आर्थिक तंगी से जूझ रहा वेस्टइंडीज का यह पूर्व तेज गेंदबाज, भारतीय क्रिकेटर आर. अश्विन ने की लोगों से मदद की अपील

भारतीय क्रिकेटर आर अश्विन ने भी भी सोशल मीडिया पर लोगों से इस क्रिकेटर की मदद करने की अपील की है। बता दें कि पैट्रिक पैटरसन का भारत के खिलाफ प्रदर्शन बेहद शानदार रहा था।

By: Mahendra Yadav

Updated: 21 May 2021, 10:53 AM IST

वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज पैट्रिक पैटरसन इस समय आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। उनकी आर्थिक स्थिति इतनी खराब है कि उनके पास खाना खाने तक के पैसे नहीं हैं। बता दें कि क्रिकेट से दूर होने के बाद पैट्रिक पैटरसन गुमनामी में खो गए थे। कुछ वर्ष एक भारतीय पत्रकार ने पैट्रिक को ढूंढ निकाला था। उन्हीं खेल पत्रकार भरत सुंदरसेन ने पैट्रिक की आर्थिक तंगी के बारे में सोशल मीडिया पर बताया। अब पैट्रिक के लिए सोशल मीडिया के जरिए पैसे इकट्ठा किया जा रहा है। भारतीय क्रिकेटर आर अश्विन ने भी भी सोशल मीडिया पर लोगों से इस क्रिकेटर की मदद करने की अपील की है। पैट्रिक पैटरसन का भारत के खिलाफ प्रदर्शन बेहद शानदार रहा था।

नहीं मिल पा रहा दो समय का भोजन भी
खेल पत्रकार सुंदरेसन ने ट्वीट कर लिखा कि पैट्रिक पेटरसन का रोजमर्रा का काम भी समय के साथ खराब हो गया है। साथ ही उन्होंने बताया कि फिलहाल पैट्रिक किराने का सामान खरीदने और दो वक्त के खाने का इंतजाम करने में भी असमर्थ हो गए हैं। ऐसे में सुंदरसेन ने पैट्रिक के लिए gofundme सेट किया है। साथ ही पत्रकार ने लिखा कि यह उनकी ओर से क्रिकेट जगत से एक गुजारिश है। वहीं टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने भी पैट्रिक पैटरसन की मदद की अपील की है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा कि महान पैट्रिक पैटरसन को रोजाना के काम के लिए मदद की जरूरत है। उनकी मदद के लिए भारतीय करंसी में कोई ऑप्शन नहीं है। यदि कोई मदद कर सकें तो प्लीज करें।

यह भी पढ़ें— पुराने विवाद पर बोले ग्रेग चैपल- सौरव गांगुली क्रिकेट में सुधार नहीं चाहते थे...

patrick_patterson.png

टीम इंडिया को एक ही सेशन में कर दिया था ढेर
पैट्रिक पैटरसन शानदार गेंदबाज रहे हैं और उन्होंने वेस्ट इंडीज के लिए 28 टेस्ट में 93 विकेट लिए। वहीं टीम इंडिया के खिलाफ पैटरसन का प्रदर्शन बेहतरीन था। दिल्ली में नवंबर 1987 में पैट्रिक ने एक ही सेशन में टीम इंडिया को समेट दिया था। एक साल बाद वापसी करते हुए पैटरसन ने पहले मैच की पहली पारी में 24 रन देकर पांच विकेट लिए थे। ऐसे में टीम इंडिया पहले सेशन में 30.5 ओवर में 75 रन बनाकर ढेर हो गई थी। पैट्रिक ने 59 वनडे मैचों में 90 विकेट लिए थे। वहीं फर्स्ट क्लास मैचों में पैटरसन ने 497 विकेट झटके थे।

यह भी पढ़ें— भारतीय क्रिकेटर भुवनेश्वर कुमार के पिता का हुआ निधन, पैतृक गांव में होगा अंतिम संस्कार

खतरनाक गेंदबाज
पैट्रिक पैटरसन की गिनती विश्व के सबसे खतरनाक गेंदबाजों में होती है। बड़े—बड़े बल्लेबाजों को उनकी गेंदों का सामना करने में डर लगता था। पैट्रिक पैटरसन की खतरनाक गेंदबाजी के कई सारे वीडियो यूट्यूब पर मौजूद हैं। कुछ लोगों का कहना है कि पैट्रिक ड्रग्स और निराशाजनक विचारों के चलते गुमनामी में चले गए। 2017 में खेल पत्रकार ने उन्हें ढूंढा और दुनिया के सामने लाए। हालांकि पिछले 20-25 सालों में पैट्रिक के साथ क्या हुआ इसकी कोई जानकारी नहीं थी।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned