scriptFarmers demanded by hanging on the trees | पेड़ों पर लटक कर मांगा किसानों ने नहरी पानी | Patrika News

पेड़ों पर लटक कर मांगा किसानों ने नहरी पानी

छापरदा गणेश मंदिर में नहरी पानी की मांग को लेकर चल रहा किसान आंदोलन रविवार को चौथे दिन भी जारी रहा, किसानों ने किया प्रदर्शन

बूंदी

Published: February 05, 2018 03:59:13 pm

बूंदी. खटकड़. छापरदा गणेश मंदिर में नहरी पानी की मांग को लेकर चल रहा किसान आंदोलन रविवार को चौथे दिन भी जारी रहा। रविवार को किसानों ने पेड़ों पर उल्टा लटककर प्रदर्शन किया। जानकारी के अनुसार किसानों का सीएडी प्रशासन के विरुद्ध आक्रोश बढ़ता जा रहा है। किसानों का कहना है कि कई बार सीएडी प्रशासन से नहरी पानी पहुंचाने की मांग की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही। फसलों को पानी की आवश्यकता है।
Farmers demanded by hanging on the trees
यदि अभी पानी नहीं मिलता है तो फसले सूख जाएगी। क्रमिक अनशन में लालचंद डोई, महावीर, पप्पूलाल, महावीर, मुकेश, मांगीलाल, बाबूलाल, रघुवीर, भूरीबाई, हजारी बाई, मौसमी बाई, नंदकंवरी बाई, कमला बाई, देवराज, मोतीलाल, महेन्द्र, महावीर, राजेन्द्र, रामदयाल, शिवराज बैठे। धरना स्थल पर रूपेश शर्मा, दुर्गालाल मीणा, हनुमान भाकल, रिहाणा सरपंच भवानीश्ंाकर मीणा भी पहुंचे।
आज बूंदी कूच
पंचायत समिति सदस्य महेन्द्र डोई ने बताया कि क्रमिक अनशन को जारी रखते हुए सोमवार को बूंदी कूच करेंगे। अपनी पीड़ा को व्यक्त करते हुए जिला कलक्ट्रेट में विरोध प्रदर्शन करेंगे। समस्या का समाधान नहीं होने तक कलक्ट्रेट पर ही धरना देंगे।
यहां नहरों के अच्छे दिन शुरू
हिण्डोली. पेच की बावड़ी बांध व क्षतिग्रस्त नहरों के अच्छे दिन शुरू हो गए। जलसंसाधन विभाग ने बांध व नहरों की मरम्मत के लिए एक करोड़ ८१ लाख रुपए स्वीकृत किए, जिसका कार्य शुरू हो गया। चार दशक से अधिक पुराने पेच की बावड़ी बांध की नहरंे जर्जर हो चुकी थी।कई बार बांध में पानी की आवक होने के बाद भी नहरों में जल प्रवाह करने से नहरों का पानी अंतिम छोर तक किसानों को नहीं मिल पाता। बीच में ही नहरों में पानी का रिसाव काफी मात्रा में होने से पानी व्यर्थ ही बह जाता है। बांध की पाल पर भी पानी का कुछ रिसाव होता है। जलसंसाधन विभाग ने बांध व नहरों के जीर्णोद्धार के लिए सरकार को प्रस्ताव भेजे थे।
विभागीय सूत्रों ने बताया कि कि पूरी पाल को कोबिट लेमिना से जोड़ा जाएगा। डाउन स्ट्रीम में पानी का रिसाव रोकने के लिए फील्टर बनाए जाएंगे। विभाग के अधिशासी अभियंता सईद अहमद ने बताया कि एक करोड़ ८१ लाख रुपए की लागत से बांध व नहरों की मरम्मत होगी। इसका कार्य शुरू हो गया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

हैदराबाद में आज से शुरू हो रही BJP की कार्यकारिणी बैठक, प्रधानमंत्री मोदी कल होगें शामिल, जानिए क्या है बैठक का मुख्य एजेंडाDelhi News Live Updates: दिल्ली में आज भी मेहरबान रहेगा मानसून, आईएमडी ने जारी किया बारिश का अलर्टLPG Price 1 July: एलपीजी सिलेंडर हुआ सस्ता, आज से 198 रुपए कम हो गए दामJagannath Rath Yatra 2022: देशभर में भगवान जगन्नाथ रथयात्रा की धूम, अमित शाह ने अहमदाबाद में की 'मंगल आरती'Kerala: सीपीआई एम के मुख्यालय पर बम से हमला, सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपीRBI गवर्नर शक्तिकान्त दास बोले- खतरनाक है CryptocurrencyIND vs ENG Test Live Streaming: दोपहर 3 बजे से शुरू होगा टेस्ट, जानें कब, कहां और कैसे देख सकते हैं मैचइंग्लैंड के खिलाफ T-20 और वनडे सीरीज के लिए टीम इंडिया का हुआ ऐलान, शिखर धवन सहित दिग्गजों की वापसी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.