scriptसरकारी स्कूलों में अब कॉर्पोरेट स्कूलों की तर्ज पर सुविधाएं : कलक्टर चक्रधर बाबू | AP: Makeover for govt schools in state on corporate lines | Patrika News

सरकारी स्कूलों में अब कॉर्पोरेट स्कूलों की तर्ज पर सुविधाएं : कलक्टर चक्रधर बाबू

locationचेन्नईPublished: Aug 12, 2021 07:29:51 pm

Submitted by:

PURUSHOTTAM REDDY

-बदलने लगी है स्कूलों की तस्वीरें

Makeover for govt schools in state on corporate lines
Makeover for govt schools in state on corporate lines

Vikram Jain @ नेल्लोर.

आंध्र प्रदेश सरकार ने राज्य में स्कूलों में शिक्षा व्यवस्था को बदलने के लिए नाडु-नेडू (कल-आज) योजना लागू कर सरकारी स्कूलों की काया पलटने का बीड़ा उठाया है। इनमें कॉर्पोरेट स्कूलों की तर्ज पर सुविधाएं उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया है।

नेल्लोर जिले में कुल 1060 सरकरी स्कूलों में नाडु-नेडू योजना के तहत 90 प्रतिशत काम पूरा किया जा चुका है। इसके लिए सरकार ने 244.50 करोड़ रूपए की पहली किस्त जारी की। सरकार ने छात्रों के लिए जगन अन्ना गोरूमुद्दा के तहत पौष्टिक आहार, जागन अन्ना विद्याकानुका के तहत दसवीं तक के छात्रों को निशुल्क स्कूल बैग, यूनिफार्म, दो जोड़ी जूते-मौजे, पाठ्यक्रम की पुस्तकों समेत अन्य सामग्री दी जा रही है। प्रत्येक छात्र की शिक्षा में आर्थिक सहयोग के तौर पर 15 हजार रुपए सीधे उसकी मां के खाते में डाले जा रहे हैं।

छात्र-छात्राओं के लिए हर प्रकार की सुविधा

नाडु नेडू योजना के तहत स्कूलों में छात्र-छात्राओं के लिए अलग अलग शौचालय का निर्माण, स्कूलों की जरूरी मरम्मत एवं रंग-कलर करवाने, बिजली उपकरण व स्वच्छ पेयजल की व्यवस्था, शिक्षकों और कक्षाओं में आवश्यक फर्नीचर, कक्षाओं में ग्रीन बोर्ड, छात्रों को शिक्षा के प्रति पे्ररित करने के लिए दीवारों पर चित्रकारिता, अंग्रेजी प्रयोगशाला और छात्रों की सुरक्षा के लिए स्कूलों के चारों और पक्की दीवार का निर्माण आदि काम किया जा रहा है।

जिला कलक्टर चक्रधर बाबू ने कहा नाडु नेडू योजना के तहत सरकरी स्कूलों का आधुनिकीकरण कार्य तेजी से चल रहा है। जिले में कुल 1060 स्कूलों में 96 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है और जल्द ही अन्य 10 प्रतिशत कार्य भी पूरा हो जायेगा। जिले के लिए अब तक सरकार 139 करोड़ 34 लाख रुपये जारी कर चुकी है। सरकरी स्कूल में पढऩे के लिए पहुंच रहे बच्चों को हरेक सुविधा उपलब्ध करवाई जाएगी।

राज्य में एक शैक्षिक क्रांति की शुरुआत

अभिभावक मनोहरी का कहना है कि मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी ने माता-पिता पर बिना किसी वित्तीय बोझ के गरीब छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की व्यवस्था की है। उन्होंने दृढ़ संकल्प के साथ गरीब छात्रों के लिए विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं को अथक रूप से लागू करके राज्य में एक शैक्षिक क्रांति की शुरुआत की है।

ट्रेंडिंग वीडियो