दिलीप कुमार और राज कपूर का पुश्तैनी घर म्यूजियम में होगा तब्दील

By: Sunita Adhikari
| Published: 22 May 2021, 03:13 PM IST
दिलीप कुमार और राज कपूर का पुश्तैनी घर म्यूजियम में होगा तब्दील
Dilip Kumar Raj Kumar ancestral homes

बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार राज कपूर और दिलीप कुमार के पाकिस्तान के पेशावर में स्थित पुश्तैनी हवेलियां जल्द ही म्यूजियम में बदल जाएंगी। पाकिस्तान सरकार ने इसके लिए 2.30 करोड़ रुपए आवंटित कर दिए हैं।

नई दिल्ली। बॉलीवुड के दिग्गज कलाकार राज कपूर और दिलीप कुमार के पाकिस्तान के पेशावर में स्थित पुश्तैनी हवेलियां अब जल्द ही म्यूजियम में तब्दील हो जाएंगी। इसके लिए पाकिस्तान सरकार ने एक बड़ा कदम उठाया है। पाकिस्तान स्थित खैबर पख्तूनख्वा सूबे की सरकार ने दिलीप कुमार और राज कपूर की पुश्तैनी हवेलियों को खरीद कर उन्हें म्यूजियम में तब्दील करने के लिए 2.30 करोड़ रुपए आवंटित कर दिए हैं।

dilip_kumar_1.jpg

यह राशि पुरातत्व विभाग ने पेशावर के उपायुक्त को सौंपी है। सरकार ने ये फैसला दोनों हवेलियों के मौजूदा मालिकों को खरीद के लिए अंतिम नोटिस जारी करने के बाद लिया। खैबर पख्तूनख्वा के पुरातत्व निदेशक अब्दुस समद ने बताया कि सरकार दोनों हवेलियों का कब्जा लेगी और उनके ढांचे को उनके पुराने स्वरुप में बहाल करने के लिए काम शुरू करेगी। उन्होंने बताया कि सरकार दोनों इमारतों को संरक्षित करेगी। ताकि लोगों को राज कपूर और दिलीप कुमार का फिल्मों में योगदान के बारे में पता चल सके।

dilip_kumar.jpg

खैबर पख्तूनख्वा की सरकार ने 6.25 मरला में बने राज कपूर के घर और चार मरला में बने दिलीप कुमार के घर के लिए 1.50 करोड़ रुपये और 80 लाख रुपये कीमत तय की है। पेशावर के उपायुक्त खालिद महमूद ने 7 मई को ऐतिहासिक इमारतों के वर्तमान मालिकों को आखिरी नोटिस भेजने के बाद उन्हें 18 मई को बुलाया था। मौजूदा मालिक अली कादिर ने हवेली के लिए 20 करोड़ की मांग की थी। वहीं, दिलीप कुमार के घर के लिए मौजूदा मालिक ने कहा था कि सरकार को इसे 3.50 करोड़ रुपये में यह मकान खरीदना चाहिए।

बता दें कि राज कपूर का पैतृक घर पेशावर के किस्सा ख्वानी बाजार में है। इसका निर्माण नके दादा दीवान बश्वेश्वरनाथ कपूर ने साल 1918 से 1922 के बीच कराया था। इसी इलाके में दिलीप कुमार का पुश्तैनी मकान भी है।

Dilip Kumar