scriptदमोह में रेत की अवैध व ओवरलोड परिवहन कर रही ठेका कंपनी | Patrika News
दमोह

दमोह में रेत की अवैध व ओवरलोड परिवहन कर रही ठेका कंपनी

दमोह में रेत की अवैध व ओवरलोड परिवहन कर रही ठेका कंपनी प्रतिबंध के बाद भी ठेका कंपनी रोज कटनी से दमोह करा रही ओवरलोड रेत परिवहन, दो जब्त – शहर में आसानी से उपलब्ध हो रही रेत, 100 रुपए फिर भाव हुए तेज, इधर खनिज ने ही एक दिनी कार्रवाई

दमोहJul 06, 2024 / 07:39 pm

Samved Jain

Ret

Ret

दमोह. 30 जून को रेत के खनन, परिवहन और भंडारण पर रोक लगने के बाद भी दमोह में रेत का अवैध कारोबार चल रहा है। खुलेआम जहां शहर में 40 से अधिक जगहों पर रेत के अवैध भंडारण कर रेत का विक्रय जारी है, वहीं कटनी स्टॉक से रोजाना रेत का ओवरलोडिंग परिवहन दमोह हो रहा है। डंपरों में रोजाना आवेरलोडिंग जारी है। इसी तौल पर रेत का विक्रय भी किया जा रहा है। जिसके प्रमाण होने के बाद भी खनिज और पुलिस कार्रवाई में पीछे है।
इधर, खनिज विभाग ने शुक्रवार को कार्रवाई करते हुए दो डंपर और दो ट्रैक्टर ट्रॉली और अवैध रेत भंडार जब्त करते हुए कार्रवाई की है। हालांकि, इस एक दिनी कार्रवाई से रेत का अवैध कारोबार रुकने वाला नहीं है। खास बात यह है कि अधिकारियों की आंखों के सामने हो रहे इस अवैध खेल से जहां शासन का राजस्व का चूना लग रहा है, वहीं दमोह में आमजन जो बारिश में मकान बनाने इंतजार करते हैं, लुटे जा रहे हैं। हाल में रेत कारोबारियों ने 100 रुपए प्रति टन रेत के भाव फिर बढ़ा दिए हैं, इस तरह फुटकर रेत 1600 रुपए टन तक मिलने लगी हैं।

इसीलिए कटनी के साथ दमोह का भी लिया ठेका

ठेका कंपनी धनलक्ष्मी द्वारा रेत का यह पूरा खेल खेला जा रहा है। कटनी से रेत निकालने के बाद दमोह और सागर में इसका अवैध व्यापार सबसे ज्यादा फायदे का सौदा है। इसीलिए, धनलक्ष्मी कंपनी ने दमोह की रेत खदानों का भी ठेका लिया गया। जिससे उसे कोई भी फायदा नहीं हो रहा है और न ही इन खदानों पर धनलक्ष्मी ने काम शुरू किया। कुछ खदानों को शुरू जरूर कराया गया, लेकिन वह सिर्फ औपचारिकताओं के लिए और पेटी पर पलटने के लिए काम हुआ। मुख्य खेल कटनी और नरसिंहपुर की रेत दमोह और सागर में खपाने के लिए यह ठेका लिया गया। दमोह में यदि धनलक्ष्मी के अलावा अन्य कोई ठेका कंपनी होती तो ऑफ सीजन में वह कटनी, नरसिंहपुर की रेत को दमोह में नहीं आने देती। जैसे कि छतरपुर, पन्ना से आने वाली रेत इन दिनों में बंद है या चोरी, छिपे ही आ रही है।

नहीं थम रहा ओवरलोडिंग का खेल

कटनी स्टॉक से दमोह आ रहे डंपरों में क्षमता से डेढ़ गुना तक रेत भरकर लाई जा रही हैं। प्रतिबंध के पहले और बाद भी ओवरलोडिंग का खेल लगातार जारी है। जिसकी पड़ताल करने पर स्पष्ट नजर आता है कि कैसे रेत के कारोबारी ओवरलोडिंग करके अधिक मुनाफा कमा रहे है और शासन व जनता को चूना लगाने में लगे हुए हैं। धनलक्ष्मी कंपनी द्वारा कटनी से दमोह के बीच डंपर संचालकों को सहयोग किया जा रहा है। खास बात है कि इस बड़े अवैध कारोबार की ओर कलेक्टर, खनिज और पुलिस भी गौर नहीं कर रही है।

दो ओवरलोड डंपर, दो ट्रॉली भंडारण सहित जब्त

पत्रिका के अवैध रेत के कारोबार के विरुद्ध चल रहे अभियान को देखते हुए कलेक्टर के निर्देश पर खनिज अधिकारी ने शुक्रवार को कुम्हारी और दमोह में अवैध रेत परिवहन, भंडारण और ओवरलोडिंग के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए प्रकरण दर्ज किए है। कलेक्टर सुधीर कोचर ने बताया कि ग्राम कुम्हारी में खनिज का अवैध परिवहन के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए 2 डंपर अभिवहन पारपत्र में दर्ज मात्रा से अधिक रेत का परिवहन करते हुए जप्त कर थाना कुम्हारी में रखे गए हैं। ओवरलोड मिले इन डंपरों के संचालकों के विरुद्ध प्रकरण दर्ज किए गए हैं। इन डंपरों के की क्षमता से अधिक रेत होने पर 15 गुना तक अधिक जुर्माना किया जाएगा। डंपर के नंबर क्या है और कहां से लाए गए थे, इसकी जानकारी खनिज अधिकारी मेजर सिंह जामरा के कॉल रिसीव नहीं करने के कारण नहीं लग सकी है।
बताया गया है कि खनिज विभाग ने दमोह शहर में भी रेत का अवैध भंडारण पर कार्रवाई करते हुए 2 प्रकरण दर्ज किए और मौके से 2 ट्रैक्टर ट्रॉली को जप्त कर थाना कोतवाली में रखवाया गया है। साथ ही दोनों के विरुद्ध अवैध परिवहनकर्ता व भंडारणकर्ता के विरुद्ध प्रकरण मध्य प्रदेश खनिज नियम के अंतर्गत पंजीबद्ध किया गया है।

Hindi News/ Damoh / दमोह में रेत की अवैध व ओवरलोड परिवहन कर रही ठेका कंपनी

ट्रेंडिंग वीडियो