तेलंगाना: आय से अधिक संपत्ति के आरोपों में अतिरिक्त जिला जज गिरफ्तार, करोड़ों की संपत्ति का हुआ खुलासा

तेलंगाना के भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ( ACB) ने 14वें अतिरिक्त जिला न्यायाधीश के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के आरोपों पर मामला दर्ज किया था।

By: Saif Ur Rehman

Published: 15 Nov 2018, 02:32 PM IST

हैदराबाद। अतिरिक्त जिला जज से जुड़ा एक भ्रष्टाचार का मामला सामने आया है। आरोपी जज वैद्य वार प्रसाद को गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें 14 दिन की रिमांड पर चंचलगुडा केंद्री कारागार भेज दिया गया है। अब 28 नवंबर तक वह रिमांड पर रहेंगे। बता दें कि तेलंगाना के भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ( ACB) ने 14वें अतिरिक्त जिला न्यायाधीश के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति के आरोपों पर मामला दर्ज किया था।

यह भी पढ़ें:- अमरीका: मेलानिया ट्रंप से पंगा लेना पड़ गया महंगा, उप राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार बर्खास्त

क्या है मामला?
तेलंगाना और आंध्र प्रदेश राज्यों के लिए हैदराबाद उच्च न्यायालय को न्यायाधीश वैद्य वार प्रसाद के खिलाफ शिकायत मिली थी। हाई कोर्ट ने आंतरिक जांच की। इसके बाद अदालत ने एसीबी को कानून के अनुसार न्यायाधीश के खिलाफ मामला दर्ज करने की इजाजत दे दी। तेलंगाना के भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो ने मामला दर्ज किया हैं।

यह भी पढ़ें- दिल्ली: अनियंत्रित एसयूवी कार ने 9 लोगों को कुचला, एक लड़की की मौत

जांच में मिली करोड़ों की संपत्ति

एसीबी ने बुधवार को उनके परिसरों पर छापेमारी में तीन करोड़ रुपये की संपत्ति का खुलासा किया। एडीजे और उनके रिश्तेदारों के तेलंगाना और महाराष्ट्र स्थित ठिकानों पर छापेमारी की। हैदराबाद में चार स्थानों, श्रीसिल्ला जिले में तीन स्थानों और महाराष्ट्र में दो स्थानों पर छापेमारी की गई। एसीबी अधिकारी ने जानकारी दी कि आरोपी न्यायाधीश ने वैध आय स्रोत के खिलाफ नौ संपत्ति प्राप्त कर रखी थीं। जिसमें एक फ्लैट कंडापुर और तीन दिलसुखनगर का फ्लैट शामिल था। जांच में पता चला कि वह परिवार के साथ कई विदेशी दौरे पर भी जा चुके हैं। छानबीन के दौरान संपत्तियों और भारी व्यय से संबंधित कई दस्तावेजों का पता चला"। अधिनियम भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत मामला दर्ज कर लिया गया है। जांच जारी है।

यह भी पढ़ें - कठुआ गैंग रेप: अब केस नहीं लड़ेंगी वकील दीपिका सिंह, पीड़िता के परिजन ने बताई ये वजह



Saif Ur Rehman
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned