scriptचित्तौड़गढ़ दुर्ग के फत्ता तालाब में सैंकड़ों मछलियां मरीं, कलक्टर के निर्देश पर दौड़े अधिकारी | Hundreds of fish died in Fatta pond of Durg, officers rushed on the instructions of the collector | Patrika News
चित्तौड़गढ़

चित्तौड़गढ़ दुर्ग के फत्ता तालाब में सैंकड़ों मछलियां मरीं, कलक्टर के निर्देश पर दौड़े अधिकारी

Chittorgarh Fort : ताजा हवा लेने शहर के लोग प्रात:कालीन भ्रमण में दुर्ग पर जाते हैं। ताकि अच्छी ऑक्सीजन मिल सके।

चित्तौड़गढ़Jun 24, 2024 / 02:39 pm

Supriya Rani

Chittorgarh News : ताजा हवा लेने शहर के लोग प्रात:कालीन भ्रमण में दुर्ग पर जाते हैं। ताकि अच्छी ऑक्सीजन मिल सके। लेकिन, दुर्ग के ही जयमल फत्ता तालाब में रविवार को पानी गंदा होने के कारण ऑक्सीजन नहीं मिलने से सैंकड़ों मछलियां मर गईं। लोग रविवार को सुबह जब तालाब की तरफ गए तो वहां बड़ी संख्या में मृत मछलियां पानी की सतह पर दिखाई दी। लोगों ने सामूहिक प्रयास से मृत मछलियों को बाहर निकाला।

जिला कलक्टर आलोक रंजन को इसकी जानकारी मिली तो उनके निर्देश पर पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग, नगर परिषद और मत्स्य विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे और तालाब के पानी का जांच के लिए नमूना लिया। प्रारंभिक तौर पर पानी गंदा होने के कारण ऑक्सीजन की कमी से मछलियों की मौत होना सामने आ रहा है। पहले गंभीरी नदी में भी बड़ी संख्या में मछलियां मर गई थीं। मृत मछलियों का यार्ड में ले जाकर निस्तारण किया जा रहा है। हर साल पहली बारिश के बाद ऐसी घटना होती रही है पर इस बार बहुत ज्यादा संख्या में मछलियां मरी हैं। गौरतलब है कि चित्तौड़ दुर्ग विश्व विरासत में शुमार होने के बावजूद यहां तालाब और स्मारक क्षेत्र में प्लास्टिक की थैलियां और गंदगी डालने पर कोई रोक-टोक नहीं हैं। फत्ता तालाब में भी गंदगी की भरमार है।

Hindi News/ Chittorgarh / चित्तौड़गढ़ दुर्ग के फत्ता तालाब में सैंकड़ों मछलियां मरीं, कलक्टर के निर्देश पर दौड़े अधिकारी

ट्रेंडिंग वीडियो