अंकिता भार्गव ने ब्रेस्ट फीडिंग पर खुलकर की बात

By: Shweta Dhobhal
| Published: 19 Apr 2021, 05:44 PM IST
अंकिता भार्गव ने ब्रेस्ट फीडिंग पर खुलकर की बात
Karan Patel Wife Ankita Bhargava Wrote Note On Breast Feeding

एक्टर करण पटेल की पत्नी अंकिता भार्गव ने एक इमोशनल पोस्ट शेयर किया है। जिसमें वह माओं को स्पेशल मैसेज देती हुई दिखाई दे रही हैं। चलिए आपको बतातें हैं अपनी इस पोस्ट में अंकिता क्या लिखती हैं।

नई दिल्ली। टीवी के मशहूर एक्टर कुछ समय पहले एक बेटी के पिता बने हैं। करण पटेल और उनकी पत्नी अंकिता भार्गव टीवी इंडस्ट्री की फेवरेट और मशहूर जोड़ियों में से एक हैं। कपल ने अपनी बेटी का नाम मेहरा रखा है। वहीं अक्सर दोनों ही बेटी मेहर संग अपनी क्यूट तस्वीरें पोस्ट करते रहते हैं। हाल ही में अंकिता ने बेटी संग एक पोस्ट शेयर किया है। जिसमें उन्होंने मां बनने के एहसास और ब्रेस्टफीडिंग को लेकर खुलकर बातचीत की है। अंकिता का यह पोस्ट काफी सुर्खियां बंटोर रहा है।

Karan Patel Ankita Bhargav

ब्रेस्टफीडिंग को लेकर लिखा पोस्ट

अंकिता ने अपने ऑफिशियल इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर पोस्ट की है। जिसमें वह अपनी बेटी को हाथों में लिए उसकी ओर देखते हुए मुस्कुरा रही हैं। तस्वीर को शेयर करते हुए कैप्शन में अंकिता लिखती हैं कि ब्रेस्टफीडिंग। वह कहती हैं कि वह इस पोस्ट में पॉजिटिविटी फैलाने और ब्रेस्टफीडिंग को लेकर खुलकर बात करने के लिए लिख रही हैं। अंकिता कहती हैं कि ब्रेस्टफीडिंग बच्चे के छोटे से बेटे को भरने के लिए या फिर उनकी इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए नहीं किया जाचा है। यह एक ऐसा सफर है। जिसे एक छोटे से इंसान के साथ तय किया जाता है।'

Ankita Bhargav

अंकिता अपनी पोस्ट में आगे कहती हैं कि 'तुम और तुम्हारा ये छोटा सा रूप। यह तुम दोनों के बीच में होने वाली बातचीत है, जो शब्दों के बनने से पहले होती है। इसी तरह वो कहता है वह आपको मिस कर रहा है, वह डरा हुआ है, वह थका हुआ है, वह अकेला है, वह ठीक नहीं है, वह एक्साइटेड हैं और इसी तरह वे कहते हैं- कि मैं आपसे प्यार करत हूं मां।' इसके साथ ही अंकिता ने दूसरी माओं को सलाह दीहै कि वे इस मौके को ना गवाएं।"

यह भी पढ़ें- पानी के सूखे के चलते हुए इस एक्टर ने रोमांटिक सीन करने से मना किया

अंत में अंकिता अपनी पोस्ट में महिलाओं से कहती हैं कि अगर ब्रेस्टफीडिंग का मौका मिल रहा है तो इसे टाइम. क्वांटिटी में मत बांधो। क्योंकि यह मौका जिंदगी में एक ही बार मिलता है जो कि दोबारा वापस नहीं आएगा। तो इस मौके को गवाइए मत, यह एक आशीर्वाद है। जो केवल उस बच्चे के लिए नहीं बल्कि आपके लिए भी है, क्योंकि आपको पोस्ट डिप्रेशन से लड़ने में भी मदद मिलती है। सभी मांओं को मेरा प्यार और सपोर्ट।'