scriptRajasthan News : श्री सांवलिया सेठ मंदिर में खुली दान पेटियां, इतने करोड़ का कैश देख हर कोई रह गया दंग | Rajasthan News: Donation boxes opened in Shri Sanwalia Seth temple, everyone was stunned to see cash worth so many crores | Patrika News
चित्तौड़गढ़

Rajasthan News : श्री सांवलिया सेठ मंदिर में खुली दान पेटियां, इतने करोड़ का कैश देख हर कोई रह गया दंग

Famous Temple In Chittorgarh : चित्तौड़गढ़ जिले के कृष्णधाम श्रीसांवलियाजी में सांवरा सेठ का भंडार गुरुवार को खोला गया। जैसा कि हर बार जब भी मंदिर का भंडार खुलता है तो करोड़ों के दान निकलते हैं।

चित्तौड़गढ़Jul 05, 2024 / 02:33 pm

Supriya Rani

Chittorgarh Sanwariya Seth Mandir : चित्तौड़गढ़ जिले के कृष्णधाम श्रीसांवलियाजी में सांवरा सेठ का भंडार गुरुवार को खोला गया। जैसा कि हर बार जब भी मंदिर का भंडार खुलता है तो करोड़ों के दान निकलते हैं। जो भी लोग यहां भगवान के दर्शन को आते हैं, उनकी श्रद्धा सालों साल फिर यहां आने को मचल उठती है। आए दिन मंदिर में भक्तों की भीड़ उमड़ी रहती है। यहीं नतीजा है कि अब जब श्री सांवलियाजी की दानपेटी खुली और पहले राउंड में नोटों की गिनती हुई तो इतने पैसे देखकर हर कोई दंग रह गया।

पहले राउंड में मिले इतने पैसे

गुरुवार को कृष्णधाम श्रीसांवलियाजी में सांवरा सेठ का भंडार खुला। पहले राउंड में 7 करोड़ 70 लाख 41 हजार रुपए की गणना की गई है। शेष गिनती 6 जुलाई को की जाएगी। शुक्रवार को अमावस्या होने के कारण गिनती नहीं होगी। गुरुवार सुबह राजभोग आरती के बाद मंदिर मंडल के सीईओ एडीएम प्रथम राकेश कुमार और मंदिर मंडल अध्यक्ष भैरूलाल गुर्जर की उपस्थिति में भंडार खोला गया।

sanwariya seth

यह है इस मंदिर की खासियत

चित्तौडगढ़ के मंडफिया स्थित श्री सांवलिया सेठ का मंदिर करीब 450 साल पुराना है। मेवाड़ राजपरिवार की ओर से इस मंदिर का निर्माण करवाया गया था। मंडफिया मंदिर कृष्ण धाम के रूप में सबसे ज्यादा प्रसिद्द है। यह मंदिर चित्तौडग़ढ़ रेलवे स्टेशन से 41 किमी एवं डबोक एयरपोर्ट-उदयपुर से 65 किमी की दुरी पर स्थित है। सांवलिया जी का संबंध मीरा बाई से बताया जाता है। मान्यता के अनुसार मंदिर में स्थित सांवलिया जी मीरा बाई के वही गिरधर गोपाल है जिनकी वह पूजा किया करती थी।

हर महीने खुलता है मंदिर का भंडारा

श्री सांवलिया जी मंदिर का भंडारा हर माह अमावस्या के 1 दिन पहले चतुर्दशी को खोला जाता है। इसके बाद अमावस्या का मेला शुरू हो जाता है। वही दीपावली के समय यह भंडारा दो महीने व होली के समय डेढ़ माह में खोला जाता है।

एक करोड़ लोग हर साल आते हैं दर्शन के लिए

सांवरिया सेठ की ऐसी मान्यता है जिसके कारण देश के कोने-कोने व विदेशों से हर साल करीब एक करोड़ लोग मंदिर के दर्शन के लिए आते हैं। मंदिर के पुजारियों के अनुसार हर माह करीब साढ़े 8 से 9 लाख के बीच श्रद्धालु मंदिर में आते हैं।

Hindi News/ Chittorgarh / Rajasthan News : श्री सांवलिया सेठ मंदिर में खुली दान पेटियां, इतने करोड़ का कैश देख हर कोई रह गया दंग

ट्रेंडिंग वीडियो