गावस्कर का खुलासा, तेज गेंदबाज थॉमसन के सामने बल्लेबाजी करने में लगता था डर

अपने दौर के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक सुनील गावस्कर का कहना है कि विव रिचर्ड्स उस समय के महान बल्लेबाज थे।

By: भूप सिंह

Updated: 10 Jun 2021, 04:22 PM IST

नई दिल्ली। क्रिकेट जगत में लिटिल मास्टर के नाम से मशहूर पूर्व भारतीय बल्लेबाज गावस्कर (sunil gavaskar) के नाम कई रिकॉर्ड्स दर्ज हैं। स्पेशली वह टेस्ट में दुनिया के बेहतरीन बल्लेबाजों में से एक रहे हैं। गावस्कर (gavaskar) भारत की ओर से 10 हजार रन बनाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज हैं और वो उस समय ऐसे पहले बल्लेबाज रहे हैं जिनके टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक रहे।

यह भी पढ़ें— 35 साल पहले टीम इंडिया ने आज ही के दिन पहली बार लॉर्ड्स में दर्ज की थी पहली जीत

जेफ थॉमसन से लगता था डर
वैसे तो सुनील गावस्कर ने अपने क्रिकेट कॅरियर में कई तेज गेंदबाजों का सामना किया और खूब रन बनाए। लेकिन हाल ही एक इंटरव्यू में सवालों का जवाब देते हुए उस दौर के बेहतरीन गेंदबाजों और बल्लेबाजों लेकर बातचीत की। गावस्कर ने बताया कि उस दौर के आस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जेफ थॉमसन के सामने बैटिंग करने में मुझे बहुत डर लगता था। उनका कहना है कि थॉमसन उस समय के सबसे तेज गेंदबाज थे।

एंडी के पास थी किसी को भी आउट करने की क्षमता
गावस्कर का कहना है कि जेफ थॉमसन के अलावा एंडी रोबर्ट्स, मैक्लम मार्शल और रिचर्ड हेडली और इमरान खान उस दौर के अच्छे गेंदबाज रहे हैं। उस दौर में एंडी के पास किसी को भी आउट करने की क्षमता थी। वो ऐसे गेंदबाज थे जिनके खिलाफ आपको सबसे ज्यादा रहने की जरूरत होती थी।

यह भी पढ़ें—क्रिकेट छोड़ने के बाद आर्थिक तंगी से गुजर रहा यह ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर, कर रहा कारपेंटर का काम

विव रिचर्ड्स थे उस दौर के खतरनाक बल्लेबाज
गावस्कर से जब उस दौर के बेहतरीन बल्लेबाजों को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने विव रिचर्ड्स का नाम लिया जो हमेशा विपक्षी टीम पर हावी रहते थे। उन्होंने कहा कि वो उस दौर के बेहतरीन बल्लेबाज रहे हैं। वो मैच छीन लेते थे इसलिए वो विपक्षी टीम के सबसे बेस्ट बल्लेबाज वहीं लगते थे।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned