scriptRains return to haunt Chennai and others Dist in TN | चेन्नई में बादल फटने वाले हालात, बारिश के बीच नए साल का आगाज | Patrika News

चेन्नई में बादल फटने वाले हालात, बारिश के बीच नए साल का आगाज

- तमिलनाडु के 10 जिलों में भारी बारिश
- नागपट्टिनम जिले में रेड अलर्ट

चेन्नई

Published: December 31, 2021 08:02:52 pm

चेन्नई.

नए साल के जश्न की तैयारी कर रहे चेन्नई समेत पूरे राज्यवासी तब हैरान रह गए जब अचानक हुई बेमौसम बारिश ने जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया। आम लोगों की तरह मौसम विभाग भी इस भारी बारिश को देखकर हैरान रह गया। चूलैमेडु, टी. नगर, अशोक नगर, तैनाम्पेट, मईलापुर और ब्रॉडवे में अभी-अभी नवम्बर में हुई भारी बारिश के प्रकोप से उबरे ही थे, एक बार फिर से भारी बारिश की गिरफ्त में आ गए।

dd.jpg

बारिश के साथ तेज हवाएं भी
शुक्रवार दोपहर को बादल छा गए और हल्की बूंदाबांदी के साथ शुरू हुआ बारिश का सिलसिला भारी बारिश में बदल गया और लोगों की परेशानी शुरू हो गई। नए साल की पूर्व संध्या पर जश्न का माहौल भी खराब हो गया। बारिश के साथ तेज हवाएं चल रही थीं, जिससे ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन के अधिकारियों को कई हिस्सों में मोटर पंपों का उपयोग कर जमा पानी को बाहर निकालने जैसे राहत कार्यों में भी बाधा उत्पन्न हुई।

इससे सामान्य जनजीवन प्रभावित रहा क्योंकि कई इलाके जलमग्न हो गए। वाहनों की आवाजाही प्रभावित हुई। कई इलाकों में बारिश का पानी घरों में घुस गया है। भारी बारिश और इस वजह से हुई बिजली गुल होने के चलते चेन्नई के तीन सबवे को यातायात के लिए बंद कर दिया गया है।

अगले पांच दिन तक बारिश की चेतावनी
इधर, भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने तमिलनाडु के कई जिलों में अगले पांच दिन मध्यम से तेज बारिश होने का पूर्वानुमान जारी किया है। मौसम विभाग के मुताबिक नागपट्टिनम जिले के कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। वहीं विल्लुपुरम, कडलूर, चेंगलपेट, कांचीपुरम, चेन्नई, पुदुचेरी और कराईकल क्षेत्र के कुछ स्थानों पर भी तेज बारिश होने की संभावना जताई है।

स्कूल-कॉलेज बंद रहे
उधर, शुक्रवार को चेन्नई, तिरुवल्लूर, कांचीपुरम और चेंगलपेट जिलों में आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाली सेवाओं को छोडकऱ सभी सरकारी ऑफिस, स्कूल, कॉलेज और शैक्षणिक संस्थान बंद रहे। चेन्नई और उसके पड़ोसी जिलों के कई क्षेत्र जलमग्न हैं, जबकि निचले इलाकों और नदी के पास रहने वाले लोगों को अस्थायी रूप से विशेष राहत शिविरों में शरण लेनी पड़ी। खुद मुख्यमंत्री स्टालिन राहत कार्यों की निगरानी कर रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि जल्द ही स्थिति में सुधार होगा।

चक्रवाती परिसंचरण का पैटर्न 5.8 किमी की ऊंचाई पर बना हुआ है। तथा अभी भी तट के करीब है और थोड़ा पूर्व-पश्चिम दिशा में आगे बढ़ेगा। इसलिए तटीय तमिलनाडु में काफी बारिश होगी।
डॉ. पुवियारासन, निदेशक
मौसम विभाग

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारराजस्थान में कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी,विवाह समारोह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमतिJaipur Corona Update: जयपुर में आज मिले 2919 नए कोरोना मरीजRajasthan Corona Update: राजस्थान में आज 13 मरीजों की कोरोना से मौत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.