सिग्‍नेचर ब्रिज: मनोज तिवारी ने FIR में सीएम केजरीवाल का नाम दर्ज कराया, अमानतुल्‍लाह मुख्‍य आरोपी

हस्ताक्षर ब्रिज उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान धमकाने और मारपीट को लेकर भाजपा सांसद मनोज तिवारी की शिकायत पर दिल्‍ली पुलिस ने एफआईआर में सीएम केजरीवाल का नाम भी शामिल कर लिया है।

By: Dhirendra

Updated: 15 Nov 2018, 08:49 AM IST

नई दिल्‍ली। सिग्‍नेचर ब्रिज विवाद अब और गहराता जा रहा है। इस ब्रिज के उद्धाटन कार्यक्रम के दौरान धक्‍का देने और जान से मारने की धमकी देने के आरोप में दिल्‍ली भाजपा अध्‍यक्ष मनोज तिवारी ने आप विधायक अमानतुल्‍लाह के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। अब इस FIR दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल का नाम भी दिल्‍ली पुलिस ने दर्ज कर लिया है। पुलिस की इस कार्रवाई से अब सीएम केजरीवाल भी इस कानूनी विवाद में फंस गए हैं। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को चार नवंबर को हस्ताक्षर ब्रिज के उद्घाटन के दौरान भाजपा के सांसद मनोज तिवारी द्वारा दर्ज एफआईआर में आरोपी के रूप में नामित किया गया है। दिल्ली पुलिस ने सांसद मनोज तिवारी की शिकायत पर आईपीसी की मारपीट करना, जान से मारने की धमकी देना, चोट पहुंचाना, आपराधिक षड़यंत्र रचना, रास्ता रोकना, कॉमन इंन्टेशन जैसी संगीन धाराओं में एफआईआर की है।

मंदिर मुद्दे पर दिग्विजय सिंह का मोदी पर हमला, राम को विवादों में घसीटना सरकार की बड़ी मंशा

मामले की जांच शुरू
दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच इस मामले की जांच शुरू कर चुकी है। क्राइम ब्रांच जल्द ही अमानुल्लाह से पूछताछ कर सकती है। साथ ही अब पूछताछ के दायरे में सीएम केजरीवाल भी आ गए हैं। हालांकि ये बात अभी स्‍पष्‍ट नहीं है कि क्राइम ब्रांच इस मामले में सीएम केजरीवाल से कब पूछताछ करेगी। केजरीवाल के खिलाफ एफआईआर दर्ज किए जाने के बाद आप नेता संजय सिंह ने ट्वीट कर कहा कि दिल्ली पुलिस ने अपना जमीर बेंच दिया है। भाजपाई नेताओं से जूते खाने के बाद भी उनके सामने घुटने टेंकने वाली दिल्ली पुलिस को कोर्ट में बताना होगा @KhanAmanatullah पर ऐसी संगीन धाराएं किसके कहने पर लगाई गई? पुलिस अधिकारी को पीटने वाले मनोज तिवारी पर FIR क्यों नहीं?

कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं थे तिवारी
आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में बने सिग्नेचर ब्रिज के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान खुद पर हमला करने के लिए उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा सीट से सांसद और दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आप विधायक अमानतुल्लाह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है। इस कार्यक्रम में दिल्‍ली सरकार ने स्‍थानीय सांसद होने के बावजूद मनोज तिवारी को नहीं बुलाया था। इस ब्रिज पर निर्माण का काम पूर्व मुख्‍यमंत्री शीला दीक्षित ने शुरू कराया था। उन्‍हीं कार्यकाल में अधिकांश काम हो चुका था। इसके बावजूद शीला दीक्षित को भी दिल्‍ली सरकार ने इस कार्यक्रम में आमंत्रित करना उचित नहीं समझा।

Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned