scriptआखिर क्यों जातीय विद्वेष में सुलग जा रहा है देवरिया…फतेहपुर गांव के बाद अब बिट्ठलपुर | Patrika News
देवरिया

आखिर क्यों जातीय विद्वेष में सुलग जा रहा है देवरिया…फतेहपुर गांव के बाद अब बिट्ठलपुर

देवरिया जिले के रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के बिट्ठलपुर गांव में शनिवार को कैबिनेट मंत्री संजय निषाद की मौजूदगी में जमकर बवाल हुआ। दरअसल एक सप्ताह पूर्व गांव के एक युवक दीपू निषाद का रहस्यमय परिस्थितियों में शव मिला था। मृतक के परिजनों ने गांव के प्रधान समेत चार लोगों के खिलाफ दीपू की हत्या करने की तहरीर दी थी। शनिवार को कैबिनेट मंत्री डॉक्टर संजय निषाद मृतक परिवार के घर हाल-चाल पूछने पहुंचे। मंत्री के गांव में पहुंचते ही पीड़ित पक्ष के युवक जोश में आ गए और भारी संख्या में आरोपी के घर पहुंच गए।

देवरियाJun 23, 2024 / 11:06 pm

anoop shukla

देवरिया के रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के बिट्ठलपुर गांव में शनिवार को हत्यारोपी ग्राम प्रधान के घर हमला करने के मामले में पुलिस ने 19 नामजद समेत 69 के खिलाफ बलवा, मारपीट, तोड़फोड़ और धमकी देने समेत गंभीर धाराओं में केस दर्ज किया है।
पुलिस ने ग्राम प्रधान चंद्रभान सिंह की पत्नी शालिनी सिंह की तहरीर पर उक्त कार्रवाई की है। पुलिस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। घटना के बाद से गांव में तनाव को देखते हुए बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधि मण्डल भी रविवार को गांव में पहुंचने वाला है। इसे देखते हुए पुलिस विशेष सतकर्ता बरत रही है।
बता दें की पिछले वर्ष अक्टूबर माह में देवरिया जिले में रुद्रपुर कोतवाली के फतेहपुर के लेहड़ा टोला पर सोमवार 2 अक्टूबर की सुबह भूमि के विवाद में एक पूर्व जिला पंचायत सदस्य प्रेम यादव की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई, उसके प्रतिशोध में उमड़ी भीड़ आरोपी पक्ष सत्यप्रकाश दुबे के दरवाजे पर पहुंच गई। धारदार हथियार और असलहों से लैस लोगों ने पति-पत्नी, दो बेटी, एक बेटे को मार डाला। जबकि एक बेटा गंभीर रुप से घायल हो गया था।
इस बार रुद्रपुर कोतवाली क्षेत्र के बिट्ठलापुर गांव के रहने वाले दीपू निषाद (उम्र 25 वर्ष) की 14 जून की रात हत्या कर दी गई थी। उसका शव 15 जून की सुबह गांव के निर्माणाधीन अस्पताल के पास मिला था। मामले में उसकी मां रमावती देवी की तहरीर पर पुलिस ने गांव के प्रधान चंद्रभान सिंह और उसके भाई उदयभान, बृजभान और सूर्यभान सिंह के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया है। मामले में पुलिस ने अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं की है। घटना की जानकारी होने पर शनिवार को निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री डॉ संजय निषाद पीड़ित परिवार से मिलने बिट्ठलपुर गांव पहुंचे। उन्होंने पीड़ितों से मिलकर ढांढ़स बधाया। मृत युवक की मां ने घटना में लापरवाही बरते जाने का पुलिस पर आरोप लगाया।
इस पर कैबिनेट मंत्री पुलिस प्रशासन पर काफी नाराज हुए और उन्होंने मौके पर मौजूद एसडीएम रत्नेश तिवारी और सीओ अंशुमान श्रीवास्तव को निर्देश दिया कि घटना में हत्या का केस दर्ज करते हुए आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर जेल भेजा जाए। उसी दौरान वहां मौजूद भीड़ उग्र हो गई और उसने घटना के आरोपी ग्राम प्रधान चंद्रभान सिंह के घर पर लाठी डंडा लेकर हमला बोल दिया। उग्र भीड़ ने उसके घर के दरवाजे पर जमकर तोड़फोड़ की। वहां मौजूद बाइक आदि भी तोड़ डाला। बवाल बढ़ता देख कैबिनेट मंत्री संजय निषाद मौके से चले गए थे। घटना के बाद सीओ अंशुमान श्रीवास्तव के नेतृत्व में पुलिस बल ने मोर्चा संभाला और तोड़फोड़ कर रही भीड़ को खदेड़ा।
इनके खिलाफ दर्ज हुआ है केस, यह है आरोप

इस मामले में ग्राम प्रधान की पत्नी शालिनी सिंह की तहरीर पर बिट्ठलपुर के रहने वाले भीष्म निषाद, चंदन निषाद, कौशल निषाद, संतोष निषाद, सम्भा देवी, राजाराम, संजय निषाद, भगवानपुर निवासी सूरज निषाद, करन कुमार, केदारनाथ निषाद, रमाकांत, गुड्डी देवी, सन्नी, राजेंद्र निषाद, अवस्थी गांव के रहने वाले धर्मेद्र निषाद, बर्दगोनिया के सुनील निषाद, विजय निषाद, सिहोरचक के अक्षय कुमार, कृतपुरा के महेंद्र निषाद के खिलाफ नामजद और 60 अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज हुआ है।
पुलिस ने आारोपियों के खिलाफ धारा 147, 323, 504, 506, 427 व 352 आईपीसी के तहत केस दर्ज किया है। दी गई तहरीर में ग्राम प्रधान की पत्नी आरोप लगाया है कि शनिवार को करीब पौने बारह बजे उनके घर पर अचानक लाठी डंडा से लोगों ने हमला कर दिया। इस दौरान बरामदे में खड़ी बाइक और फर्नीचर को तोड़फोड़ दिया। भीड़ ने गाली गलौज करते हुए उनके साथ मारपीट की। इस दौरान बचाने आए गोरखपुर के सहजनवा के रहने वाले भांजे शिवा सिंह को मारपीट कर गंभीर रूप से घायल कर दिया।

Hindi News/ Deoria / आखिर क्यों जातीय विद्वेष में सुलग जा रहा है देवरिया…फतेहपुर गांव के बाद अब बिट्ठलपुर

ट्रेंडिंग वीडियो