1.9 फीसदी की रफ्तार से बढ़ेगी भारत की अर्थव्यवस्था, G20 देशों में सबसे ज्यादा: RBI

RBI गवर्नर शक्तिकांत दास की प्रेस कॉन्फ्रेंस

1.9 फीसदी से बढ़ेगी इकोनॉमी

रिवर्स रेपो रेट में की गई कटौती

By: Pragati Bajpai

Updated: 18 Apr 2020, 07:28 AM IST

नई दिल्ली : कोरोनावायरस की वजह से चरमरा चुकी अर्थव्यवस्था में जान फूंकने के लिए सरकार द्वारा दूसरे आर्थिक पैकेज के इंतजार के बीच आज भारतीय रिजर्व बैंक (RBI ) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस की। rbi I गवर्नर ने कहा कि कोरोना संकट के बीच बैंक सभी हालात पर नजर रखे हुए है, कदम-कदम पर फैसले लिए जा रहे हैं।

20 अप्रैल से ऑनलाइन मिलेंगे एसी, कूलर, लेकिन फिर भी कारोबार ठंडा रहने की आशंका

शक्तिकांत दास ने कहा कि हमारे 150 से अधिक अधिकारी लगातार क्वारनटीन होकर काम कर रहे हैं और हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। उन्होने इस वक्त में काम कर रहे अधिकारियों का धन्यवाद देते हुए कहा कि दुनिया में 9 ट्रिलियन डॉलर का नुकसान होने का अनुमान है। ऐसे हालात में भारत की GDP 1.9 की रफ्तार से बढ़ेगी, जो कि G20 देशों में ये सबसे अधिक है। लेकिन कोरोना संकट के खत्म होने के बाद भारत की इकोनॉमी एक बार फिर से 7 फीसदी से अधिक की रफ्तार से आगे बढ़ेगी।

आरबीआई गवर्नर ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि मार्च 2020 में निर्यात में भारी गिरावट आई है, इसके बावजूद विदेशी मुद्रा भंडार 476 अरब डॉलर का है जो 11 महीने के आयात के लिए काफी है। दुनिया में कच्चे तेल के दाम लगातार घट रहे हैं, जिससे फायदा हो सकता है.

आपको बता दें कि RBI के ऐलानों के साथ ही NSE के बैंक सेक्टर शेयर्स में गिरावट देखी गई वहीं रूपया भी डॉलर के मुकाबले कमजोर नजर आया

rbi reserve bank of india
Pragati Bajpai
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned