फिल्म 'नमक हराम' में राजेश खन्ना के रोल से चिढ़ गए थे अमिताभ बच्चन, कमरे में बंद कर उतारा था गुस्सा

By: Shweta Dhobhal
| Published: 13 Aug 2021, 05:51 PM IST
फिल्म 'नमक हराम' में राजेश खन्ना के रोल से चिढ़ गए थे अमिताभ बच्चन, कमरे में बंद कर उतारा था गुस्सा
Rajesh Khanna Amitabh Bachchan

फिल्म 'नमक हराम' में अमिताभ बच्चन चाहते थे कि वो राजेश खन्ना का रोल करना चाहते थे। फिल्म की शूटिंग के दौरान अमिताभ बच्चन ने खुद को कमरे में बंद कर दिया था। जिसके बाद फिल्म निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी ने अमिताभ बच्चन को शूटिंग बंद करे की धमकी दी थी। जानें ये दिलचस्प किस्सा।

नई दिल्ली। हिंदी सिनेमा जगत में कई दिग्गज अभिनेताओं की जोड़ियों ने बड़े पर्दे पर दर्शकों का दिल जीत लिया। जब-जब ये जोड़िया साथ में आती लोगों अपने काम से दीवाना बना डालती। गुज़रे जमाने में अभिनेता राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन की जोड़ी को भी लोगों ने खूब प्यार दिया। राजेश खन्ना और अमिताभ बच्चन की फिल्म आनंद, नसीब, बवर्जी जैसी शानदार फिल्में आज भी दर्शक देखना पसंद करते हैं। इन्हीं में से एक फिल्म 'नमक हराम' भी थी। जिसमें अमिताभ बच्चन और राजेश खन्ना को साथ में देखा गया था। जहां इस फिल्म से अमिताभ के करियर को सातवें आसमान पर पहुंचा दिया। वहीं इसी फिल्म ने काका के स्टारडम को कम दिया। चलिए इस फिल्म से जुड़ा एक किस्सा आपको सुनाते हैं।

असरानी ने बताया 'नमक हराम' से जुड़ा किस्सा

फिल्म 'नमक हराम' में अमिताभ बच्चन चाहते थे कि वो राजेश खन्ना के किरदार को निभाएं। जिसके लिए उन्होंने खुद को कमरे में भी बंद लिया था। इस बात का खुलासा असरानी ने एक इंटरव्यू में किया। असरानी ने फिल्म 'नमक हराम' को लेकर इंटरव्यू में कहा था कि 'फिल्म ऋषिकेश मुखर्जी ने फिल्म की शूटिंग से पहले दोनों ही अभिनेताओं को अपना-अपना किरदार चुनने को कहा था।

कहानी के मुताबिक अंत में एक किरदार मर जाता है। उन दिनों जो अभिनेता फिल्म के अंत में मर जाता था। उसकी छाप दर्शकों के दिलों में छप जाती थी।'

 

यह भी पढ़ें- अमिताभ बच्चन को नीचा दिखाने के लिए ऋषि कपूर ने की थी ऐसी हरकत, लंबे समय तक चली कोल्ड वॉर

 

राजेश खन्ना का रोल करना चाहते थे अमिताभ बच्चन

असरानी आगे बतातें है कि 'राजेश खन्ना ने वही रोल चुना जिसमें किरदार फिल्म के अंत में मर जाता है। जब शूट का फाइनल दिन था तो राजेश खन्ना मोहन स्टूडियो में राजेश खन्ना की तस्वीर पर हार टांगा गया। अमिताभ बच्चन भी सेट पर सुबह पहुंच गए और जाकर अपने मेकअप रूम में बैठ गए।

लगभग 10:30 के आस पास ऋषि मुखर्जी ने अपने असिस्टेंट को अमिताभ को बुलाने के लिए भेजा। असिस्टेंट अमिताभ बच्चन के मेकअप रूम गए लेकिन उन्होंने दरवाजा ही नहीं खोला। ये देख असिस्टेंट वापस ऋषि मुखर्जी के पास वापस गया।

 

यह भी पढ़ें- जब राजेश खन्ना के कारण उठे अमिताभ के हेयर स्टाइल पर सवाल,ऐसे की थी बोलती बंद

खुद को किया अमिताभ बच्चन ने कमरे में बंद

वहीं अमिताभ बच्चन मेकअप रूम में ये सोचकर पछता रहे थे क्यों उन्होंने मरने वाला रोल नहीं चुना। अमिताभ बच्चन ने तभी सोचा कि ऋषि मुखर्जी को फिल्म का अंत बदलने को कहेंगे। तो वो मान जाएंगे। लेकिन राजेश खन्ना के गले में टंगे हार को याद कर अमिताभ बच्चन और भी चिंता में डूब गए। लंबे समय तक अमिताभ बच्चन के बाहर ना आने पर ऋषि मुखर्जी खुद अमिताभ के पास गए और दरवाजे पर खटे होकर चिल्लाने लगे कि क्या हुआ?

ऋषिकेश मुखर्जी ने अमिताभ बच्चन ने धमकी

ये सुनकर अमिताभ घबरा गए और उन्होंने दरवाज़े को बिना खुले ही अंदर से कहा कि "वो फोटो।" ये बात सुनकर ऋषिकेश मुखर्जी भड़क गए और उन्होंने चिल्लाते हुए पूछा कि "क्या मलतब है तुम्हारा?" ऋषिकेश मुखर्जी अमिताभ से कहा था कि 'तुम्हें पहले ही कहा था कि तुम अपना रोल खुद ही चुन लो। अब तुम पीछे नहीं हट सकते हैं। यही नहीं ऋषिकेश मुखर्जी ने अमिताभ से कहा कि वो राजेश खन्ना की तस्वीर हटा देंगे और शूटिंग को बंद कर देंगे। ये सुनते ही अमिताभ बच्चन तुंरत कमरे से बाहर आए और शूटिंग करने लगे।'