सिने कर्मचारी संघ की मांग, 30 हजार वर्कर्स के लिए सीएम दें 60 हजार वैक्सीन डोज

By: पवन राणा
| Published: 03 May 2021, 10:02 PM IST
सिने कर्मचारी संघ की मांग, 30 हजार वर्कर्स के लिए सीएम दें 60 हजार वैक्सीन डोज

फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्प्लाइज (FWICE) ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिख मांग की है कि उन्हें सिने वर्कर्स के लिए करीब 60000 वैक्सीन डोज उपलब्ध करवाई जाएंं। इन डोज और वैक्सीन लगाने का खर्चा यश चोपड़ा फाउंडेशन उठाने को तैयार है।

मुंबई। फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलाइज (FWICE) ने महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को एक पत्र लिखकर कलाकारों, वर्कर्स और तकनीशियंस के लिए वैक्सीन उपलब्ध करवान की मांग की है। इस पत्र में करीब 60000 वैक्सीन डोज देने के लिए लिखा गया है। इससे करीब 30000 वर्कर्स को वैक्सीन दी जा सकेगी।

वैक्सीन सहित सभी खर्चा उठाने को तैयार

यह प्रपोजल यश राज फिल्म्स के यश चोपड़ा फाउंडेशन की ओर से दिया गया है। इसमें कहा गया है कि इन 60000 वैक्सीन डोज का खर्चा यशराज फिल्म्स उठाएगा। इसमें वैक्सीनेशन सेंटर से लेकर वैक्सीन की कीमत भी शामिल है। कहा गया है कि इससे राज्य सरकार पर पड़ने वाला आर्थिक भार भी कम होगा। इस वैक्सीन ड्राइव को सफल बनाने के लिए भी सपोर्ट का भरोसा दिलाया गया है। पत्र में लिखा गया है कि जैसे ही सभी मेंबर्स को वैक्सीन लग जाएगी, वे बिना डर के अपना काम शुरू कर सकेंगे। वैक्सीन लगवाना न केवल इस बीमारी से लड़ने के लिए महत्वपूर्ण है बल्कि राज्य की गिरती अर्थव्यवस्था को गिरने से बचाने के लिए भी महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़ें : पंजाबी सिंगर और एक्टर गिप्पी ग्रेवाल को कोविड-19 की अवहेलना करने के चलते किया गिरफ्तार

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले, FWICE ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर 15 दिनों के कर्फ्यू समय के दौरान शूटिंग संबंधित कामों को जारी रखने की अनुमति देने की मांग की थी। साथ ही पोस्ट-प्रोडक्शन के काम को भी बंद कमरे जैसे वातावरण में जारी रखने की मांग की गई थी, जिससे की कार्यक्रमों का प्रसारण जारी रह सके। हालांकि इनकी मांगों को पूरा नहीं किया गया है।

यह भी पढ़ें : कोरोना गाइडलाइन उल्लंघन मामले में अभिनेता जिम्मी शेरगिल व तीन अन्य गिरफ्तार, जमानत पर छोड़ा

बता दें कि पिछले दिनों फिल्म और टीवी संगठनों ने मिलकर सीएम उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर मांग की थी कि क्रिेकेट मैचों में सफलतापूर्वक अपनाया गया सिस्टम बॉयो-बबल काम में लेने की उन्हें भी अनुमति दी जाए, जिससे वे शूटिंग का काम जारी रख सकें। ये सुझाव उसी समय दिया गया था, जब महाराष्ट्र में 15 दिन के कर्फ्यू की घोषणा मुख्यमंत्री की ओर से की गई थी। हालांकि राज्य के हालातों को देखते हुए अभी तक इस तरह की कोई छूट किसी निर्माता—निर्देशक को नहीं दी गई है। इसके चलते कई टीवी शोज और फिल्मों की शूटिंग मुंबई से बाहर चल रही हैं। हालांकि अब पूरे देश में कोरोना के मामले बढ़ने के लिए कहीं भी शूटिंग की इजाजत नहीं दी जा सकेगी।