यह शक्तिशाली मंत्र करता है असाध्य बीमारियों को रात भर में दूर

यह शक्तिशाली मंत्र करता है असाध्य बीमारियों को रात भर में दूर

By: Shyam

Published: 26 Jun 2018, 05:30 PM IST

विद्वान जन कहते हैं कि जिसने जीवन में आने वाली सुख और दुःख की परिस्थितियों का सामना करना सही ढ़ग से सीख लिया उसका मनुष्य जीवन ही सार्थक माना जाता है, और ऐसे व्यक्ति जो दुःख आने पर भी निराश नहीं हुए वे ही दुः ख के समाप्त होते ही सुख की परम अनुभूति का आंनद भी ले पाते है ।

 

बीमारी भी जीवन में एक अभिशाप के रूप में आती है और घर में दुखों का पहाड़ लाकर खड़ा कर देती है, बीमार व्यक्ति स्वयं तो भयंकर कष्ट सहता है पर उसके परिवारजन भी मानसिक प्रताड़ना के साथ आर्थिक रूप से भी कमजोर होने लगता है, अच्छे स्वास्थ्य के अभाव में धनवान व्यक्ति भी खुद को असहाय महसूस करता है, अगर डॉक्टरों के हर प्रयास असफल हो गये हो तो, एक बार तंत्र शास्त्र के इस महाशक्तिशाली मंत्र का प्रयोग एक बार अवश्य करें, यह मंत्र केवल एक रात में अपना प्रभाव दिखाना आरम्भ कर देता हैं ।

 

तंत्र के मंत्रों में बड़ी शक्ति होती है, कहा जाता है कि मंत्र स्वयं देवी देवताओं की शक्ति के प्रतीक होते है, अगर किसी विषम परिस्थिति में कुछ शक्तिशाली मंत्रों का प्रयोग किया जाता है तो देवता शीघ्र प्रसन्न होकर सारे कष्टों को हर लेते हैं । तंत्र शास्त्र में भिन्न-भिन्न कार्यों को सिद्ध करने हेतु अलग-अलग मन्त्रों के बारे में बताया गया है, ऐसा ही एक महाशक्तिशाली मंत्र तंत्राधिपति भगवान शिव का मंत्र है जिसे ऐसा बीमार व्यक्ति जिस के ऊपर किसी भी दवाई का असर नहीं हो रहा हो और वह मरनासन्न अवस्था में हो तो, इस मंत्र को पहले 1008 बार जप करके सिद्ध कर लिया जाए ।

 

सिद्ध होने के बाद इस महाशक्तिशाली मंत्र को बीमार व्यक्ति के पास बैठकर उनको खिलाई जाने वाली दवाई को दाहिने हाथ में लेकर केवल 3 बार अभिमंत्रित कर उक्त दवाई को मरीज को तुरंत खाने को दे दें । ऐसा करने पर असाध्य से असाध्य रोग भी सिर्फ रात भर में कम होने लगता हैं और अति शीघ्र पूरी तरह ठीक हो जाता है ।

 

महाशक्तिशाली मंत्र

ऊँ याते रुद्र शिवातनुः शिवा व्विश्स्वाहा भेषजी
शिवा रुतस्य भेषजी तयानो मृड जीवसे ।।

 

इस प्रकार दवाई को अभिमंत्रित करें- दवाई को हाथ में लेकर भगवान शिव का ध्यान करते हुए उपरोक्त मंत्र का उच्चारण करें और हाथ में रखी दवाई पर फूंक मारे, इस प्रकार 3 बार मंत्र का उच्चारण और 3 बार ही दवाई पर फूंक मारे । इस अभिमंत्रित दवाई को बीमार व्यक्ति को तुरंत खीला दें । परिणाम कुछ ही घंटों में दिखाई देने लगेगा ।

tantra sadhna
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned