श्रीसंत ने 7 साल बाद की वापसी, मैदान पर सरेआम ऐसा किया ऐसा काम, वीडियो हुआ वायरल

-एस श्रीसंत पर आईपीएल 2013 में लगा था स्पॉट फिक्सिंग का आरोप। लगा था 7 साल का बैन।
-श्रीसंत ने 7 साल बाद केरल टीम की और से सैय्यद मुस्ताक अली ट्रॉफी में क्रिकेट के मैदान पर की वापसी।
-श्रीसंत ने क्रिकेट पिच के सामने खड़े होकर हाथ जोड़कर किया सलाम। वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल।

 

By: भूप सिंह

Published: 12 Jan 2021, 11:03 PM IST

 

नई दिल्ली। केरल एक्सप्रेस के नाम से मशहूर तेज गेंदबाज श्रीसंत ने 7 साल बाद एक फिर मैदान पर वापसी की है। उन्होंने 7 साल बाद भी क्रिकेट के मैदान अपनी पुरानी झलक वापस दिखला दी। उन्होंने मैच में ना सिर्फ 4 ओवर पूरे डाले बल्कि विपक्षी टीम के ओपनर बल्लेबाज के शानदार अंदाज में विकेट भी उखाड़े फेंके। मैच के बाद उनकी एक तस्वीर सोशल मीडिया पर आई और आते ही वह वायरल हो गई। दरअसल, इस तस्वीर में श्रीसंत पिच के सामने हाथ जोड़कर खड़े हुए हैं।

विपक्षी टीम के ओपनर बल्लेबाज को किया बोल्ड
श्रीसंत ने सैय्यद मुस्ताक अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy 2021) के मैच में केरल की तरफ से खेलते हुए 7 साल बाद क्रिकेट के मैदान पर शानदार वापसी की। उन्होंने पुडुचेरी के खिलाफ मुकाबले में बासिल थंपी के बाद दूसरा ओवर फेंका। हालांकि उनके इस ओवर में 13 रन बन गए, जिसमें दो चौके शामिल थे। वहीं लेग बाई के तौर पर 4 रन चले गए। भले ही ओवर में श्रीसंत ने कोई विकेट नहीं लिया, लेकन जैसे ही वो अपना दूसरा ओवर फेंकने आए, उन्होंने दूसरी गेंद पर पुडुचेरी के ओपनर फाबिद अहमद को क्लीन बोल्ड कर दिया। श्रीसंत ने पूरे चार ओवर डाले और 29 रन देकर एक विकेट चटाकाया। अपना चौथा ओवर फेंकते के बाद श्रीसंत ने पिच के सामने खड़े हाथ जोड़ लिया। उनकी यह तस्वीर सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है।

केरल ने जीता मैच
पुडुचेरी की टीम श्रीसंत से मिले झटके के बाद उबर नहीं पाई और निर्धारित 20 ओवर में सिर्फ 138 रन ही बना पाई। इस मैच में केरल विजयी रहा।

2013 में लगा था बैन
बता दें कि श्रीसंत पर आईपीएल 2013 में राजस्थान रॉयल्स की तरफ से खेलते हुए स्पॉट फिक्सिंग मामले में बैन लगा था। इस मामले में उन्हें गिरफ्तार भी किया गया। करीब 25 दिन बाद श्रीसंत को जमानत मिली थी। इस मामले में बीसीसीआई ने उनपर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। लेकिन बाद में सुप्रीम कोर्ट ने 7 साल का बैन कर दिया था।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned