Kangana Ranaut को मिला राष्ट्रीय महिला आयोग का सहारा, शिवसेना विधायक के गिरफ्तारी की उठने लगी मांग

By: Pratibha Tripathi
| Updated: 05 Sep 2020, 03:32 PM IST
Kangana Ranaut को मिला राष्ट्रीय महिला आयोग का सहारा, शिवसेना विधायक के गिरफ्तारी की उठने लगी मांग
kangana ranaut sanjay raut

  • कंगना के समर्थन में उतरी राष्ट्रीय महिला आयोग
  • शिवसेना की विचारधारा पर उठने लगे सवाल

 

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रानौत का बेबाकी के साथ दिया गया बयान अब उनके लिए बड़ा भारी पड़ता जा रहा है, चारों ओर से फैंस उनके बयान का घोर विरोध करते हुए नारे लगा रहे है, ऐसे में कंगना रानौत के इस मुद्दे पर तूल पकड़ता देख अब इस जंग में राष्ट्रीय महिला आयोग की भी एंट्री हो गई है, इतना ही नहीं अब कंगना ने भी शिवसेना विधायक को मुंबई आने की खुलेआम चेतावनी भी दे दी है। कंगना का सपोर्ट करते हुए राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक पर निशाना साधते हुए कहा है कि ऐसे लोगों की गिरफ्तारी तुरंत होनी चाहिए। क्योकि उन्होंने ना केवल एक महिला का अपमान किया है बल्कि शिवसेना की विचारधारा पर भी सवाल उठाए हैं।

राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने कहा, ''कंगना के किसी भी ट्वीट में हमे ऐसा नहीं लगा कि वो देशद्रोही हैं या किसी व्यक्ति को उसने धमकी दी है। जबकि शिवसेना के नेताओं की विचारधारा में इतना ओछापन देखने को मिला है। जो आजादी की बात करने वाली महिलाओं के प्रति अपनी कुंठा जाहिर करता है।''
रेखा शर्मा ने इस बात का खुलासा एक इंटरव्यू के दौरान करते हुए कहा कि ''शिवसेना के विधायक प्रताप सरनाईक ने कंगना रनौत को धमकी दी है। जिसमें उन्होंने कहा है कि यदि कंगना मुंबई आती हैं तो शिवसेना की महिला कार्यकर्ता उसका मुंह तोड़ देंगी। सरनाईक ने ट्वीट में यह भी कहा कि मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से करने के लिए कंगना पर देशद्रोह का मामला दर्ज होना चाहिए। सीपी मुंबई पुलिस को चाहिए कि ऐसा कहने वाले को तुरंत गिरफ्तार किया जाए।

दरअसल कंगना ने एक बयान में मुंबई शहर और यहां कि पुलिस को लेकर टिप्पणियां की थीं, जिसमें कंगना ने कहा था कि उन्हें उन लोगों से अधिक मुंबई पुलिस से डर लगता है, जिन्हें वे मूवी माफिया कहती हैं। इस पर शिवसेना नेता संजय राउत ने उनके ट्वीट को देखकर कथित तौर पर कंगना को कहा था कि अगर उन्हें मुंबई पुलिस से डर लगता है तो उन्हें यहां नहीं आना चाहिए।