घर के मंदिर में कभी भूलकर भी ना करें ये तीन गलतियां, वरना बर्बाद हो जाएंगी जिंदगी

हर घर में मंदिर जरूर होता है, चाहे वो फिर किसी भी देवता का हो। सभी मन से पूजा-पाठ भी करते हैं, लेकिन कुछ अनजाने में ऐसा कुछ कर बैठते हैं जिससे घर में नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है.....

By: भूप सिंह

Published: 06 Nov 2020, 11:09 PM IST

हर घर में मंदिर जरूर होता है, चाहे वो फिर किसी भी देवता का हो। सभी मन से पूजा-पाठ भी करते हैं, लेकिन कुछ अनजाने में ऐसा कुछ कर बैठते हैं जिससे घर में नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है। इसलिए अगर आपके घर में मंदिर है तो आपको कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। कभी-कभी ऐसा होता है कि आरती करने वाले दीपक पर धूल की परत जमा हो जाती है। लेकिन होने देना नकारात्मक ऊर्जा को निमंत्रण देना जैसा है। इसलिए दीपक हमेशा साफ-सुधरे ही होने चाहिए।

ये एक पत्ता बदल देगा आपकी किस्मत, शनिवार को करें ये उपाय

हमेशा मंदिर को धूल से बचाने के लिए पीले या लाल वस्त्र का प्रयोग करें। काले या ब्राउन या सफेद कपड़ों का प्रयोग वर्जित है। घर में मंदिर में कभी भी टूटी हुई मूर्ति नहीं रखनी चाहिए। समय-समय पर मूर्तियों को साफ रखना चाहिए।

शास्त्रों के अनुसार घर में कभी भी खंडित मूर्तिया नही रखनी चाहिेए, क्योंकि इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का स्त्रोत खुल जाता है। जो अशुभ माना जाता है। इसलिए घर में खंडित मूर्ति की पूजा वर्जित है।

अगर आप भी इन 5 राशि वाले व्यक्तियों में से हैं तो सुबह होते ही कमल के फूल की तरह खिल उठेगी आपकी किस्मत

मंदिर में पूजन करते समय यह बात ध्यान रखा जाना चाहिए कि पूजा के बीच में दीपक नही बुझना चाहिए। ऐसा होने पर पूजा का पूर्ण फल प्राप्त नहीं हो पाता है।

हमेशा देवी-देवताओं को फूल और पत्तियां अर्पित करने से पहले एक बार साफ पानी से जरुर धो लेना चाहिए।

बहुत सरल है धनवान बनना, मन की शक्ति से होगी हर कामना पूरी, जानें 5 गुप्त रहस्य

तुलसी के पत्तों को 11 दिनों तक बासी नहीं माना जाता है। इसलिए इसकी पत्तियों पर हर रोज जल छिड़कर आप भगवान को अर्पित कर सकते है।

Show More
भूप सिंह
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned