scriptश्रमिकों ने ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में किया घेराव | Patrika News
बूंदी

श्रमिकों ने ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में किया घेराव

नैनवां नगरपालिका में अकुशल श्रमिकों को लगाने वाले ठेकेदार द्वारा श्रमिकों की पीएफ व राज्य बीमा की राशि का भुगतान नहीं किए जाने से खफा श्रमिकों ने बुधवार को ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में घेराव कर लिया। घेराव के दौरान मारपीट की भी घटना होने की बात सामने आई है।

बूंदीJun 27, 2024 / 11:53 am

Narendra Agarwal

श्रमिकों ने ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में किया घेराव

नैनवां। नगरपालिका कार्यालय में पहुंचकर ठेकेदार से मामले की जानकारी लेते पुलिस के एएसआई देवलाल

नैनवां. नैनवां नगरपालिका में अकुशल श्रमिकों को लगाने वाले ठेकेदार द्वारा श्रमिकों की पीएफ व राज्य बीमा की राशि का भुगतान नहीं किए जाने से खफा श्रमिकों ने बुधवार को ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में घेराव कर लिया। घेराव के दौरान मारपीट की भी घटना होने की बात सामने आई है। श्रमिकों ने जहां ठेकेदार के खिलाफ महिला श्रमिकों के साथ अभद्रता करने की तो ठेकेदार ने पालिका उपाध्यक्ष व अन्य के खिलाफ मारपीट करने की रिपोर्ट दी है। नगरपालिका में हंगामे की सूचना पर थाने से एएसआई देवलाल नगरपालिका कार्यालय पहुंचे और ठेकेदार को पुलिस संरक्षण में थाने पर लेकर आए।
यह था मामला
सीकर जिले के श्रीमाधोपुर निवासी सुनील जाट के दो वर्षों वर्ष 2022-23 व वर्ष 2023-24 के लिए नैनवां नगरपालिका में अकुशल श्रमिक लगाने का ठेका था। ठेकेदार ने नगरपालिका से लगाए श्रमिकों की पीएफ व राज्य बीमा की राशि तो उठा ली, लेकिन श्रमिकों को कुछ माह की राशि का ही भुगतान किया। बाकी राशि का भुगतान नही किया।
नगरपालिका कार्यालय के अनुसार 35 श्रमिकों की पीएफ व राज्य बीमा की 5 लाख 63 हजार रुपए की राशि ठेकेदार ने नगरपालिका से उठा ली, लेकिन ठेकेदार ने श्रमिकों का भुगतान नही किया। इनमें एक दर्जन ऐसे श्रमिक भी थे, जिनकी 21 माह की राशि का भुगतान नहीं किया। ठेकेदार का मार्च माह में ठेका पूरा हो गया था। बुधवार को ठेकेदार नगरपालिका में अनुभव प्रमाण पत्र बनवाने आया था। श्रमिकों ने ठेकेदार को पकड़ लिया और उनकी राशि का भुगतान करने की मांग की।
श्रमिकों ने यह दी रिपोर्ट
श्रमिकों ने थाने में दी रिपोर्ट में आरोप लगाया कि ठेकेदार सुनील चौधरी ने दो वर्षों वर्ष 2022-23 व 23-24 अद्र्ध कुशल श्रमिकों का ठेका लिया था। ठेकेदार ने नगरपालिका से पीएफ व राज्य बीमा की राशि को प्राप्त कर ली, लेकिन श्रमिकों को राशि का भुगतान नही किया। बुधवार को ठेकेदार नगरपालिका आया तो बकाया भुगतान के बारे में बात की तो ठेकेदार सुनील चौधरी ने श्रमिकों के साथ अभद्रता की जाति सूचक शब्दों से प्रताडि़त कर धमकाया।
भुगतान रोका
अधिशासी अधिकारी मोतीशंकर नागर का कहना है कि ठेकेदार ने श्रमिकों को पीएफ व राज्य बीमा की राशि का भुगतान नहीं किया। ठेकेदार का दो माह का भुगतान रोक लिया है। श्रमिकों की राशि का भुगतान करने के बाद ही शेष राशि का भुगतान किया जाएगा।
Bundi News, Bundi Rajasthan News, Contractor, Labour, Siege, Unskilled Labour, Overviewठेकेदार सुनील चौधरी ने पुलिस को दी रिपोर्ट में लिखा कि नगरपालिका में अकुशल श्रमिकों का ठेका लेता हूं। कुछ श्रमिकों का पीएफ का पैसा तकनीकी कारणों से अपडेट नहीं हो पाया है। पीएफ की राशि नकद नहीं दी जा सकती। श्रमिकों को समझाइश की जा रही थी तो वाइस चेयरमैन आबिद हुसैन, चेयरमैन के लडक़े राजू गुर्जर, एक महिला श्रमिक सहित श्रमिको ने वाइस चेयरमैन के कक्ष में लात-घूंसों से मारपीट की, कपड़े फाड़ दिए।

Hindi News/ Bundi / श्रमिकों ने ठेकेदार का नगरपालिका कार्यालय में किया घेराव

ट्रेंडिंग वीडियो