करण जौहर के बाद डायलॉग राइटर हुसैन दलाल ने ली फिल्म 'कलंक' के फ्लॉप होने की जिम्मेदारी, बताई वजह

By: पवन राणा
| Published: 21 Jul 2021, 08:27 PM IST
करण जौहर के बाद डायलॉग राइटर हुसैन दलाल ने ली फिल्म 'कलंक' के फ्लॉप होने की जिम्मेदारी, बताई वजह

बॉलीवुड फिल्म 'कलंक' की असफलता की जिम्मेदारी निर्माता करण जौहर पहले ही ले चुके थे। अब डायलॉग राइटर हुसैन दलाल ने कहा है कि उनके कविता वाले डायलॉग्स की वजह से फिल्म खराब हो गई।

मुंबई। फिल्ममेकर करण जौहर की मल्टीस्टारर फिल्म 'कलंक' 2019 में रिलीज की गई थी। माधुरी दीक्षित, संजय दत्त, सोनाक्षी सिन्हा, वरुण धवन, आलिया भट्ट और आदित्य रॉय कपूर स्टारर इस फिल्म को दर्शकों ने पसंद नहीं किया और यह बड़े बजट की फिल्म फ्लॉप साबित हुई। फिल्म फ्लॉप होने की जिम्मेदारी निर्माता करण जौहर ले चुके थे। अब इस मूवी के डायलॉग राइटर हुसैन दलाल ने फिल्म के नहीं चलने की जिम्मेदारी ली है।

'खराब करने की जिम्मेदारी लेता हूं'
हाल ही एक इंटरव्यू में हुसैन ने कहा कि जब उन्हें सफलता मिली, तो कई निर्माताओं ने उनसे सम्पर्क किया। लेकिन जब असफलता मिली, तो हिचक थी क्योंकि उन्हें यकीन था कि 'कलंंक' उनकी वजह से ही फेल हुई। हुसैन से सवाल किया गया कि वे मानते हैं कि काव्यात्मक डायलॉग की जगह नेचुरल डायलॉग होने चाहिएं और 'कलंक' मेंं काव्यात्मक डायलॉग थे। इस पर हुसैन ने कहा,'मैंने सीखा। कविता को लेकर मैंने ज्यादा ही कुछ कर दिया। अगर मैंने इसे आसान रखा होता, तो शायद ज्यादा बेहतर तरीेके से बात कही जा सकती थी। 'कलंक' मेरे लिए बहुत व्यक्तिगत थी। मैं इस फिल्म को ज्यादा कविता वाले डायलॉग लिखकर, थोड़ा बहुत ही सही, खराब करने की जिम्मेदारी लेता हूं।'

यह भी पढ़ें : करण जौहर की हरकत देख श्वेता बच्चन ने छोड़ दिया था खाना, चली गई थीं घर भूखी

'असफलता बड़ा शिक्षक होती है'
हुसैन ने कहा कि सफलता बाहरी होती है जबकि असफलता आंतरिक, क्योंकि यह एक कलाकार को बदलती है। बॉलीवुड हंगामा में बातचीत में हुसैन ने बताया कि सफलता के बारे में कहा जा सकता है कि आप सुबह उसी व्यक्ति की तरह उठते हो। मैं जागा, चाय पी, अखबार पढ़ा... सफलता अमूर्त होती है। आप इसे देख नहीं सकते। यह केवल संसार के लिए होती है... मैंने असफलता को महसूस किया है जब एक मूवी नहीं चलती है। मेरे लिए 2 साल पहले 'कलंक' असफल रही। इसकी जिम्मेदारी का अहसास जो आपको होता है, वह आपको बताता है कि आपने इसे बर्बाद किया। एक कलाकार के लिए असफलता ज्यादा मूर्त होती है। सफलता केवल दूसरे लोगों की सोच में होती है, यह कलाकार के लिए नहीं होती है। असफलता बड़ा शिक्षक होती है, यह कलाकार को बनाती है।'

यह भी पढ़ें : करण जौहर के धर्मा प्रोडक्शन की मूवी 'दोस्ताना 2' से कार्तिक आर्यन को हटाया गया

karan_johar_and_hussian_dalal.png

करण जौहर ने ली 'कलंक' के फ्लॉप होने की जिम्मेदारी
गौरतलब है कि हुसैन से पहले करण जौहर ने 'कलंक' की असफलता की जिम्मेदारी ले ली थी। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था,'जब कभी भी एक फिल्म फ्लॉप होती है, आप कह सकते हैं कि ये एक ग्रुप ने बनाई है, इसलिए हर कोई समान रूप से जिम्मेदार है। लेकिन इस ग्रुप का वरिष्ठ सदस्य होने के नाते, अगर यह फेल हुई, तो ये पूरी तरह से मेरी जिम्मेदारी है।'

Karan Johar