पैसों की कमी के कारण Dilip Kumar सड़कों पर बेचा करते थे सैंडविच, इस महिला ने रातोंरात यूं बदल डाली किस्मत

By: Shweta Dhobhal
| Published: 28 Dec 2020, 01:02 AM IST
पैसों की कमी के कारण Dilip Kumar सड़कों पर बेचा करते थे सैंडविच, इस महिला ने रातोंरात यूं बदल डाली किस्मत
Bollywood Actor Dilip Kumar Life Struggle Story

  • बचपन से ही अभिनेता दिलीप कुमार ( Dilip Kumar ) जिंदगी को लेकर करने लगे थे संघर्ष
  • आर्थिक तंगी की वजह से सड़कों पर बेचा करते थे सैंडविच

नई दिल्ली। मायानगरी मुंबई लोगों के सपनों को पूरा करने के लिए जानी जाती है। मुंबई हिंदी सिनेमा की जान है। इस मायानगरी ने किस्मत से ज्यादा ही लोगों को दिया है और ऐसा नहीं है कि केवल पैसों से धनी ही लोगों ने यहां मुकाम हासिल किया हो। जबकि बेहद ही छोटे से गांव से आए लोगों ने अपनी मेहनत और गुणों से सिनेमा को वक्त के साथ नया मोड़ दिया है। आज हम आपको बॉलीवुड के ऐसे दिग्गज के स्ट्रगल के बारें में बताएंगे। जिसमें अपनी मेहनत से खुद की गरीबी को पीछे छोड़ मायानगरी में बड़ा नाम कमाया।

यह भी पढ़ें- एक्ट्रेस Malaika Arora ब्वॉयफ्रेंड संग मनाएंगी न्यू ईयर, Arjun Kapoor को लेकर पहुंची गोवा

kumar_1.jpg

दिलीप कुमार बचपन से करना चाहते थे एक्टिंग

दिलीप कुमार ( Dilip Kumar ), जी हां यही वह अभिनेता हैं। जिनके बारें में आप कुछ गहरे राज जनाने वाले हैं। पहले आपको यह बता दें कि दिलीप जी का असली नाम मोहम्मद यूसुफ खान ( Mohammad Yusuf Khan ) है। इन्होंने फिल्मों में एंट्री लेने से पहले ही अपना नाम बदला दिया था। वैसे आपको बता दें कि दिलीप से अभिनेता से पहले एक सैंडविच बेचने वाले हुआ करते थे। दरअसल, हुआ कुछ यूं कि दिलीप जी एक गरीब परिवार से ताल्लुक रखते थे। साथ ही उनका सपना था कि वह एक एक्टर बने। परिवार उनकी जिद्द के आगे हार मान गया और दिलीप जी का पूरा परिवार मुंबई आ गया।

kumar_2.jpg

पुणे की सड़कों पर बेचा सैंडविच

मुंबई आने के बाद दिलीप जी का झगड़ा उनके पिता से ही हो गया। जिसकी वजह से वह पुणे वापस लौट गए। परिवार से अलग होकर उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। तब उन्होंने पुणे की सड़कों पर सैंडविच बेचने का काम शुरू किया। कुछ समय बाद ही उन्होंने फिर से मुंबई जाने की सोची। जहां जाकर वह नौकरी की तलाश करने लगे।

kumar_3.jpg

बॉम्बे टॉकीज की मालकिन से हुई मुलाकात

काम की तलाश करते हुए अभिनेता दिलीप कुमार जी की मुलाकात बॉम्बे टॉकीज की मालकिन देविका रानी ( Mistress Devika Rani of Bombay Talkies ) की से हुई। उन्हें देखते ही देविका ने उन्हें फिल्मों में काम करने का सुझाव दिया। यह सुझाव दिलीप जी को भी काफी पसंद आया। उन्होंने फिल्मों में रोल पाने के लिए कड़ी मेहनत की, शुरूआती दौर में उन्हें काफी असफलताओं का सामना करना पड़ा। समय के साथ-साथ उनका करियर भी पटरी पर आना लगा। देखते ही देखते वह हिंदी सिनेमा जगत के चमकते सितारे बन गए। उनको काफी नाम और शोहरत भी मिली और आज वह दिग्गज अभिनेता के रूप में जाने जाते हैं।