बीकानेर के 155 हैक्टेयर क्षेत्र में टिड्डियों का धावा

बीकानेर के 155 हैक्टेयर क्षेत्र में टिड्डियों का धावा

Atul Acharya | Publish: Jul, 15 2019 11:48:36 AM (IST) Bikaner, Bikaner, Rajasthan, India

bikaner news- नुकसान: मूंगफली और नरमे की फसल को किया चट, किसानों की नींद उड़ी

 

बीकानेर. राववाला. बीकानेर और जैसलमेर जिले में 155 हैक्टेयर क्षेत्र पर टिड्डियों ने फसल को नुकसान पहुंचाया है। इनमें बीकानेर की पूगल तहसील के चक 2आरएसएम में 70 हैक्टेयर, श्रीकोलायत तहसील में 15 हैक्टेयर, जैसलमेर जिले की पोकरण तहसील में 70 हैक्टेयर क्षेत्र टिड्डी से प्रभावित है।
बीकानेर के सीमावर्ती गांवों में टिड्डी दल ने किसानों की नींद उड़ा रखी है। रविवार को ग्राम पंचायत राववाला क्षेत्र के कई चकों में टिड्डी दल ने तबाही मचाई। चक 1 बीडीवाई में किसान राजेन्द्र सियाग के खेतों में टिड्डियों ने मूंगफली की फसल को चट कर दिया।

 


चक 1 आरडब्ल्यू में मनसाराम कासनियां के खेत में नरमा की फसलों को नुकसान पहुंचाया। चक 3 बीडीवाई में गिरधारीलाल गोदारा के खेत में मूंग की फसलों को नुकसान पहुचाया। दोपहर होने के कारण किसानों को टिड्डी कादेरी से पता चला जिससे ज्यादा नुकसान हुआ है।

 


इस दौरान बज्जू तहसीलदार हरीसिंह शेखावत किसानों के सम्पर्क में रहे तथा पटवारी को मौके पर भेजा। फसल बचाव के लिए खेत में बच्चे, महिला व खेत मालिक थाली बजाकर टिड्डी को उड़ाने का प्रयास कर रहे हैं।

 


हलका पटवारी सीताराम स्वामी ने बज्जू से राववाला पहुंचकर खेतों के फसलों को हुए नुकसान का निरीक्षण किया। टिड्डी को रोकने के लिए बीकमपुर में टिड्डी रोकथाम का केंद्र बना रखा है लेकिन 45 किलोमीटर दूर देर शाम तक राववाला नहीं पहुची जिससे किसानों में भारी रोष है।

 

 

लगातार आ रही टिड्डियां
बज्जू. क्षेत्र में टिड्डियों के आने का क्रम रुकने का नाम नही ले रहा है। रविवार को भलुरी, बिजेरी, तेजपुरा सहित कई गांवों में टिड्डियों ने कई खेतों में नुकसान पहुचाया। क्षेत्र में टिड्डी आने के बाद किसानों का परिवार बर्तनों को बजाकर उड़ाने का प्रयास कर रहे है। वहीं नियंत्रण दल की टीम में सदस्य कम होने से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। उधर, बीकानेर टिड्डी नियंत्रण कार्यालय से दल रवाना हुआ।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned