच

dinesh swami | Publish: Apr, 26 2019 11:33:54 AM (IST) | Updated: Apr, 26 2019 11:33:55 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

बीकानेर. निजी स्कूलों की ओर से विद्यार्थियों के अभिभावकों से मनमानी फीस वसूली से लेकर किताबों और ड्रेस तक में कमीशन के खेल का खुलासा जल्द होने वाला है।

बीकानेर. निजी स्कूलों की ओर से विद्यार्थियों के अभिभावकों से मनमानी फीस वसूली से लेकर किताबों और ड्रेस तक में कमीशन के खेल का खुलासा जल्द होने वाला है। माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से गठित जांच कमेटी निजी स्कूलों की जांच कर रही है। अभी तक हुई जांच में कई स्कूलों में नए शिक्षा सत्र से फीस बढ़ोतरी, प्रवेश शूल्क वसूलने, मनमानी रेट छपी पुस्तकों को पाठ्यक्रम में शामिल कर कमीशन लेने जैसे कई मामले सामने आ चुके हैं। कमेटी के सदस्य गुरुवार को भी शहर के कई स्कूलों में जांच पड़ताल करने पहुंचे।

 

अभिभावकों की लगातार शिकायतें मिलने पर करीब एक सप्ताह पहले शिक्षा विभाग ने जांच दल गठित किया था। इस दल को निजी स्कूलों में जाकर विद्यार्थियों से वसूली जा रही वास्तविक फीस, पाठ्यक्रम में शामिल किताबों का बाजार मूल्य, नोटबुक और किताबें दुकान विशेष पर ही उपलब्ध है अथवा सामान्य रूप से बाजार में, इन सभी बिन्दुओं की जांच करने के लिए कहा गया।
वेबसाइट पर नहीं बताया मूल्य
कमेटी के एक सदस्य ने बताया कि निजी स्कूलों में एलकेजी, यूकेजी आदि कक्षाओं में किताबों की जांच कर रहे हैं। नियमानुसार वेबसाइट व डिजिटल बोर्ड पर किताबों का नाम, मूल्य, प्रकाशक का नाम देना ज7766रूरी है। कई निजी स्कूलों ने वेबसाइट पर किताबों व प्रकाशक का नाम तो दिया पर मूल्य नहीं बताया है। जांच दल ने इस पर पूछा तो स्कूल प्रबंधन ने मूल्य को प्रकाशक का अधिकार क्षेत्र बताकर पल्ला झाडऩे की कोशिश की।

 

निदेशालय करेगा कार्रवाई
शहर के कई स्कूलों का निरीक्षण चल रहा है। कमेटी दो-चार दिन में इन स्कूलों की जांच पूरी कर लेगी। जांच के बाद इन रिपोर्ट को शिक्षा निदेशालय भेज दिया जाएगा। उसके बाद ही इन स्कूलों पर कार्रवाई हो पाएगी।
मो. इस्माइल, जिला शिक्षा अधिकारी (मुख्यालय), बीकानेर

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned