जब मीना कुमारी को नहीं पहचान पाए थे लाल बहादुर शास्त्री, पूछा था- 'कौन हैं मीना कुमारी?'

By: Shweta Dhobhal
| Published: 14 Sep 2021, 12:47 PM IST
जब मीना कुमारी को नहीं पहचान पाए थे लाल बहादुर शास्त्री, पूछा था- 'कौन हैं मीना कुमारी?'
When Lal Bahudar Shashtri Failed To Recognise Meena Kumari

मीना कुमारी मशहूर अभिनेत्रियों में से एक थीं। उनकी अदाकारी के चर्चे पूरे देशभर में होती थी। लेकिन देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री एक्ट्रेस की लोकप्रियता से अपरिचित थे। ये देख एक्ट्रेस काफी मायूस भी हो गई थीं।

नई दिल्ली। एक्ट्रेस मीना कुमार हिंदी सिनेमा जगत की मशहूर और सफल अभिनेत्रियों में एक हैं। मीना कुमारी ने अपनी अदाकारी और खूबसूरती के दम पर काफी लंबे समय तक इंडस्ट्री पर राज किया। उनकी खूबसूरती और एक्टिंग के दीवाने आम लेकर कई बड़ी हस्तियां भी थीं। मीना कुमारी की जिंदगी में ऐसी-ऐसी घटनाएं हुईं जिससे उन्हें ट्रेजेडी क्वीन के नाम से जाने जाना लगा। मीना कुमारी के जन्म से लेकर मौत तक कई ऐसे किस्से हैं। जिन्हें जानकर लोग दंग रह जाते हैं। उन्हीं में से मीना कुमारी और प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की मुलाकात का एक किस्सा भी काफी मशहूर है। जिसके बारें में आज भी लोग चर्चा करते हैं।

m_4.jpg

मीना कुमारी को नहीं पहचान पाए थे लाल बहादुर शस्त्री

एक वक्त था जब मीना कुमारी की हर फिल्म सुपरहिट होती थी। उनकी फिल्मों और एक्टिंग ने लोगों का दिल जीत लिया था। हर किसी की जुबान पर बस उस वक्त मीना कुमारी का ही नाम सुनने को मिलता था। पूरे देश में मीना कुमारी के चर्चे होते थे, लेकिन उन्ही में से एक भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री थे। जिन्हें यही नहीं पता थी कि मीना कुमारी कौन थीं। प्रधानमंत्री लाल बहादुर शस्त्री मीना कुमारी को पहचान ही नहीं पाए थे।

m_2.jpg

जब लाल बहादुर शास्त्री ने पूछा ये महिला कौन हैं?

ये बात तब की है जब मुंबई के एक स्टूडियो में लाल बहादुर जी को फिल्म पकीजा की शूटिंग को देखने के लिए आमंत्रित किया गया था। महाराष्ट्र के जो तत्कालीन मुख्यमंत्री थे उनकी तरफ से यहां आने के लिए काफी दबाव था जिसकी वजह से शास्त्री जी उन्हें ना नहीं कह पाए और स्टूडियों पहुंच गए। राइटर कुलदीप नैयर ने अपनी किताब ऑन लीडर्स एंड आइकॉन्स: फ्रॉम जिन्नाह टू मोदी में जिक्र किया है। कि उस वक्त वहां कई बड़े स्टार्स मौजूद थे। मीना कुमारी ने जैसे ही लाल बहादुर शास्त्री जी के गले में माला पहनाई उन्होंने बड़े ही आश्चर्य के साथ मीना कुमारी को देखा।

जैसे कि वो मीना कुमारी को जानते ही ना हो। तभी शास्त्री जी ने बड़ी ही विनम्रता से पूछा लिया कि "ये महिला कौन हैं?" 'मैंने हैरानी जताते हुए उनसे कहा –मीना कुमारी। शास्त्री जी ने अपनी अज्ञानता व्यक्त की। फिर भी मैंने उनसे सार्वजनिक तौर पर इसे स्वीकार करने की अपेक्षा कभी नहीं की थी।'

 

यह भी पढ़ें- मीना कुमारी के सामने राज कपूर भूल जाया करते थे अपने डायलॉग्स

m_3.jpg

शर्मिंदा हुईं थीं मीना कुमारी

कुलदीप नैयर के मुताबिक इसके बाद जब लाल बहादुर शास्त्री जी भाषण देने के लिए उठे तो उन्होंने अपने भाषण में एक्ट्रेस मीना कुमारी का नाम लेकर उन्हें भी संबोधित किया। प्रधानमंत्री ने मीना कुमारी से माफी मांगते हुए कहा था कि मुझे माफ करना मैंने आपना नाम पहली बार सुना है। इस भाषण के दौरान मीना कुमारी पहली ही सीट पर बैठी थीं। जब प्रधानमंत्री के मुख से मीना कुमारी ने ये बात सुनी तो उनके चेहरे पर एक शार्मिंदगी का एहसास देखने को मिला था।

यह भी पढ़ें- हेमा मालिनी से पहले मीना कुमारी को चाहते थे धर्मेंद्र, जानें ये दिलचस्प किस्सा

m_5.jpg

33 सालों तक सिनेमा इंडस्ट्री पर किया राज

33 सालों तक मीना कुमारी हिंदी सिनेमा जगत में काम करती रहीं। उन्होंने साहेब बीवी और गुलाम, बैजू बावरा, दिल अपना और प्रीत पराई, परिणीता, फुटपाथ, काजल और दिल एक मंदिर जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया। ऐसी कई फिल्मों से मीना कुमारी ने नाम कमाया और दर्शकों के दिलों में जगह बनाई। महज 38 साल की उम्र में मीना कुमारी ने दुनिया को अलविदा कह दिया। कोमा में जानें के दो दिन बाद ही मीना कुमारी का देहांत हो गया। मीना कुमारी का यूं चले जाना हिंदी सिनेमा जगत पर एक बड़ी चोट थी।