Video: सरकार की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर इस खूंखार नक्सली ने किया सरेंडर

दंतेवाड़ा पुलिस ने दिया 10 हजार की प्रोत्साहन राशि, SP डॉ अभिषेक पल्लव के समक्ष किया सरेंडर।

By: Bhupesh Tripathi

Updated: 27 Nov 2019, 05:30 PM IST

दन्तेवाड़ा। छत्तीसगढ़ में नक्सलवाद अंतिम पर है। आए दिन इनामी नक्सलियों का आत्मसमर्पण अब नक्सलवाद को जड़ से कमजोर कर रहा है। पुलिस द्वारा चलाए जा रहे नक्सल विरोधी अभियान का नतीजा है कि जवानों को एक के बाद एक बड़ी सफलता मिल रही है। शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर 1 लाख के इनामी जन मिलिशिया कमाण्डर ने आत्मसमर्पण किया है। जनमिलिशिया कमाण्डर हड़मा गुमियापाल बण्डीपारा थाना किरन्दुल क्षेत्र का रहने वाला बताया जा रहा है।

जनमिलिशिया कमाण्डर हड़मा ने छत्तीसगढ़ शासन के पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर एवं नक्सली जीवन शैली तथा उनके खोखली विचारधारा से तंग आकर, समाज के मुख्य धारा में जुड़ने के उद्देश्य से पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा डॉ अभिषेक पल्लव के समक्ष आत्मसमर्पण किया गया। नक्सली कमाण्डर गांव में रहकर बाल संघम सदस्यों को भर्ती करने तथा बड़े केडर के नक्सली के आने पर आस-पास के गावों वालों को एकत्रित करना, भोजन की व्यवस्था करना, रोड़ खोदना, पुलिस की रेकी करने तथा गावं में नक्सली विचार धारा का प्रचार प्रसार करता था।

सरकार की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर इस खूंखार नक्सली ने किया सरेंडर

आत्मसमर्पण करने वाले जनमिलिशिया कमाण्डर हड़मा गुमियापाल बण्डीपारा थाना किरन्दुल क्षेत्र का रहने वाला बताया जा रहा है। जिसे समर्पण करने पर 10 हजार रुपये की प्रोत्साहन राशि भी दी गयी है। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक दन्तेवाड़ा डॉ अभिषेक पल्लव समेत कई अधिकारी और कर्मचारी मौजूद रहे।

Click & Read More chhattisgarh news .

मुख्यमंत्री ने धान समर्थन मूल्य सहित झारखंड विधानसभा चुनाव पर दिया बड़ा बयान, खोला चुनावी मुद्दे का राज

कारोबारियों के 26 ठिकानों पर आयकर विभाग ने मारा छापा, करोड़ों का घोटाला हुआ उजागर

महाराष्ट्र के राजनीतिक दांव पेंच पर मुख्यमंत्री का बड़ा बयान कहा - सत्ता में बैठे लोग पद का कर रहे दुरूपयोग

Video: श्मशान घाट से आधी रात आई ॐ हौं काली महाकाली किलि किलि फट्ट स्वाहा की आवाज, जब लोगों ने जाकर देखा तो...

गर्लफ्रेंड को वाटरफॉल घुमाने के बहाने प्रेमी ने दिया इस दर्दनाक घटना को अंजाम

Show More
Bhupesh Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned