500 रुपए में खुलवाएं डाकघर बचत खाता, मिलेगा हाई रिटर्न और 7000 की टैक्स छूट

 

डाकघर बचत खाते पर दी जाने वाली ब्याज दरों की सरकार द्वारा तिमाही समीक्षा की जाती है है। वैध केवाईसी दस्तावेजों वाला कोई भी व्यक्ति निकटतम डाकघर में 500 रुपए की शुरुआती जमा राशि के साथ एक बचत खाता खोल सकता है।

By: Dhirendra

Updated: 13 Jul 2021, 06:18 PM IST

नई दिल्ली। अगर आप अपनी मेहनत की कमाई को बचाते हुए कुछ अतिरिक्त लाभ अर्जित करना चाहते हैं तो आपके लिए सबसे बेहतर विकल्प डाकघर में बचत खाता खुलावाना और पैसा जमा करना हो सकता है। डाकघर में बचत खाता खुलवाने का आपको दोहरा लाभ मिल सकता है। पहला बैंकों की तुलना में अधिक ब्याज और दूसरा जमाकर्ता को एक वित्तीय वर्ष में 3,500 रुपए तक के ब्याज पर कर छूट के आप पात्र होंगे वो अलग। संयुक्त खाते के मामले में यह छूट 7,000 रुपए तक है।

Read More: Sovereign Gold Bond Scheme: सस्ते में सोना खरीदने का सुनहरा मौका, लास्ट डेट 16 जुलाई

डाकघर बचत खाते पर ब्याज ज्यादा

पिछले कुछ समय से बैंक बचत खाते पर दिए जाने वाले ब्याज में गिरावट जारी है। भारतीय सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक द्वारा दी जाने वाली ब्याज दर सालाना 2.7 प्रतिशत तक गिर गई है। जबकि डाकघर बचत खाते अभी भी 4 फीसदी रिटर्न दे रहे हैं। यही वजह है कि डाकखाने की छोटी बचत योजना खुदरा निवेशकों के बीच सबसे पसंदीदा विकल्पों में से एक है। इसमें दूसरी स्कीमों की तुलना में अधिक ब्याज मिलता है। डाकघर बचत खाते सहित छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों की तिमाही आधार पर समीक्षा की जाती है। जुलाई से सितंबर तिमाही के लिए सरकार ने छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया है।

सिर्फ इतने रुपए में खुलवा सकते हैं डाकघर बचत खाता

डाकघर बचत खाता न्यूनतम 500 रुपए जमा कर खोला जा सकता है। डाकघर बचत खाते पर ब्याज की गणना हर महीने की 10 तारीख या महीने के आखिरी दिन के बीच न्यूनतम शेष राशि पर की जाती है। रखरखाव शुल्क के रूप में 100 की कटौती की जाती है। अगर खाते का बैलेंस जीरो हो जाता है तो खाता अपने आप बंद हो जाएगा।

जीरो बैलेंस पर अकाउंट खोलने की सुविधा

वित्त मंत्रालय ने Post Office में सेविंग बैंक अकाउंट को लेकर 9 अप्रैल, 2021 को एक नोटिफिकेशन जारी किया था। जिसमें बताया था कि कौन-कौन लोग जीरो बैलेंस पर सेविंग अकाउंट खोल सकते हैं। इनमें कोई भी आम व्यक्ति जो किसी भी सरकारी कल्याण योजना का पंजीकृत वयस्क सदस्य हो और नाबालिग की स्थिति में अभिभावक द्वारा जिसका नाम किसी भी सरकारी लाभ के लिए रजिस्टर्ड है, वे इसका लाभ ले सकते हैं।

Read More: अगस्त में आएगी पीएम किसान की 9वीं किश्त, ऐसे चेक करें अपना बैलेंस

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned