जम्मू-कश्मीरः किश्तवाड़ में मिली दहशत की गुफा, बड़ी घटना को अंजाम देकर भाग जाते थे आतंकी

जम्मू-कश्मीरः किश्तवाड़ में मिली दहशत की गुफा, बड़ी घटना को अंजाम देकर भाग जाते थे आतंकी

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: Jun, 10 2019 04:31:38 PM (IST) क्राइम

  • जम्मू-कश्मीर में सेना को बड़ा कामयाबी
  • किश्तवाड़ में मिली आतंकियों की गुफा
  • गोला-बारूद के साथ जरूरत की हर चीज थी मौजूद

नई दिल्ली। घाटी में आंतकवाद के खिलाफ जंग लड़ रही सेना को बड़ी सफलता हाथ लगी है। जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में सेना को आंतकियों की एक गुफा मिली है। इस गुफा में दहशतगर्द मौत का सामान सहेज कर रखते थे। यही नहीं जैसे इन आतंकियों को जवानों के आने की या फिर दबिश डालने की सूचना मिलती, वो इस खुफिया गुफा के जरिये भाग निकलते थे। सेना ने इस गुफा को अब अपने कब्जे में लिया है। वहीं इन इलाकों में सेना और सुरक्षा बलों ने अपनो ऑपरेशन को भी थोड़ा बदला है।

मौत के साथ खाने-पीने का सामान
आतंकियों ने सेना से बचने के लिए एक खुफिया गुफा बनाई। इस गुफा को किश्तवाड़ के केशवान क्षेत्र में सेना की 26 राष्ट्रीय राइफल और पुलिस के विशेष दस्ते ने गुप्त सूचना के बाद ढूंढ निकाला। सेना ने फिलहाल इस गुफा का ध्वस्त कर दिया है। लेकिन इससे पहले इस गुफा में गोला-बारूद समेत मौत का हर वो सामान मौजूद था, जिससे इलाके में दहशत फैलाई जा सके। यही नहीं इस गुफा में छिपे रहने के लिए आतंकियों ने खाने-पीने की चीजों का भी बखूबी इंतजाम कर रखा था।

sena

गुफा में था घर जैसा माहौल
इस दहशत की गुफा को आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने बनाया था। सेना को इस बात की सूचना मिली थी कि जंगल में घिरे केशवान में इस आतंकी संगठन के जमला दिन ने अपना ठिकाना बनाया हुआ है। जमाल यहीं से संगठन के मंसूबों को अंजाम देने में जुटा है। सेना ने सूचना के आधार पर इलाके में सर्च ऑपरेशन शुरू किया। इस क्षेत्र में जैसे ही पौधों को हटाना शुरू किया तो सेना को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। इस खुफिया गुफा का दरवाजा मिला। जब सेना के जवान अंदर पहुंचे यहां एक घर जैसा माहौल देखने को मिला। जहां जरूरत की हर चीज मौजूद थी। इसके बाद पूरे ठिकाने को तबाह किया गया।

 

terrorist

आतंकियों की तलाश में जुटी सेना
दहशत की इस गुफा से फिलहाल आतंकी भाग गए हैं। सेना को यकीन है कि यहां जमाल और उसके साथी ज्यादा दूर नहीं गए होंगे। यही वजह है कि इन आतंकियों को तलाश में अब सेना जुट गई है।

 

search operation

आतंक मुक्त होगा किश्तवाड़
चिनाब घाटी का किश्तवाड़ इलाका जल्द आतंक मुक्त होगा। सेना ने इसके लिए अपनी नई रणनीति पर काम शुरू कर दिया है। इसके तहत इलाके में सक्रिय सात आतंकियों के खात्मे के लिए पुलिस अपने पुराने योद्धाओं को मैदान में उतारने जा रही है। इसमें पहला नाम इंस्पेक्टर सज्जाद खान का है जिन्होंने आतंक के वक्त में अच्छा काम किया है।


किश्तवाड़ में इन 7 आतंकियों की दहशत
किश्तवाड़ में दो साल के अंदर सात आतंकियों ने जमकर उत्पात मचाया है। इन सात खूंखार आतंकियों की वजह से इलाके मेंदहशत का माहौल है। इन आतंकियों में मोहम्मद अमीन उर्फ जहांगीर सरूरी, रियाज अहमद उर्फ हजारी, तालिब हुसैन, ओसामा बिन जावेद उर्फ ओसामा, मुदसिर हुसैन, जमाल दीन और जुनैद अकरम शामिल हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned