scriptNirmala Sitharaman Says Antrix-Dewas deal against country's security | Antrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़ | Patrika News

Antrix-Devas deal पर बोली निर्मला सीतारमण, यूपीए सरकार की नाक के नीचे हुआ देश की सुरक्षा से खिलवाड़

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 साल से ज्यादा पुराने Antrix Devas Deal मामले में यूपीए सरकार पर बड़ा आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यूपीए सरकार की नाक के नीचे देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ हुआ। उन्होंने कहा कि ये सौदा देश की सुरक्षा के खिलाफ था और इसमें बड़ा घोटाला हुआ है। वित्त मंत्री ने इस मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत किया।

नई दिल्ली

Updated: January 18, 2022 06:05:30 pm

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 10 साल से अधिक पुराने Antrix Devas Deal मामले में मंगलवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस की। मीडिया से बातचीत में वित्त मंत्री ने पूर्व की यूपीए सरकार पर बड़ा आरोप लगाया। इस मामले के लिए वित्त मंत्रीने कांग्रेस के नेतृत्व वाली पिछली सरकार को जिम्मेदार बताया और कहा कि यह भारत के साथ फ्रॉड हुआ था। उन्होंने कहा कि तत्कालीन सरकार की गलतियों को सही करने में 11-12 साल लग गए। 2011 में जब इसे रद्द किया गया तब देवास अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता में चला गया। भारत सरकार ने मध्यस्थता के लिए नियुक्ति नहीं की। 21 दिनों के अंदर मध्यस्थता के लिए नियुक्ति के लिए कहा गया, लेकिन सरकार ने तब भी इसको लेकर नियुक्ति नहीं की।
Nirmala Sitharaman Says Antrix-Dewas deal against country's security
Nirmala Sitharaman Says Antrix-Dewas deal against country's security
निर्मला सीतारमण ने कहा कि जब 2005 में यह सौदा हुआ था, तब यूपीए की सरकार थी। डील में घोटाला हुआ है। इसे कैंसल करने में यूपीए सरकार को 6 साल लग गए। मामला इतना बढ़ा है कि एक सेंट्रल मिनिस्टर को गिरफ्तार करना पड़ा था। उन्होंने कहा कि, तत्कालीन यूपीए ने इस सौदे की खबर कैबिनेट को भी नहीं दी। यूपीए की लालच की वजह से मोदी सरकार कई अंतराष्ट्रीय अदालतों में केस लड़ रही है।

यह भी पढ़ें

टैक्स बचाने के लिए यहां करें निवेश, खूब मिलेगा रिटर्न

वित्त मंत्री ने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 24 फरवरी 2011 को कहा था कि एंट्रिक्स और देवास डील को मंजूरी देने के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय की जरूरत नहीं पड़ी, क्योंकि ये कभी इस स्तर तक पहुंचा ही नहीं। सिर्फ दो सैटेलाइट को लॉन्च करने की बात कैबिनेट के संज्ञान में लाई गई। 2015 में मोदी सरकार ने नया मसौदा तैयार किया। भारत सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के फैसला का स्वागत किया।
सीतारमण ने कहा कि ये सौदा असल में एक धोखाधड़ी थी। पीएम मोदी की सरकार ने हर अदालत में इस फ्रॉड के खिलाफ लड़ाई की है। इस मामले को देवास आर्बिट्रेटर के पास लेकर गई, लेकिन तब की सरकार ने कभी आर्बिटरेटर अपॉइंट नहीं किया।
सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार 17 जनवरी को दिए अपने फैसले में कहा है कि देवास मल्टीमीडिया को एंट्रिक्स कॉरपोरेशन के कर्मचारियों की मिलीभगत से फर्जीवाड़े के मकसद से ही बनाया गया था। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक देवास भारत में सिर्फ 579 करोड़ रुपए लेकर आई, जबकि 85 फीसदी राशि भारत से बाहर भेज दी गई। इसमें कुछ हिस्सा अमरीका में कुछ सब्सिडियरी को बनाने के लिए भेज दिया गया। कुछ हिस्सा सर्विस और सपोर्ट के लिए भेजा गया। जबकि कुछ हिस्सा कानूनी लड़ाई में खर्च कर दिया गया।
क्या है देवास-एंट्रिक्स डील

ये मामला इसरो की Antrix Corp और देवास मल्टीमीडिया के बीच हुए एक सैटेलाइट सौदे से जुड़ा है। देवास मल्टीमीडिया और एंट्रिक्स कॉरपोरेशन के बीच साल 2005 में सैटेलाइट सेवा से जुड़ी एक डील हुई थी। बाद में पता चला सैटेलाइट का इस्तेमाल मोबाइल से बातचीत के लिए होना था, लेकिन सरकार की इजाजत नहीं ली गई। देवास को इसरो के ही पूर्व साइंटिफिक सेक्रेटरी एमडी चंद्रशेखर ने बनाया था। इसे 2011 में फर्जीवाड़े के आरोपों को चलते रद्द कर दिया गया।

यह भी पढ़ें

अब हर साल 16 जनवरी को मनाया जाएगा National Start-up Day



डील कैंसल होने के बाद देवास ने भारत सरकार से अपने नुकसान की भरपाई करने की मांग की थी। खिंचता हुआ ये मामला इंटरनेशनल कोर्ट में पहुंच गया। यहां देवास की जीत हुई थी। इंटरनेशनल चैंबर ऑफ कॉमर्स की कोर्ट ने भारत सरकार से कहा था कि वह देवास को 1.3 बिलियन डॉलर का भुगतान करे। इस रकम की रिकवरी के लिए देवास के विदेशी शेयरहोल्डर्स कनाडा और अमरीका समेत कई देशों में भारत सरकार के खिलाफ मुकदमा दायर कर चुके हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

IPL 2022 MI vs SRH Live Updates : रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने मुंबई को 3 रनों से हरायामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...जम्मू कश्मीर के बारामूला में आतंकवादियों ने शराब की दुकान पर फेंका ग्रेनेड,3 घायल, 1 की मौतमॉब लिंचिंग : भीड़ ने युवक को पुलिस के सामने पीट पीटकर मार डाला, दूसरी पत्नी से मिलने पहुंचा थादिल्ली के अशोक विहार के बैंक्वेट हॉल में लगी आग, 10 दमकल मौके पर मौजूदभारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगाकर्नाटक के राज्यपाल ने धर्मांतरण विरोधी विधेयक को दी मंजूरी, इस कानून को लागू करने वाला 9वां राज्य बनाSwayamvar Mika Di Vohti : सिंगर मीका का जोधपुर में हो रहा स्वयंवर, भाई दिलर मेहंदी व कॉमेडियन कपिल शर्मा सहित कई सितारे आए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.