IPL मैच के दौरान बालकनी से नीचे गिरने वाले थे Shah Rukh Khan, फिर हुआ कुछ ऐसा बच गए किंग खान

By: Neha Gupta
| Published: 24 May 2020, 03:12 PM IST
IPL मैच के दौरान बालकनी से नीचे गिरने वाले थे Shah Rukh Khan, फिर हुआ कुछ ऐसा बच गए किंग खान
Shah Rukh Khan

  • जीत की खुशी में बालकनी से नीचे गिरने वाले थे शाहरुख खान (Shah Rukh Khan)
  • IPL मैच में जब पहली बार जीती थी कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders)
  • बेटी सुहाना खान (Suhana Khan) ने पकड़ा था पापा का हाथ

नई दिल्ली | बॉलीवुड के बादशाह यानी शाहरुख खान (Shah Rukh Khan) जितने बेहतरीन एक्टर हैं उतने ही कमाल के बिजनेसमैन भी हैं। सभी जानते हैं कि शाहरुख को स्पोर्ट्स से कितना लगाव है जिसके चलते उन्होंने कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) को साल 2008 में खरीदा था। शाहरुख हर साल जब आईपीएल मैच (IPL Match) शुरू होता है तो अपनी टीम केकेआर का हौसला बढ़ाने के लिए स्टेडियम पहुंचते हैं। शाहरुख को अपने बच्चों के साथ स्टेडियम में जोर-जोर से चियर करते हुए कई बार देखा गया है। एक बार इसी दौरान कुछ ऐसा हुआ था कि शाहरुख के साथ सभी हैरान रह गए थे। किंग खान ने खुद एक इंटरव्यू में इस किस्से का जिक्र किया था कि जब आईपीएल (Indian Premier League) में उनकी टीम जीती तो वो बेहद खुश हो गए थे। इस चक्कर में शाहरुख भूल गए कि वो बालकनी में खड़े हैं और खुशी के मारे छलांग लगाने जा रहे थे। लेकिन उनकी जान बाल-बाल बच गई थी।

शाहरुख ने बताया था कि साल 2012 में वो आईपीएल देखने गए थे। वो अपनी टीम को चियर कर रहे थे, जब उनकी टीम केकेआर (KKR) जीती तो वो बेहद खुश थे। उनकी खुशी का कारण ये भी था कि कई लोग शाहरुख को केकेआर को बेचने की बात कर रहे थे लेकिन उन्हें अपनी टीम पर पूरा भरोसा था। मैच जीतने के बाद जोर जोर चीयर करने के दौरान शाहरुख को ध्यान नहीं रहा और वो बालकनी ने छलांग लगाने ही वाले थे कि तभी उनकी बेटी सुहाना (Suhana Khan) ने उनका हाथ पकड़ लिया और उन्हें बचा लिया।

शाहरुख ने आगे कहा था कि मैं उस रात उड़ ही जाता लेकिन फिर घर पहुंच ही गया। इसके अलावा शाहरुख से उनकी टीम को लेकर भी सवाल किया गया था। ये बात सभी जानते हैं कि चक दे इंडिया (Chak De India) शाहरुख की बेहतरीन फिल्मों में से एक है। ऐसे में उनसे पूछा गया कि क्या वो अपनी टीम को चक दे इंडिया जैसी कोई स्पीच देते हैं। जिसपर शाहरुख ने बताया था कि उन्होंने ऐसा कभी भी नहीं किया। उन्हें अपनी टीम पर भरोसा रहा है।