जब चलती ट्रेन के नीचे फंस गई थीं जया प्रदा

By: Sunita Adhikari
| Published: 05 Apr 2021, 09:09 AM IST
जब चलती ट्रेन के नीचे फंस गई थीं जया प्रदा
Jaya Prada

अभिनेत्री व पॉलिटिशियन जया प्रदा की जिंदगी काफी उतरार-चढ़ाव से भरी हुई है। एक वक्त ऐसा भी आया, जब उन्होंने मौत को बेहद करीब से देखा था और उनकी जान बाल-बाल बची थी। इस बारे में खुद जया ने एक शो में बताया था।

नई दिल्ली: बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री जया प्रदा ने अपने जमाने में कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है। उनकी खूबसूरती पर हर किसी की निगाहें टिक कर रह जाती थीं। हालांकि अब फिल्मों से दूर जया राजनीति की पारी खेल रही हैं। पहले वह तेलगु देशम पार्टी और समाजवादी पार्टी का चेहरा हुआ करती थीं लेकिन अब वह बीजेपी की पार्टी में शामिल हैं। उनका सियासी सफर इतना आसान नहीं था। वहीं, उनकी जिंदगी भी काफी उतार-चढ़ाव से भरी हुई है। शादीशुदा होते हुए भी उन्हें पत्नी का दर्जा नहीं मिला। प्रोड्यूसर श्रीकांत नहाटा ने अपनी पत्नी को तलाक दिए बिना ही जया से शादी की थी। जिसके बाद जया को कई बातें सुननी पड़ीं।

काफी करीब से मौत को देखा
वहीं, एक बार जया प्रदा मौत को बेहद करीब से भी देख चुकी हैं। वह ट्रेन के नीचे फंस गई थीं। जिसके बाद बाल-बाल उनकी जान बची थी। खेल-खेल में वह चलती ट्रेन के नीचे फंस गई। इस एक्सीडेंट से हर किसी की सांसे अटक गई थीं। इस हादसे का खुलासा खुद जया प्रदा ने टीवी शो ‘जीना इसी का नाम है’ में किया था।

रेल की पटरी पर खेल रहे थे
इस शो में जया बतौर मेहमान बनकर पहुंची थीं। उनके साथ अमर सिंह भी आए थे। इस दौरान जया ने अपने बचपन का किस्सा शेयर कियाय़ उन्होंने बताया कि जब वो उनके भाई छोटे थे तो एक दिन रेल की पटरी के किनारे खेल रहे थे। खेल के दौरान उनका भाई पटरी पर खड़ी ट्रेन के नीचे से निकलकर दूसरी तरफ पटरी पर पहुंच गया। ये देखकरव जया ने भी यही करने की ठानी। जया जैसे ही ट्रेन के नीचे गईं, ट्रेन चल पड़ी और वह नीचे फंस गईं। ट्रेन के चलने से जया काफी घबरा गईं और उनका भाई भी काफी डर गया। उनके भाई ने जोर-जोर से चिल्लाकर ट्रेन रोकनी की गुजारिश की। जिसके बाद उनकी आवाज सुनकर ड्राइवर ने तुरंत ट्रेन रोक दी।

जिंदगी भर रहेगी याद
जया ने शो में बताया कि वह पांच मिनट तक ट्रेन के नीचे फंसी रही थीं। इस दौरान वह काफी घबरा गई थीं। ट्रेन रुकने के बाद उनको वहां से बाहर निकाला गया। जया ने बताया कि उस दिन उन्होंने मौत को काफी करीब से देखा था। ये घटना मुझे जिंदगी भर याद रहेगी।