Kangana Ranaut ने फिर अर्नब गोस्वामी के सपोर्ट में उठाई आवाज, ट्वीट कर की रिहाई की मांग

By: Sunita Adhikari
| Published: 10 Nov 2020, 10:10 AM IST
Kangana Ranaut ने फिर अर्नब गोस्वामी के सपोर्ट में उठाई आवाज, ट्वीट कर की रिहाई की मांग
Kangana Ranaut supports Arnab Goswami

  • अर्नब गोस्वामी को मुबंई पुलिस ने दो साल पुराने केस में गिरफ्तार किया है। ऐसे में कंगना ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर अर्नब की गिरफ्तारी पर आपत्ति जताई है।

नई दिल्ली: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव रहती हैं और आए दिन अपने ट्वीट से सुर्खियां बटोरती रहती हैं। इन दिनों कंगना रिपब्लिक न्यूज चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी के सपोर्ट में बोल रही हैं। अर्नब को मुबंई पुलिस ने दो साल पुराने केस में गिरफ्तार किया है। ऐसे में कंगना ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर अर्नब की गिरफ्तारी पर आपत्ति जताई है। एक्ट्रेस का कहना है कि अर्नब गोस्वामी को टारगेट किया जा रहा है। क्योंकि उन्होंने अपने चैनल पर महाराष्ट्र सरकार को लेकर कई बातें कहीं।

कंगना ने ट्वीट कर लिखा, “मेरे और अर्नब जैसे लोग अपनी सक्सेस और पॉप्युलैरिटी एंजॉय करने की जगह, हम दुनिया के खिलाफ जा रहे हैं और आप लोगों के लिए लड़ रहे हैं। अगर बदले में हमें, मैं इंडियन हूं और मैं अर्नब को सपोर्ट नहीं करता हूं, मिल रहा है तो याद रखिए आप थर्ड वर्ल्ड कंट्री डिजर्व करते हैं जो कि दुनिया की सबसे भ्रष्ट सोसाइटी है।”

कंगना ने एक और ट्वीट कर लिखा, “ये सत्ताओं के ठेकेदार गरीबों का हक मार के जो बैठे हैं, बड़े विचार हैं। ये किस्मत के मारे हमसे पूछते हैं। ये इरादे हमारे, हम को इस लड़ाई से क्या हासिल होगा तानाशाहों, एक घर बनाया था, वह भी तुड़वा के बैठे हैं #WeWantArnabBack”।

इससे पहले भी कंगना ने अर्नब गोस्वामी के सपोर्ट में ट्वीट किया था। कंगना ने लिखा, “पप्पू प्रो को इतना गुस्सा क्यों आता है? पेंगुइन को इतना गुस्सा क्यों आता है? सोनिया सेना को इतना गुस्सा क्यों आता है? अर्नब सर, इन्हें बाल खींचने दें। हमारे खुलकर बोलने पर हमला करने दें। फांसी लगने से पहले इनके चेहरों पर मुस्कुराहत आने दें। आजादी का कर्ज चुकाना है।”

आत्महत्या के लिए उकसाने का लगा है आरोप

बता दें कि अर्नब गोस्वामी के अलावा अन्य 2 लोगों को 53 वर्षीय इंटीरियर डिजाइनर को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। महाराष्ट्र सरकार ने इसी साल मई में इस केस की सीआईडी जांच के आदेश दिए थे। ये पूरा मामला साल 2018 का है। पुलिस ने अर्नब गोस्वामी के घर पर तलाशी भी ली। अर्नब गोस्वामी, फिरोज शेख और नितेश सारदा पर कथित रूप से बकाया राशि न देने पर 53 वर्षीय एक इंटीरियर डिजाइनर और उसकी मां के आत्महत्या करने का आरोप है। कथित तौर पर इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक ने सुसाइड करने से पहले सुसाइड नोट में लिखा था कि आरोपियों ने उनके 5.40 करोड़ रुपये का भुगतान नहीं किया था, इसलिए उन्हें आत्महत्या का कदम उठाना पड़ा।