Jiah Khan ने मरने से पहले अपने सुसाइड नोट में खोले थे कई राज, बलात्कार, अबॉर्शन और धोखे का किया था जिक्र

By: Neha Gupta
| Published: 20 Feb 2021, 10:52 AM IST
Jiah Khan ने मरने से पहले अपने सुसाइड नोट में खोले थे कई राज, बलात्कार, अबॉर्शन और धोखे का किया था जिक्र
Jiah Khan

  • जिया खान ने मौत से पहले लिखा था सुसाइड नोट
  • जिंदगी के दर्दभरे पलों का किया जिक्र
  • फिल्मों के लिए जिया ने बदल डाला था अपना असली नाम

नई दिल्ली | बॉलीवुड में अपनी पहली फिल्म से दर्शकों के बीच छाप छोड़ने वाली अभिनेत्री जिया खान की मौत ने सभी को चौका दिया था। जिया का जन्म 20 फरवरी 1988 को न्यूयॉर्क में हुआ था और वो लंदन में पली बढ़ी। वहीं से जिया ने अपनी पढ़ाई पूरी की और फिल्मों की तरफ उनका रुझान बढ़ा। जिया ने 3 जून, 2013 में आत्महत्या कर ली थी और वो एक सुसाइट नोट छोड़कर गई थीं। जिया ने अपने सुसाइड नोट में कई राज खोले थे। उन्होंने छह पन्नों में अपनी दर्दभरी कहानी लिखी थी। जिया ने बताया था कि उनके साथ बलात्कार हुआ था। किसी शख्स का नाम लिए बगैर जिया ने कई तरह के आरोप लगाए थे। जिया की मौत से पहले उनका अफेयर सूरज पंचोली के साथ चल रहा था।

जिया खान की मौत के बाद सूरज पंचोली को गिरफ्तार भी किया गया था। जिया को बचपन से ही एक्ट्रेस बनने का शौक था। फिल्म रंगीला देखने के बाद जिया ने तय कर लिया था कि बड़ी होकर वो एक अभिनेत्री बनेंगी। जिया ने रामगोपाल वर्मा की विवादित फिल्म निशब्द फिल्म से बॉलीवुड डेब्यू किया था। इस फिल्म में उनके साथ महानायक अमिताभ बच्चन ने भी काम किया था। जिया ने बॉलीवुड एंट्री करने के लिए अपना नाम तक बदल डाला था। उनका असली नाम नफीसा रिजवी खान था। जिया ने आमिर खान की फिल्म गजनी और हाउसफुल में भी काम किया था। 25 साल तक जिया कुछ बड़ी फिल्मों में काम कर चुकी थीं। इसी दौरान उनका सूरज पंचोली के साथ अफेयर भी सुर्खियों में रहा।

जिया ने अपने सुसाइड नोट में लिखा था- तुम्हें शायद इस बात का पता न हो लेकिन तुम्हारा असर मेरे ऊपर ऐसा था कि मैं टूटकर प्यार करने लगी। और उस फेर में खुद को पूरी तरह भुल गई, मैंने खुद को खो दिया। मगर तुम थे कि मुझे तड़पाते रहते थे, तकलीफ देते रहते थे, रोजाना। अब मुझे अपनी जिंदगी में रौशनी की एक लकीर भी नहीं दिखती। अब ऐसा लगता है कि जैसे अंदर से मर चुकी हूं मैं। तुम्हारी जिंदगी बस औरतों और पार्टियों के इर्द गिर्द घूमती थी, जबकि मेरी जिंदगी मेरे काम और तुम्हारे बीच ही बसी थी। मैं यहां रुकूंगी तो तुम्हारी जरूरत महसूस होगी इसलिए मैं अपने करियर और सपनों को अलविदा कहकर जा रही हूं। तुम्हारे प्यार में पड़कर मैं तुम्हारे घर आती थी। लेकिन तुम मूड बदलने पर मुझे बीच रात में धक्के देकर बाहर निकाल देते थे। मेरे मुंह पर दिन रात झूठ बोलते रहते थे।

जिया ने अपने खत में अबॉर्शन और मारपीट का भी आरोप लगाया था। जिया की मां राबिया ने सूरज पर आत्महत्या के लिए उकसाने का आरोप लगाया था। सूरज पंचोली ने कुछ वक्त जेल में कांटा हालांकि जिया की मौत की गुत्थी कभी सुलझ नहीं पाई औऱ एक रहस्य बनकर रह गई।