बॉलीवुड की मशहूर प्रोड्यूसर ने दान किया 40 लीटर ब्रेस्ट मिल्क,जानें क्या थी वजह

By: Pratibha Tripathi
| Updated: 20 Nov 2020, 12:32 PM IST
बॉलीवुड की मशहूर प्रोड्यूसर ने दान किया 40 लीटर ब्रेस्ट मिल्क,जानें क्या थी वजह
saand ki aankh producer nidhi parmar

‘सांड की आंख’ की प्रोड्युसर निधि परमार हीरानंदानी ने लॉकडाउन में 40 लीटर ‘ब्रेस्ट मिल्क’ डोनेट किया था। उनका मकसद लोगों की मदद करना था

नई दिल्ली। कोरोनाकाल में बॉलीवुड से जुड़ी कई बड़ी महान हस्तियों नें लोगों की मदद करने के लिए करोड़ों रूपए की धन राशि दान में दी थी । हर किसी नें अपने हिसाब से लोगों की मदद करने की भरपूर कोशिश की। किसी ने पैसे से व्यवस्था कि, तो किसी ने मजदूरों के लिए खाने की व्यवस्था की। कोई कपड़े के साथ कोरोना से बचने के लिए पूरी किट लेकर देते हुए नजर आया। लेकिन इनके बीच फिल्मों की निर्माता निधि परमार हीरानंदानी (Nidhi Parmar Hiranandani) ने कुछ अलग करने की सोची। वो इसी साल फरवरी में मां बनी थीं। और उन्होने नवजात बच्चों की जिंदगी को बचाने के लिए अपना ब्रेस्ट मिल्क दान करने का फैसला किया था। निधि ने एक इंटरव्यू के दौरान बताया कि ‘अपने बच्चे की देखरेख करने के बाद भी मेरे शरीर में काफी दूध बनता है। मैंने इंटरनेट पर पढ़ा था कि अगर ब्रेस्ट मिल्क को सही से फ्रिज में स्टोर किया जाए, तो यह तीन से चार महीने तक खराब नहीं होता।’
---बॉलीवुड की टॉप 10 महिला प्रधान फिल्में,जिनमें एक पर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने लगा था प्रतिबंध

No data to display.

इकट्ठा की जानकारी
‘इंटरनेट से मिले सुझाव के बाद उन्हें और भी कई तरह कि जानकारी प्राप्त हुईं। किसी ने उन्हें बताया कि कोई इस मिल्क से फेस पैक्स तैयार करते हैं। तो कुछ लोग इसका उपयोग अपने बच्चों को नहलाने में करते है। लेकिन ये सब के लिए ब्रेस्ट मिल्क दूध की बर्बादी थी। फिर मैंने इसे किसी जरूरतमंद को देने का फैसला लिया। मैंने ब्रेस्ट मिल्क डोनेशन के बारे में पता किया।’

निधि ने बताया कि अपने ब्रेस्ट मिल्क को सही जगह तक पहुचाने के लिए मैने मुंबई के खार स्थित सूर्या हॉस्पिटल से संपर्क किया। उन्होंने बताया कि आप सूर्या अस्पताल में दूध डोनेट कर सकती हैं। तब तक मेरे फ्रिज में 150 मिलीलीटर के 20 पैकेट इकट्ठा हो चुके थे। जो इस समय काफी काम आए। अब यह हॉस्पिटल काफी सुरक्षित तरीके से घर से दूध ले जाता है। अब तक वो 40 लीटर दूध दान में दे चुकी हैं।

निधि की मदद से अस्पताल का मिल्क बैंक हुआ फिर से शुरू
निधि ने बताया कि इस साल के मई माह से लगभग 40 लीटर दूध डोनेट कर चुकी हैं। अब वो हर 15 से 20 दिन के अंतराल में अस्पताल को ब्रेस्ट मिल्क दान में दे देती हैं।’ लॉकडाउन में निधि की मदद से हॉस्पिटल को अपना मिल्क बैंक फिर से शुरू करने में मदद मिली. बता दें कि यह दूध प्रीमेच्योर बच्चों को बचाने में बेहद उपयोगी होता है।