scriptकड़ी मेहनत से Miss India First runner up बनी ऑटो ड्राइवर की बेटी मान्या सिंह, सुबह पढ़ाई और शाम में बर्तन धोने का किया काम | manya singh miss india 2020 first runner up struggle story father is a | Patrika News
बॉलीवुड

कड़ी मेहनत से Miss India First runner up बनी ऑटो ड्राइवर की बेटी मान्या सिंह, सुबह पढ़ाई और शाम में बर्तन धोने का किया काम

मिस इंडिया के मंच पर पहुंचने के लिए मान्या सिंह ने की कड़ी मेहनत
ऑटो चालक की बेटी मान्या सिंह ने रचा इतिहास
सपना पूरा करने के लिए बर्तन धोने से लेकर कॉल सेंटर तक में किया काम

Feb 12, 2021 / 10:29 am

Neha Gupta

Miss India 2020 First Runner Up Manya Singh

Miss India 2020 First Runner Up Manya Singh

नई दिल्ली | फेमिना मिस इंडिया 2020 (Femina Miss India 2020) की पहली रनरअप रही मान्या सिंह (Manya Singh) का जीवन बेहद संघर्ष भरा रहा। मान्या के लिए मिस इंडिया का ताज जीतना नामुमकिन जैसा था लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत और लगन से इसे मुमकिन कर दिखाया। मान्या ने अपनी स्ट्रगल की कहानी को सोशल मीडिया के जरिए लोगों तक पहुंचाया है। मान्या के पिता एक ऑटो रिक्शा चालक हैं और वो खुद अपनी पढ़ाई पूरी करने के लिए दिन रात मेहनत करती थीं। मान्या के हौसलों की तारीफ पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने भी इसपर गर्व जताया है। मिस इंडिया में भाग लेने से पहले मान्या ने मिस यूपी का खिताब अपने नाम किया था।

मान्या सिंह गोरखपुर के देवरिया से आती हैं। मिस इंडिया रनरअप का ताज जीतने के बाद मान्या ने खुद इस बात का खुलासा किया कि एक वक्त था जब उनके पास खाना तक नहीं हुआ करता था। मान्या ने कहा कि मैंने कई रातें बिना खाने और सोए बिताई हैं। मैंने कड़ी धूप में कई किलोमीटर चलकर अपना सफर तय किया है। मेरा खून, पसीन और आंसू मेरी हिम्मत में तब्दील हो गए। एक रिक्शा चालक की बेटी होने के कारण मुझे स्कूल जाने का मौका नहीं मिला क्योंकि मैंने बचपन में ही काम करना शुरू कर दिया था। मेरी मां ने एग्जाम फीस के लिए अपनी ज्वैलिरी गिरवी रख दी।

https://twitter.com/hashtag/manyasingh?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw

उन्होंने आगे बताया कि 14 साल की उम्र में मैं घर से भाग गई और किसी तरह के अपना गुजारा किया। मैं किसी तरह दिन में अपनी पढ़ाई पूरी करती, शाम में लोगों के घरों में बर्तन धुलती और रात में कॉल सेंटर में काम करती। रिक्शे का किराया बचाने के लिए मैं मीलों तक पैदल चलती थी। आज मैं वीएलसीसी फेमिना मिस इंडिया 2020 के मंच खड़ी हूं अपने पिता, मां और छोटे भाई को गर्व महसूस कराने और दुनिया को ये बताने के लिए कि अगर आप अपने सपनों के प्रति समर्पित हैं तो कुछ भी नामुमकिन नहीं है। मान्या ने एक रिक्शा चालक की बेटी होकर मिस इंडिया का खिताब अपने नाम कर इतिहास रच दिया है।

मान्या सिंह के इस पोस्ट को विरल भयानी ने भी अपने इंस्टाग्राम पर शेयर किया है। जहां पूर्व मिस वर्ल्ड मानुषी छिल्लर ने गर्व जताया है। साथ ही एमी जैक्सन, सेलिना जेटली और टीवी एक्ट्रेस कृष्णा मुखर्जी जैसे सेलेब्स ने भी खुशी जताई है।

बता दें कि फेमिना मिस इंडिया 2020 (VLCC Femina Miss India 2020) तेलंगाना (Telangana) की मानसा वाराणसी (Manasa Varanasi) को चुना गया जबकि दूसरी रनर अप मनिका शियोकांड (Manika Sheokand) रहीं।

Hindi News/ Entertainment / Bollywood / कड़ी मेहनत से Miss India First runner up बनी ऑटो ड्राइवर की बेटी मान्या सिंह, सुबह पढ़ाई और शाम में बर्तन धोने का किया काम

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो