Happy Independence Day 2021 : इन फिल्मों में दिखी महिलाओं के शौर्य की कहानी,जागेगी देशभक्ति की भावना

By: Shalu Saini
| Published: 14 Aug 2021, 03:32 PM IST
Happy Independence Day 2021 : इन फिल्मों में दिखी महिलाओं के शौर्य की कहानी,जागेगी देशभक्ति की भावना

Happy Independence Day 2021 : भारत देश को आजाद कराने के लिए कई क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों की आहूति दी है, जिनके बलिदान को हमेशा याद रखा जाता है। ऐसी कई फिल्में भारत की आजादी में वीर शहीदों के नाम बन चुकी है, जो देशभक्ति से ओतप्रोत है। ऐसे में हम स्वतंत्रता दिवस के 75वीं वर्षगांठ के मौके पर आपको बॉलीवुड की महिला प्रधान फिल्मों के बारे में बताने जा रहे है,जिसने ये बताया कि महिला हो या पुरुष दोनों में ही देश भक्ति का जजबा भरपूर होता है।

Happy Independence Day 2021 : 15 अगस्त को भारत देश आजाद हुआ, इस उपलक्ष्य में हर साल हर्षोल्लास के साथ स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। जो भारत के लिए बेहद खास दिन होती है. भारत देश को आजाद कराने के लिए कई क्रांतिकारियों ने अपने प्राणों की आहूति दी है, जिनके बलिदान को सदा याद रखा जाएगा। उन सभी के बलिदान की गाथाओं को वर्तमान पीढ़ी और नई पीढियों तक पहुंचाने के लिए फिल्मों में पिरोया गया है। ऐसी कई फिल्में भारत की आजादी में वीर शहीदों के नाम बन चुकी है, जो देशभक्ति से ओतप्रोत है, जिनमें से कई फिल्में महिला प्रधान पर भी आधारित है। बता दें कि बॉलीवुड में अब तक ऐसी कई फिल्में बन चुकी है, जो महिला प्रधान रही है, जो हमें देश भक्ति के लिए प्रेरित करती है। स्वतंत्रता दिवस के 75वीं वर्षगांठ के मौके पर हम आपको बॉलीवुड की महिला प्रधान फिल्मों के बारे में बताने जा रहे है, जो हमारे दिल में देशभक्ति की भावना को जागृत करता है।

नीरजा

2016 में रिलीज हुई 'नीरजा' फिल्म एक सच्ची घटना पर आधारित है। नीरजा भनोट ने अपनी जिंदगी की कुर्बानी देकर 1986 में विमान को आंतकवादियों से बचाया था। इस फिल्म में एक्ट्रेस सोनम कपूर ने नीरजा भनोट की भूमिका निभाई थी, जिसमें दिखाया गया है कि जब पैन एम 73 की फ्लाइट को आतंकवादियों ने अपहरण कर लिया था, तब उसमें 359 यात्री सवार थे, जिन्हें बचाते हुए नीरजा शहीद हुई थी।

neerja.jpg

चक दे! इंडिया

2007 में आई 'चक दे! इंडिया' फिल्म खेल से संबंधित है, जो हमारे राष्ट्रीय खेल के प्रति हमारी भावना को दर्शाती है। साथ ही देशभक्ति की शानदार पेशकश इस फिल्म में की गई है। चक दे! इंडिया फिल्म शाहरूख खान स्टारर फिल्म है, जिसे आज भी लोगों के द्वारा खूब पसंद किया जाता है। इस फिल्म की कहानी काल्पनिक है, जो भारतीय महिला हॉकी टीम द्वारा विश्व कप के लिए किए गए संघर्ष को दिखाती है।

chak_de.jpg

राजी

2018 में आई राजी फिल्म एक बहुत ही शानदार ऐतिहासिक फिल्म है, जिसमें एक्ट्रेस आलिया भट्ट और एक्टर विक्की कौशल मुख्य भूमिका में नजर आए है। यह फिल्म देशभक्ति की ऐसी कहानी है, जिसमें एक लड़की अपने देश की आन-बान-शान के लिए पाकिस्तान में शादी करने के लिए तैयार हो जाती है। यह फिल्म भी सच्ची घटना पर आधारित है, जो मुस्लिम लड़की सेहमत के ऊपर बनाई गई है।

razi.jpg

मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी

हम आपको पांचवी 'फिल्म मणिकर्णिका : द क्वीन ऑफ झांसी' से रूबरू कराते है, जो 2018 में रिलीज हुई थी। यह फिल्म भी आजादी के समय झांसी को आजाद कराने में 'महारानी लक्ष्मीबाई' के बलिदान को दिखाती है। यह फिल्म भी दर्शकों के दिल में देशभक्ति की भावना जागृत करती है। इस फिल्म में मणिकर्णिका की भूमिका अभिनेत्री कंगना रनोट ने निभाई है। यह फिल्म महिलाओं के साहस और प्रेरणा को प्रदर्शित करता है, जिसमें एक महिला योद्धा अपने देश को आजादी दिलाने के लिए अंग्रेजों से लोहा लेती है।

manikarnika.jpg

गुंजन सक्सेना : द कारगिल गर्ल

महिला प्रधान फिल्मों में अगली फिल्म गुंजन सक्सेना : द कारगिल गर्ल है, जो 2020 में दर्शकों के सामने आई थी। यह फिल्म भी सच्ची घटना पर आधारित एक बायोपिक फिल्म है। यह फिल्म महिला पायलट गुंजन सक्सेना पर बनाई गई है, जिसमें अभिनेत्री जान्हवी कपूर ने 'गुंजन सक्सेना' की भूमिका निभाई है। बता दें कि गुंजन सक्सेना युद्ध क्षेत्र में विमान उड़ाने वाली पहली भारतीय महिला थी, जिन्होंने 1999 में कारगिल युद्ध में भाग लिया था। इस दौरान गुंजन ने अपने धैर्य और साहस का जो प्रदर्शन किया, वह अविस्मरणीय है, जिसके लिए पायलट गुंजन शौर्य वीर पुरस्कार से भी सम्मानित हुई है। यह फिल्म भी सभी के दिलों में देशभक्ति की भावना को जगाती है और देश के लिए कुछ करने का जजबा देती है।

gunjan.jpg

दंगल

आमिर खान स्टारर फिल्म दंगल 2016 में रिलीज की गई थी, वैसे तो यह फिल्म भारतीय महिला पहलवान गीता और बबीता फोगाट पर आधारित है, लेकिन यह फिल्म दर्शकों को देशभक्ति के लिए प्रेरित करती है। इस फिल्म को आखिर तक देखते हुए दर्शक दंगल से खुद को जुड़ा हुआ महसूस करते है। यह फिल्म पहली महिला पहलवान गीता फोगाट द्वारा कॉमनवेल्थ गेम में पहली बार गोल्ड मेडल जीतने के दौरान किए गए संघर्ष को दिखाया गया है, जिससे भारत देश का नाम पूरी दुनिया में रौशन हो गया था।

dangal.jpg