scriptरेलवे स्टेशन पर खुलेगा जन औषधि केंद्र, यात्रियों के बीमार होने पर तत्काल मिलेगी दवा | Patrika News
छतरपुर

रेलवे स्टेशन पर खुलेगा जन औषधि केंद्र, यात्रियों के बीमार होने पर तत्काल मिलेगी दवा

जन औषधि केंद्र योजना के तहत स्टेशन पर दवा दुकान के आउटलेट खोलने का लाइसेंस दिया जाना है। हालांकि पायलट प्रोजेक्ट के तहत फिलहाल झांसी रेलवे स्टेशन पर वह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इसके बाद छतरपुर-टीकमगढ़ रेलवे स्टेशन पर भी ये सुविधा मिलेगी।

छतरपुरJun 27, 2024 / 10:47 am

Dharmendra Singh

railway station

छतरपुर रेलवे स्टेशन

छतरपुर. रेलवे स्टेशन पर अगर यात्रियों को दवाओं की जरूरत पड़ती है, तो उन्हें स्टेशन से बाहर मेडिकल स्टोर तक दौड़ लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। रेलवे स्टेशनों पर जन औषधि केंद्र खोलने खोले जा रहा है। इससे न सिर्फ यात्रियों को फायदा होगा, बल्कि सबसे ज्यादा सुविधा बीमार यात्रियों को मिलेगी। जन औषधि केंद्र योजना के तहत स्टेशन पर दवा दुकान के आउटलेट खोलने का लाइसेंस दिया जाना है। हालांकि पायलट प्रोजेक्ट के तहत फिलहाल झांसी रेलवे स्टेशन पर वह सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। इसके बाद छतरपुर-टीकमगढ़ रेलवे स्टेशन पर भी ये सुविधा मिलेगी।

बड़े स्टेशनों के लिए ई-नीलामी से मिलेंगे स्टॉल


मंडल के अंतर्गत आने वाले बड़े रेलवे स्टेशनों पर केंद्र खोले जा सकते हैं। रेलवे स्टेशनों के जन औषधि केंद्र स्टॉल, आईआरईपीएस के माध्यम से ई-नीलामी द्वारा 3 वर्ष के लिए प्रदान किए जाएंगे। सफल बोली दाताओं को दवा की दुकान चलाने के लिए आवश्यक अनुमति और लाइसेंस प्राप्त करना होगा। दवाओं के भंडारण के लिए भी मानकों को पूरा करना होगा। इसके अलावा अमृत भारत योजना के तहत रेलवे स्टेशनों पर सुविधाएं बढ़ाने का सिलसिला लगातार जारी है।

अमृत भारत के तहत स्टेशनों पर बढ़ाई जा रही सुविधाएं


रेलवे के झांसी मंडल द्वारा निरंतर यात्री सुविधाओं की बढ़ोतरी तथा उच्चीकरण किया जा रहा है। इसी क्रम में अमृत भारत स्टेशन योजना के अंतर्गत चयनित स्टेशनों के पुनर्विकास के साथ-साथ यात्रियों को नए मॉडर्न फर्नीचर सहित साइनेज बोर्ड की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। यात्रियों को प्राथमिक चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के क्रम में प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्र योजनांतर्गत मंडल के वीरांगना लक्ष्मीबाई झांसी रेलवे स्टेशनों जन औषधि केंद्र खोलने की व्यवस्था की जा रही है जिसके माध्यम से रेल यात्रियों को सहज एवं रियायती दर पर दवाएं उपलब्ध होंगी। जन औषधि केंद्र का संस्थापन पायलट प्रोजेक्ट के तहत किया जा रहा है, जो की रोजगार स्थापित करने के क्रम में एक नई पहल साबित होगा।

सस्ती दवा व रोजगार प्रदान करना मकसद


रेलवे स्टेशनों पर जन औषधि केंद्र स्थापित करने का मूल उद्देश्य सस्ती कीमतों पर दवाएं उपलब्ध कराना है। स्टेशन पर दैनिक आगंतुकों और यात्रियों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए भारतीय रेलवे अपने स्टेशनों पर सुविधाओं और सुख-सुविधाओं को लगातार उन्नत कर रहा है। रेलवे स्टेशनों पर पीएमबीजेके स्थापित करने का उद्देश्य सभी को किफायती मूल्य पर गुणवत्तापूर्ण दवाइयां और उपभोग्य वस्तुएं (जन औषधि उत्पाद) उपलब्ध कराने के भारत सरकार के मिशन को बढ़ावा देना। रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों-आगंतुकों को जन औषधि उत्पादों तक आसानी से पहुंच उपलब्ध कराना। सस्ती कीमतों पर दवाइयां उपलब्ध कराकर समाज के सभी वर्गों के बीच स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ाना और रोजगार के अवसर सृजित करना तथा पीएमबीजेके खोलने के लिए उद्यमियों के लिए रास्ते तैयार करना है।

इनका कहना है

पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर फिलहाल यह यह योजना झांसी रेलवे स्टेशन पर शुरू होगी। इसके बाद झांसी मंडल के अन्य स्टेशनों पर केंद्रों का विस्तार किया जा सकता है।
मनोज कुमार सिंह, पीआरओ

Hindi News/ Chhatarpur / रेलवे स्टेशन पर खुलेगा जन औषधि केंद्र, यात्रियों के बीमार होने पर तत्काल मिलेगी दवा

ट्रेंडिंग वीडियो